भारत के 7 शहर, जहाँ आपको स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट करना चाहिए

Tripoto
Photo of भारत के 7 शहर, जहाँ आपको स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट करना चाहिए by Deeksha Agrawal

15 अगस्त के मौके पर ज्यादातर लोग घूमने जाना पसंद करते हैं। इस दिन छुट्टी रहती है और यदि 15 अगस्त किसी वीकेंड के आसपास पड़ गया तब तो सोने पर सुहागा जैसी स्थिति बन जाती है। घूमने जाने वालों के लिए सभी जगहें रोमांचक होती है। एक तरह से देखा जाए तो घुमक्कड़ी नई चीज़ें सीखने और जानकारी बटोरने का सबसे अच्छा तरीका है। तो क्यों ना 15 अगस्त के मौके पर भी कुछ ऐसी जगहों पर जाने का प्लान बनाया जाए जिन्होंने भारत की आजादी की लड़ाई में अहम योगदान दिया है। क्यों ना इस स्वतंत्रता दिवस पर उन जगहों को याद किया जाए जहाँ हमारे वीर जवानों ने देश को आजादी दिलाने के लिए कई लड़ाइयों का बहादुरी से सामना किया था। आपकी सहूलियत के लिए हमने ऐसी 7 जगहों की सूची तैयार की है जहाँ आप घूमने जाने का प्लान बना सकते हैं।

1. नई दिल्ली

Photo of भारत के 7 शहर, जहाँ आपको स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट करना चाहिए 1/7 by Deeksha Agrawal

15 अगस्त का ज़िक्र होते ही हमारे मन में दिल्ली की तस्वीरें सबसे पहले आती हैं। दिल्ली की एतिहासिक इमारतें जैसे लाल किला, इंडिया गेट 15 अगस्त के एक दिन पहले से ही देश प्रेम के रंग में ढल जाता है। दिल्ली वो जगह है जहाँ स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भारत की आज़ादी के ऊपर भाषण दिया था। देश की राजधानी होने की वजह से दिल्ली में 15 अगस्त की धूम कुछ अलग ही दिखाई देती है। जगह-जगह पर सजावट की जाती और स्वतन्त्रता दिवस के एक दिन पहले ही पूरा शहर देश जगमगा उठता है।

2. प्रयागराज

Photo of भारत के 7 शहर, जहाँ आपको स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट करना चाहिए 2/7 by Deeksha Agrawal

दिल्ली के बाद देश की संगम नगरी भी स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए बढ़िया जगह है। इलाहाबाद में 15 अगस्त आने के कुछ दिन पहले से ही जगह जगह पर झंडे की दुकानें लग जाती हैं। प्रयागराज में होना आपको सबसे यादगार 15 अगस्त एन्जॉय करने का मौका दे सकता है इलाहाबाद में चन्द्रशेखर आजाद पार्क है जिसने भारत की आज़ादी की लड़ाई में एक बड़ी भूमिका निभाई थी। इस पार्क को पहले अल्फ्रेड पार्क और कंपनी गार्डन के नाम से भी जाना जाता था। इस पार्क में चन्द्र शेखर आजाद ने अपने आप को गोली मारी थी। इलाहाबाद का स्वतन्त्रता दिवस का जश्न आपको ज़रूर देखना चाहिए।

3. अहमदाबाद

अहमदाबाद उन शहरों में से है जिन्होंने भारत की आजादी की लड़ाई में बड़ी भूमिका निभाई थी। अहमदाबाद में साबरमती आश्रम है जिसका महत्व कौन नहीं जानता है? एक दिन पहले से ही पूरे शहर में 15 अगस्त की ज़बरदस्त धूम मची रहती है। जगह-जगह पर सुरक्षा बल तैनात किया जाता है और कैमरा भी लगाए जाते हैं। साबरमती आश्रम साबरमती नदी के तट पर स्थित है जिसको सत्याग्रह आश्रम भी कहा जाता है। इस आश्रम में महात्मा गांधी अक्सर आंदोलनकारियों के साथ चर्चा किया करते थे। असहयोग आंदोलन के समय भी इस आश्रम में कई विषयों पर चर्चा होती थी। 15 अगस्त के दिन इस जगह पर होना आपको यकीनन 1947 और उसके पहले वाले समय की याद दिलाएगा।

4. कोलकाता

कोलकाता में आज भी कोलोनियल समय की यादें ताजा दिखाई देती हैं। ये वो शहर हैं जिसने ना जाने कितने वीरों को जन्म दिया है। 15 अगस्त के आसपास का एक वीकेंड कोलकाता में मनाने का मतलब है ढेर सारा जोश और देश भक्ति का एहसास। 15 अगस्त के मौके पर कोलकाता में किसी त्यौहार जैसा माहौल हो जाता है। किसी भी अन्य शहर की तुलना में कोलकाता का स्वतन्त्रता दिवस सेलिब्रेशन बेहद खूबसूरत होता है। कोलकाता के बैरकपुर से निकली एक आवाज ने भारत की आजादी की लड़ाई की शुरुआत की थी। मंगल पांडे गार्डन भी महत्वपूर्ण जगह है।

5. मुंबई

मुंबई में 15 अगस्त का जश्न भारी सुरक्षा लेकिन उतने ही जोश के साथ मनाया जाता है। 15 अगस्त के एक दिन पहले से ही पूरे शहर में देशभक्ति के गीत सुनाई पड़ने लगते हैं। जगह जगह पर सजावट और रोशनी की जाती है। 15 अगस्त के दिन परेड, आतिशबाज़ी और संगीत के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। 14 और 15 अगस्त दोनों ही दिन आजादी का खून जश्न देखने के लिए मिलता है। मुंबई की आइकॉनिक जगहें जैसे गेटवे ऑफ इंडिया को भी सजाया जाता है। कुल मिलाकर यदि आप 15 अगस्त के पहले कहीं जाना चाहते हैं तो मुंबई बढ़िया ऑप्शन रहेगा।

6. अमृतसर

पंजाब ने देश को बेहद वीर योद्धा दिए हैं। जिनका भारत की आजादी की लड़ाई में बड़ा योगदान रहा है। अमृतसर में ऐसी दो जगहें हैं जहाँ आकर आपका मन प्रसन्न हो जाएगा। जालियांवाला बाग और वाघा बॉर्डर दोनों ही जगहें 15 अगस्त की तैयारियाँ देखने के लिए बढ़िया है। स्वतन्त्रता दिवस नजदीक आते ही पूरे शहर में हाई अलर्ट घोषित कर दिया जाता है। जगह जगह पर जवानों को तैनात किया जाता है। स्वतन्त्रता दिवस के मौके पर कोई भी हानि ना हो इसका खास ध्यान रखा जाता है। यदि आप इस मौके पर कहीं जाना चाहते हैं तो अमृतसर जाने का प्लान बनाया जा सकता है।

7. झांसी

झांसी वो शहर है जिसने 1857 की लड़ाई को बेहद नजदीकी से देखा है। ये वीर रानी लक्ष्मीबाई की नगरी है जिसने अंग्रेज़ों का डटकर मुकाबला किया और कभी हार नहीं मानी। 15 अगस्त के मौके पर आप झांसी फोर्ट देखने जा सकते हैं जिसकी भारत के इतिहास में अहम भूमिका रही है। झांसी में 15 अगस्त वाले दिन तो धूम होती है है लेकिन उसके 1 से 2 दिन पहले भी इस शहर की रौनक देखने लायक होती है।

क्या आपने हाल में कोई यात्रा की है ? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना टेलीग्राम पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।