आस्था की डुबकी हेमकुंड साहिब Hemkund Uttrakhand. #bestoftravel #travelguide

Tripoto
2nd Sep 2018
Photo of आस्था की डुबकी हेमकुंड साहिब Hemkund Uttrakhand. #bestoftravel #travelguide by Afsarul haq
Day 1
Photo of Hemkund, Uttarakhand, India by Afsarul haq

उत्तराखंड में स्थित श्री हेमकुंड साहिब सिखों और हिंदुओं का महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है। समुद्रतल से करीब 4329 मीटर की ऊंचाई पर बसा श्री हेमकुंड साहिब लोकपाल सरोवर के किनारे पर सुशोभित है। चारों और पहाड़ियों से घिरे और प्रकृति के मनोहर दृश्यों के समेटे हुए यह स्थान सहज ही यहां आने वालों को आकर्षित करता है। घंघरिया से ट्रैकिंग करते यहां पहुंचा जा सकता है, जो काफी रोमांचक और मज़ेदार अनुभव प्रदान करता है। वादियों के बीच इस प्रसिद्द सिख गुरुद्वारे में भक्तों का तांता लगा रहता है। यहां पर भगवान राम के छोटे भाई लक्मण का मंदिर भी है, इसलिए यह स्थान हिंदुओं के लिए भी उतना पूजनीय माना गया है। हेमकुंड के किनारे पर बना यह मंदिर विश्वभर में विख्यात है, क्योंकि भगवान लक्मण के मंदिर बहुत कम है।

बर्फीली पहाड़ियों के बीच अनोखा रोमांच।

Photo of Hemkund, Uttarakhand, India by Afsarul haq
Day 2

हेमकुंड साहिब चारो तरफ से बर्फीली पहाड़ियों से घिरा है। पहाड़ों के बीच बहती नदी के स्वछ जल में वहां की पूरी प्रकर्ति की निर्मल छवि दिखाई देती है। सफ़ेद बर्फ की चादर से ढका हाथी पर्वत और सप्तर्षि चोटियां हमेशा हेमकुंड झील को भरा रखती है। पहाड़ों से निकल कर झील में मिलने वाली धारा हिमगंगा नाम से जानी जाती है। पवित्र ग्रन्थ साहिब में कहा गया है कि सिखों के दसवें गुरु श्री गोविंद सिंह जी यहीं हेमकुंड के किनारे ध्यानमग्न हुए थे। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा उसी जगह पर स्थित है जहां श्री गुरु गोविंद सिंह जी ने तपस्या की थी। इसी मान्यता के चलते हर साल हज़ारों की तादाद में भक्त यहां दर्शन करने आते है।

Photo of आस्था की डुबकी हेमकुंड साहिब Hemkund Uttrakhand. #bestoftravel #travelguide by Afsarul haq

हेमकुंड का ज़िक्र रामायण में भी मिलता है। मान्यता है कि जब राम - रावण के युद्ध मे लक्मण मेघनाद के हाथों ज़ख्मी हो गए थे, तो हेमकुंड के किनारे पर ही उन्होंने साधना कर अपने स्वास्थ्य को पुनः ठीक किया था। लक्मण मंदिर उसी स्थान पर स्थित है, जहां उन्होने साधना व अध्यात्म के जरिये अपने स्वास्थ्य को पुनः प्राप्त किया था।

आसपास के घूमने लायक स्थल.......................

Day 3
Photo of Valley of Flowers National Park, Uttarakhand, India by Afsarul haq

वैली ऑफ फ्लावर्स घंगारिया से चार किलोमीटर की ट्रैकिंग पर स्थित है। वैली ऑफ फ्लावर्स में विभिन्न प्रजातियों के फूलों को देखा जा सकता है। वर्ष 1982 में इसे नेशनल पार्क घोषित किया गया था, जो आज वर्ल्ड हेरिटेज साइट भी है। आध्यात्मिकता और अछूते सौंदर्य से भरपूर यह घाटी न सिर्फ प्राकृतिक प्रेमी व रोमांच प्रेमियों को लुभाती है, बल्कि विश्वभर के वनस्पतिशास्त्रियों को भी आकर्षित करती है। आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करकर वैली ऑफ़ फ्लावर्स के बारे में विस्तार से पढ़ सकते है।

वैली ऑफ़ फ्लावर फुल गाइड

Day 4

घंघारिया............................

Photo of Ghangaria, Uttarakhand, India by Afsarul haq

हेमकुंड साहिब व वैली ऑफ फ्लावर्स के मार्ग पर यह अंतिम मानव बस्ती है। प्रकृति की गोद मे बसा यह छोटा - सा गांव समुद्रतल से करीब 3050 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह वैली ऑफ फ्लावर्स से करीब चार किलोमीटर तथा गोविंद घाट से 13 किलोमीटर की दूरी पर है स्थित है। यहां से ट्रैकिंग का रास्ता यात्रियों के लिए सुगम हो जाता है।

जाने का सही समय

Photo of Hemkund, Uttarakhand, India by Afsarul haq
Day 5

हेमकुंड साहिब में साल के बारह महीने सर्दी पड़ती है। ऐसे में आप यहाँ जाना चाहते है तो जून से शुरू नवंबर तक का समय बेहतर रहता है। गर्मियों में भी यहां का मौसम ठंडा ही रहता है। यहां का अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस तक ही पहुंच पाता है। अगर आप प्रकृति को अठखेलिया करते देखना चाहते है तो यह महीना आपके लिए सबसे बढ़िया साबित हो सकता है। सर्दियों में यह पूरा इलाका बर्फ से ढका रहता है। इन दिनों यहां का तामपान माइनस 4 डिग्री तक गिर जाता है। यह महीना यात्रियों के घूमने कर लिए बढ़िया माना जाता है और इस मौसम में नेशनल पार्क भी आपको बड़ा सुहाना लगेगा। दिसंबर आते आते बर्फ गिरनी शुरू हो जाती है। और यहां के रास्ते भी बंद होने लगते है, लेकिन अपने कमरे की खिड़की से इस मनोरम दृश्य को देखने का अपना ही एक अलग एहसास होता है।

कैसे पहुंचे.........................

हवाई यात्रा : हेमकुंड का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट देहरादून का जॉली एयरपोर्ट है। एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से गोविंद घाट आ सकते है, लेकिन उसके बाद संकरे और तंग रास्ते होने के कारण गोविंद घाट से हेमकुंड साहिब तक 19 किलोमीटर की ट्रैकिंग करनी होती है। गोविंद घाट जॉली ग्रांट एयरपोर्ट से करीब 292 किलोमीटर की दूरी पर है। जॉली ग्रांट एयरपोर्ट के लिए दिल्ली से हर दिन फ्लाइट है।

रेलमार्ग : हेमकुंड साहिब का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है। ऋषिकेश से गोविंद घाट तक सड़क मार्ग से आया जा सकता है, लेकिन उसकर बाद आपको हेमकुंड साहिब के लिए 16 किलोमीटर की ट्रैकिंग करनी होगी।

सड़क मार्ग : हेमकुंड साहिब गोविंद घाट तक सड़क मार्ग से जुड़ा है। गोविंद घाट से 19 किलोमीटर की ट्रैकिंग कर हेमकुंड साहिब पहुंच सकते है। गोविंद घाट उत्तराखण्ड के सभी राज्य परिवहन रूटों से जुड़ा हुआ है। हरिद्वार, ऋषिकेश और श्रीनगर के लिए दिल्ली के अंतरराज्जीय बस अड्डे से आसानी से बस पकड़ सकते है।

गोविंद घाट के लिए ऋषिकेश, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, उखीमठ, श्रीनगर, चमोली व अन्य इलाकों से बस सेवा और टैक्सी उपलब्ध है। गोविंद घाट नेशनल हाईवे 58 पर स्थित है। यहां आप अपने निजी वाहन से भी जा सकते है।

उम्मीद करते है आपको पोस्ट पसंद आ रहे होंगे आगे और भी दिलचस्प जगहों के बारे में हम आपको बताते रहेंगे आप हमें ट्रिपोटो पर फॉलो भी कर सकते है। और हमसे अपने यात्रा से जुड़े सवाल पूछ सकते है, हमसे सोशल मीडिया पर भी जुड़े।

WWW.TRIPOTO.COM

WWW.INSTAGRAM.COM

#TRIPOTOABHINDIMEIN #TRIPOTO #TRIPOTOTRAVEL #TRIPOTOCOMMUNITY #TRAVELBLOG #CHEAPTRAVEL #WEEKENDGATEWAYS #AFSARULHAQ #HEMKUND #TRAVELQUESTIONS #BESTTRAVEL #BEAUTIFULPLACES #BESTOFTRAVEL #TRAVELGUIDE #BESTTRAVELGUIDE

Be the first one to comment