बनारस को छोड़िए और इस बार अयोध्या की देव दीवाली देखिए

Tripoto
Photo of बनारस को छोड़िए और इस बार अयोध्या की देव दीवाली देखिए by Rishabh Dev

भारत में हर महीने, हर दिन किसी न किसी समुदाय, धर्म और क्षेत्र का त्यौहार होता है। जो अलग-अलग जगहों पर लोग धूमधाम से मनाते हैं लेकिन कुछ फेस्टिवल ऐसे होते हैं जो पूरा देश मनाता है। चाहे वो किसी धर्म और जगह को हो, हर शख्स इन त्यौहारों को खुशी से मनाता है। इन्हीं त्यौहारों में से एक है, दीपावली। जब पूरा देश दीपों से जगमगा उठता है लेकिन क्या आपने देव दीवाली के बारे में सुना है?

Photo of बनारस को छोड़िए और इस बार अयोध्या की देव दीवाली देखिए 1/6 by Rishabh Dev

बहुत कम लोगों को देव दीपावली के बारे में पता होगा। खासकर जो उत्तर प्रदेश से दूर इलाके के हैं उनको तो इसके बारे में बिल्कुल भी पता नहीं होगा। देव दीपावली हर जगह मनाई भी नहीं जाती है। महादेव की नगरी बनारस की देव दीपावली बहुत फेमस है। ऐसी एक जगह और है जहाँ की देव दीपावली आपको जरूर देखनी चाहिए, अयोध्या की देव दीवाली। उस दिन ऐसा लगता है कि टिमटिमाते हुए तारे अयोध्या की धरती पर उतर आए हों। ऐसे नजारे रोज-रोज नहीं मिलते। आपको इस देव दीपावली पर अयोध्या की सैर कर ही लेनी चाहिए।

क्या है देव दीवाली?

अगर आप सोचते हैं कि देव दीपावली, दीवाली के एक-दिन पहले या बाद में मनाई जाती है तो आप गलत है। दीपावली के 15 दिन बाद कार्तिक पूर्णिमा के दिन देव दीवाली मनाई जाती है। इस बार कार्तिक पूर्णिमा 30 नवंबर को है लेकिन कार्तिक पूर्णिमा शुरू 29 नवंबर को हो रही है इसलिए देव दीपावली 29 नवंबर को ही है। देव दीपावली को मनाने के पीछे कुछ पौराणिक कथाएं हैं। कहा जाता है कि त्रिपुर नाम के राक्षस की 1 लाख साल की तपस्या से तीन लोक हिलने लगे थे। उसकी तपस्या को देखकर देवता डरने लगे और राक्षस की तपस्या को भंग करने का फैसला किया।

ब्रम्हा जी ने उसे वर दिया कि उसे नहीं मनुष्य मार सकता है और न ही देवता। तब देवताओं ने भगवान शिव से मदद मांगी। जिसके बाद भगवान शिव ने त्रिपुरा का वध कर दिया। जिसके बाद देवता अपनी खुशी जाहिर करने के लिए धरती पर आए और दीप जलाए, उसी दिन को देव दीपावली कहते हैं। माना जाता है कि देवता हर साल देव दिवाली पर दीप जलाने पृथ्वी पर आते हैं। एक और किवंदती है कि भगवान विष्णु 4 महीने के बाद सोकर उठते हैं जिसकी खुशी मनाने देवता पृथ्वी पर दीप जलाने आते हैं।

कब शुरू हुई?

देव दीपावली आज बहुत फेमस है देश से ही नहीं विदेश के लोग भी इस दिन का इंतजार करते हैं लेकिन ये दीपावली की तरह हमेशा से नहीं मनाई जाती थी। देव दीपावली सबसे पहले काशी के घाटों पर मनाई गई। कहा जाता है कि लगभग तीन दशक पहले कुछ लोगों के प्रयासों से देव दीवाली मनाई गई थी। नारायण गुरु नामक सामाजिक कार्यकर्ता ने युवाओं की टोली बनाकर बनारस के कुछ घाटों पर देव दीपावली की शुरूआत की थी। जिसके बाद ये धीरे-धीरे दूसरे घाटों पर भी शुरू हो गई।

अयोध्या की देव दीपावली

Photo of बनारस को छोड़िए और इस बार अयोध्या की देव दीवाली देखिए 3/6 by Rishabh Dev
श्रेय: डोगो।

पूरे भारत में बनारस की देव दीपावली बहुत फेमस है। अब उसी की तर्ज पर अयोध्या में सरयू के तट पर देव दीपावनी मनाई जाने लगी है। पिछले साल देव दीपावली पर अयोध्या जगमग हो उठा था। दूर-दूर से इस जगह को लोग देखने आए थे। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के फैसले और शुरूआत होने से इस जगह की अहमियत और भी ज्यादा बढ़ गई है। श्रद्धालु हर त्यौहार में आना पसंद करते हैं और जब देव दीपावली की बात हो तो यहाँ आना बनता भी है।

क्या देखें?

1- दीपों से सजी अयोध्या

वैसे तो अयोध्या में देखने को बहुत कुछ है लेकिन जब देव दीपावली पर जाएं तो और कहीं क्यों ही जाना है? देव दीपावली पर अयोध्या में इससे खूबसूरत नजारा आपको और कहीं भी नहीं मिलेगा। सरयू नदी के किनारे सभी घाटों को दीपों से सजाया जाता है। घाटों से लेकर मठों, मंदिरों और प्रमुख कुंडों पर दीपों को जलाया जाता है। माना जा रहा है इस बार देव दीपावली पर अयोध्या के सरयू तट को 1 लाख से ज्यादा दीपो को सजाया जाएगा। वो सोचिए कि जब आप 1 लाख दीपों को जलते हुए देखेंगे तो वो नजारा कैसा होगा? दूर-दूर से लोग इस नजारे और दीपों को जलाने आते हैं। आपकों सिर्फ दीपों को जलते हुए नहीं देखना है आप भी इन दीपों को जलाकर अयोध्या को जगमग कर दें।

2- आरती में हों शामिल

देव दीपावली पर दिये जलाने के अलावा कई कार्यक्रम होते हैं। जिनमें सबसे पहले तो सरयू तट पर महाआरती होती है। जिसमें शामिल होने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ रहती है। आपको भी देव दीपावली के दिन सरयू तट पर आरती में शामिल होना चाहिए। कई घाटों पर जब एक साथ आरती होती है तो वो नजारा बेहद प्यारा लगता है। इसके अलावा अयोध्या के प्रमुख कुंड दंत धावन कुंड पर स्थानीय लोग बड़ी संख्या में दीप दान करते हैं।

3- लेजर शो

Photo of बनारस को छोड़िए और इस बार अयोध्या की देव दीवाली देखिए 6/6 by Rishabh Dev

कोई भी त्यौहार कितना भी पुराना क्यों न हो, उसमें आधुनिकता की झलक मिल ही जाती है। अयोध्या में देव दीपावली पर भी आपको ये झलक लेजर शो के माध्यम से देखने को मिलेगी। लेजर शो से अयोध्या के घाटों पर रामलीला और रासनलीला देखने को मिलेगी। इसके अलावा पानी में भी श्रीराम की झांकी को दिखाया जाएगा। ये सब कुछ देव दीपावली को और अच्छा बनाने की कोशिश रहती है जिसे लोग पसंद भी करते हैं।

आपने दीपावली तो कई जगहों की शायद देखी हो लेकिन देव दीपावली पर आपको अयोध्या जरूर आना चाहिए। उस दिन पूरा अयोध्या दीपों से जगमग उठता है। देव दीपावली पर सरयू के घाट आसमान में टिमटिमाते तारों की तरह नजर आते है। आप यहाँ आएंगे तो आप भी खुशी से झूम उठेंगे।

क्या आपने कभी अयोध्या की यात्रा की है? अपने सफर के अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

रोज़ाना वॉट्सऐप पर यात्रा की प्रेरणा के लिए 9319591229 पर HI लिखकर भेजें या यहाँ क्लिक करें।