गुलाबी शहर- जयपुर

Tripoto
1st Aug 2018
Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh
Day 1

गुलाबी शहर-जयपुर!!!

                     (मेरी पहली हिंदी स्टोरी)
कुछ दिनों पहले ही जयपुर घुमने का मोका मिला, लगा जैसे दुनियाभर की खूबसूरती इस शहर में बस गई हो और कह रही हो, “केसरिया बालम आओ नी. पधारो म्हारे देश…”

आज हम बात करने वालें है राजस्थान के एक ऐसे शहर की जहाँ अगर कोई एक बार चले जाए तो बार-बार वहां खीचा चला जाता है| (Jaipur-Rajasthan) जयपुर , लगभग 30 लाख जनसँख्या (Population) वाला राजस्थान का एक छोटा सा शहर है…जो अपनी राजस्थानी शैली और गुलाबी रंग के लिए देश दुनियां में मशहूर है| आज हम आपको बताएँगे की जयपुर में घुमने लायक कोन-कोन सी जगहें हैं Places to Visit in Jaipur Rajasthan

जयपुर घुमने का सबसे शानदार समय|Best Time  to Visit Jaipur

Best Time to Visit Jaipur

वैसे तो हर मौसम में जयपुर कुछ नया ही दिखता है, लेकिन Traveling Websites  के अनुसार “अक्टूबर से मार्च” के बिच का समय जयपुर घुमने के लिए सबसे शानदार है| हल्की सर्दियों में बादलों के बिच शहर के किलों और महलों को देखना आपके लिए एक रोमांचक अनुभव बन सकता है| जयपुर पहुँचने के लिए आप रेलवे, सड़क और हवाई मार्ग का उपयोग कर सकते हैं|

जयपुर में घुमने वाली जगहें|Place to Visit in Jaipur Rajasthan

आमेर का किला|Amer Fort Jaipur

आमेर जयपुर से लगभग 11 किलोमीटर दूर बसा एक छोटा सा शहर है जो ऊँचे पर्वतों पर बने अपने शानदार किले के के कारण जाना जाता है| एक रिपोर्ट के मुताबिक यहाँ हर रोज़ लगभग 5000 पर्यटक इस किले की खूबसूरती को देखने आते हैं| किले की दीवारें लाल पत्थरों और मार्बल से बनी हुई है|

Amer Fort Jaipur Rajasthan

आमेर के किले में चालीस खम्बो वाला एक शीश महल भी है जिसके बारे में कहा जाता है की अगर एक बार कोई यहाँ एक माचिस की तीली जला दे तो पूरा महल दीपावली जैसी रौशनी की तरह जगमगाने लगता है| इस किले की सबसे बड़ी विशेषता यह है, कि  यहाँ आने पर आम आदमी को भी राजाओं जैसी अनुभूति होती है| किले के निचे से हाथी आपको राजाओं की तरह किले तक ले जाते हैं! इस किले में “आमेर किले से जयगढ़ किले” के बिच एक सुरंग भी बनी हुई है जीसे युद्ध के समय सुरक्षित निकलने के लिए इस्तमाल किया जाता था|

हवा महल|Hawa Mahal Jaipur

जयपुर का हवा महल अपने आप में बेजोड़ कला और राजपूती नक्काशी का एक बेजोड़ नमूना है| हवा महल का निर्माण महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने करवाया था| कहते है, कि राजपूती महिलाऐं उस वक्त घुंघट और परदे में ही रहती थी, इस महल का निर्माण शहर में निकलने वाले जलसों और अन्य कार्यक्रमों को देखने के लिए करवाया था|

Hawa Mahal Jaipur

इस महल में कुल 152 खिड़कियाँ और जालीदार छज्जे हैं| बहार से देखने पर यह महल किसी  मधुमक्खी के छत्ते के सामान दिखाई देता है| यह पांच मंजिला महल पुराने शहर की मुख्या सड़क पर स्थित है| अगर आप सुबह के वक्त जयपुर पहुँचते हैं तो सबसे पहले हवा महल घुमें क्यों की सुबह की पहली किरण के साथ हवा महल को देखना एक रोमांचक अनुभव होता है|

जयगढ़ का किला|Jaigadh Fort Jaipur

जयगढ़ किले का निर्माण महाराजा जयसिंह ने 18 वि शब्ताब्दी में आमेर के किले की सुरक्षा के लिए करवाया था| इस किले में एशिया की सबसे बड़ी तोप आज भी रखी हुई है| यह किला, आमेर के किले से 2 किलोमीटर दूर चिल के टीले (Eagle Hill) पर लगभग 400 फुट की ऊंचाई पर स्थित है|

Jaigadh fort jaipur

पहाड़ी पर स्थित होने के कारन इस किले से पुरे जयपुर शहर को देखा जा सकता है| विजयी किले के नाम से प्रसिद्द यह किला 3 किलोमीटर लम्बा और लगभग 1 किलोमीटर चौड़ा है| जयपुर शहर से जयगढ़ किला 10 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है|

सिटी पैलेस जयपुर|City Palace Jaipur

सिटी पैलेस जयपुर शहर के बीचों-बिच स्थित एक महल है जिसका निर्माण महाराजा सवाई जय सिंह माधो ने सन 1729 में करवाया था| महल में जाने के तिन मुख्य दरवाजे हैं, जिन्हें भव्य रूप से सजाया गया है|

City Palace Jaipur

सिटी पैलेस परिसर में चन्द्र महल और मुबारक महल भी स्थित है| महल के एक हिस्से में आज भी शाही परिवार निवास करता है| सिटी पैलेस परिसर राजपूत, मुग़ल और यूरोपियन शैली के मिश्रण से बनाया गया है| सिटी पैलेस जयपुर रेलवे स्टेशन से महज 5 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है|

नाहरगढ़ किला|Nahargadh Fort Jaipur

जयपुर रेलवे स्टेशन से नाहरगढ़ किले की दुरी लगभग 19 किलोमीटर है| यहाँ बस और टेक्सी की सहायता से पहुंचा जा सकता है| नाहरगढ़ के किले की खास बात यह है कि इस किले को जयपुर शहर के हर कोने से देखा जा सकता है| रात में जब इस किले में लाइटिंग की जाती है तब इस किले को देखना अपने आप में एक रोमांचक अनुभव है|

जंतर मंतर जयपुर|Jantar Mantar Jaipur

जयपुर रेलवे स्टेशन से जंतर मंतर की दुरी लगभग 5 किलोमीटर है| संगमरमर और लाल पत्थरों से बनाई गई इस वेद्यशाला का निर्माण महाराजा सवाई माधोसिंह जी ने करवाया था| हाल ही में इस वेद्यशाला को राष्ट्रीय स्मारक घोषित किया जा चूका है| अगर आप सौर मंडल और खगोलीय उपकरणों में अच्छी खासी रूचि रखते है तो जयपुर का जंतर मंतर घूमना ना भूलें|

Jantar Mantar Jaipur

जल महल जयपुर|Jal Mahal Jaipur

जयपुर रेलवे स्टेशन से जल महल की दुरी लगभग 12 किलोमीटर है| जल महल जयपुर शहर की सागर झील के बिच में स्थित वास्तुकला का बेजोड़ उदाहरण है| जल महल तक पहुँचने के लिए आप नाव का सहारा ले सकते हैं| रात के समय जल महल और भी खुबसूरत दिखाई देता है| कहा जाता है की इस महल में राजपूत राजा अपनी रानियों के साथ समय बिताना पसंद करते थे| महल का सिर्फ उपरी हिस्सा दिखाई देता है, बाकि का हिस्सा पानी में डूबा रहता है|

Jal Mahal Jaipur

यह थी जयपुर में घुमने वाली कुछ खास जगहें Place to visit in Jaipur Rajasthan, हमें उम्मीद है आपको हमारी यह पोस्ट जरुर पसंद आई होगी|

जल महल

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

जंतर मंतर

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

जयगढ़ किला

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

सिटी पैलेस

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

नाहरगढ़ किला

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

आमेर का किला

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh

हवा महल

Photo of गुलाबी शहर- जयपुर by subh
Be the first one to comment