पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप

Tripoto
6th Sep 2022
Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal
Day 1

हर हर महादेव ।
मेरे भारतवासियों आशा करता हूं कि आप सब लोग कुशल मंगल हो। आज मैं आपके साथ एक नए दिन की शुरुवात एक नए सफर के साथ करना चाहता हु। जैसा कि आपको पता है कि इस बार मैं कश्मीर की यात्रा अपनी फैमिली के साथ कर रहा हु। आपके साथ इसकी जानकारी शेयर कर रहा हू। पिछले 2 दिन हमने माता वैष्णो देवी के दरबार में बिताए थे। आज सुबह हम लोग एक नए डेस्टिनेशन के लिए तैयार हो चुके थे। ब्लॉग शीर्षक से आपको पता चल गया होगा की आज हम पटनीटॉप की सैर करने जा रहे है। चलिए आज मैं आपको पहले पटनीटॉप की पूरी जानकारी देता हूं।
पटनीटॉप या पटनी टॉप जम्मू कश्मीर घाटी का एक खूबसूरत हिल स्टेशन है, जो जम्मू से 112 किमी की दूरी पर बसा हुआ है। कटरा से पटनीटॉप की दूरी करीब 2 घंटे की है। बर्फ और घाटियों को देखने के शौकीन लोगों के लिए पटनीटॉप लोकप्रिय टूरिस्ट डेस्टीनेशन है। जम्मू और कश्मीर के उधमपुर जिले में स्थित पटनीटॉप 2024 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है, जिसके पास से चेनाब नदी बहती है। माना जाता है कि आप जम्मू गए और पटनीटॉप नहीं देखा, तो कुछ नहीं देखा। सुंदर पठार और घने जंगलों से घिरा हुआ पटनीटॉप सर्दियों में बर्फ की चादर ओड़ लेता है। यह जगह किसी स्वर्ग से कम नहीं है। यही वजह है कि हर साल 6 लाख से ज्यादा पयर्टक पटनीटॉप के मनमोहक नजारों को देखने के लिए पहुंचते हैं।
[9/5, 10:22 AM] Lkylve: पटनीटॉप उन लोगों के लिए सबसे अच्छी जगह है तो स्कीइंग और पैराग्लाइडिंग के शौकीन हैं। खासतौर में सर्दियों में पर्यटक यहां स्कीइंग का मजा लेने ज्यादा पहुंचते हैं। आज आलम यह है कि पटनीटॉप को स्कीइंग स्थल के रूप में अच्छी खासी पहचान मिल चुकी है। स्कीइंग के लिए पटनीटॉप की सबसे ऊंची पहाड़ी पर बनी छोटी हो या बड़ी सभी स्लोपों का इस्तेमाल किया जा रहा है, वहीं पैराग्लाइडिंग के लिए पटनीटॉप से सटे नत्था टॉप और सनासर क्षेत्र का प्रयोग किया जा रहा है। पटनीटॉप के लोग मिलनसार और मेहमाननवाज हैं। यहां निवास करने वाले ज्यादातर लोग या तो जम्मू या कश्मीर के हैं। हिंदू और मुसलमानों का एक अच्छा मिश्रण यहाँ देखा जा सकता है। अगर आपको बर्फबारी का मजा लेने का शौक है तो आप खुले दिल से पटनीटॉप की सैर पर जा सकते हैं। सर्दी के दिनों में यहां जमकर बर्फबारी होती है। बर्फबारी के कारण यहां के कई रास्ते जाम हो जाते हैं, तो वहीं यातायात भी बाधित होता है। कई बार तो बर्फबारी के कारण जम्मू कश्मीर नेशनल हाईवे बंद हो जाता है, जिस कारण बाहर से आने वाली गाड़ियों को बर्फ पिघलने तक का इंतजार करना पड़ता है।
अगर आप मई में पटनीटॉप जाएंगे, तो आपको वहां बर्फ नहीं मिलेगी। वहां का मौसम हल्की बारिश के साथ गर्म रहेगा, लेकिन फिर भी इस मौसम में यहां ऊनी कपड़े साथ ले जाने की सलाह दी जाती है। वैसे तो पत्नीटॉप में सालभर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है, लेकिन यात्रा करने के लिए सबसे उपयुक्त समय मई से जून और सितंबर से अक्टूबर है। दिसंबर से फरवरी के बीच यहां स्कीइंग, पैराग्लाइडिंग और ट्रेकिंग जैसे एडवेंचर्स स्पोट्र्स आयोजित होते हैं। तब यहां ज्यादा संख्या में पयर्टक आते हैं। बर्फ के बीच स्कीइंग और पैराग्लाइडिंग का अनुभव बहुत ही खास होता है
पटनीटॉप को घूमने का हमारा अनुभव बहुत अच्छा रहा। हम लोगो ने बहुत एंजॉय किया। चू कि हम लोग समर टाइम में गए थे। इसलिए वहा की हरियाली देख के हमारा मन भी हरा भरा हो गया। पटनीटॉप घूमते घूमते शाम हो चुकी थी। हमने इसके बाद भूख लगने के कारण खाया। पहले तो हम लोग पटनीटॉप में अपना स्टे का सोच रहे थे। लेकिन बाद में हम इंटरनेट में पटनीटॉप से पहलगाम की दूरी चेक की। पटनीटॉप से पहलगाम दूरी करीब 160 km थी इसलिए हमने पहलगाम सही समझा।
चलिए दोस्तो अब आपसे मैं इस ब्लॉग यात्रा को विश्राम देने की अनुमति मांगता हु।
कल सुबह आपसे नए यात्रा ब्लॉग के साथ मिलता हु। आप सबको को शुभरात्रि।
हर हर महादेव।

Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal
Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal
Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal
Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal
Photo of पटनीटॉप को नई पहचान दे रहा है skyview पटनीटॉप by Lucky Goyal