नोएडा से लेकर वाराणसी, यहाँ मिलेंगी गांजा खरीदने की कानूनी दुकान

Tripoto

दिल्ली में एक आम कहावत है, अक्सर तेज कारों की टिंटेड रियर खिड़कियों पर देखा जाता है - 'वाय ड्रिंक एंड ड्राइव वेन यू केन स्मोक एंड फ्लाई' यानी पीकर गाड़ी चलाने की क्या ज़रूरत जब आप माल फूक कर सीधे उड़ सकते हैं!

जबकि यह बात कई लोगों को हैरान कर सकता है, लेकिन ये तो बस में गांजे के नशे की शक्ति को बयान कर रहा है। अफसोस की बात है कि भारत में गाँजे की जड़ें होने और इसके कई औषधीय गुण होने के बावजूद ये हमारे देश में प्रतिबंधित है। आशा की एकमात्र किरण ये है कि देश में कुछ स्थान हैं जहां भांग, गांजा का एक प्रकार, बिक्री और खपत के लिए वैध रूप से बिकता है। इस गहरे हरे रंग के पदार्थ का कई तरीकों से सेवन दुनिया के सभी हिस्सों से रोमांच चाहने वालों को आकर्षित करता रहा है - और इसे आज़माया ना जाए, इसका कोई कारण नहीं है।

इस लिस्ट में भारत की कुछ बेहतरीन जगहें हैं जहाँ आप कानूनी तौर पर भांग का आनंद ले सकते हैं और अच्छी ज़िंदगी जी सकते हैं।

1. जैसलमेर

कहाँ: खीर पारा फोर्ट रोड, जैसलमेर

भारत में भांग के बारे में जानने के लिए किसी भी विशेषज्ञ से पूछें और आपको जो पहला जवाब मिलेगा, वह है डॉक्टर भांग। जैसलमेर में एक सरकारी मान्यता प्राप्त दुकान डॉक्टर भांग सालों से भांग से बनी चॉकलेट, कुकीज़, मिठाइयाँ और छाछ बेच रही है।

एक एक्सपर्ट टिप, मजबूत वेरायटी के लिए तब तक ना जाएँ जब तक कि आपने वास्तव में पहले ऐसा नहीं किया हो, डॉक्टर भांग के एक 'बेबी' वर्जन ट्राइ करें और वह अपना जादू चलाएगी!

2. वाराणसी

कहाँ: अस्सी क्रॉसिंग, अस्सी, वाराणसी

जबकि इंटरनेट आपको वाराणसी में भांग चखने के कई विकल्प बताएगा लेकिन इनमें सबसे बढिया है अस्सी घाट के पास ग्रीन लस्सी। यह छोटी सी दुकान ज़बरदस्त लस्सी और थंडई परोसता है जो आपको नशे से सराबोर कर देता है। हालांकि इसे चखने के दोनों तरीको का प्रभाव एक समान ही होता है। अगर आपको तीखी महक और भांग के खट्टे स्वाद पसंद नहीं हैं, तो थंडई का विकल्प चुनें।

3. पुष्कर

कहाँ: छोटी बस्ती, पुष्कर

आपने बार होपिंग के बारे में सुना होगा, लेकिन पुष्कर में आएँ तो भांग होपिंग की आज़माएँ! पुष्कर का छोटी बस्ती बाजार कई कैफे से भरा हुआ है, जो सभी को 'स्पेशल लस्सी' परोसते हैं। भांग के हरे स्वाद को चखते हुए सूरज को पुष्कर झील में मिलते देखो- शायद यही मोक्ष है!

4. मथुरा

कहाँ: मनोहरपुरा, मथुरा

यह शायद हैरान कर सकता है, लेकिन आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, मथुरा ने देश में सबसे अधिक भांग की खपत दर दर्ज की है! शहर ऐसे दुकानदारों से भरा हुआ है जो आपको 'बेहतरीन भांग' के दावे के साथ भांग बेचने की कोशिश करेंगे। मेरा सुझाव है कि आप इन सब को छोड़ दें और मनोहरपुरा इलाके में लाइसेंस प्राप्त दुकान पर जाकर कानूनी तौर पर कुछ भांग की गोलियाँ खाएँ। दुकान के मालिक एक हल्के प्रभाव वाली लस्सी भी बेचते हैं, जो कि उन शौकीनों के लिए बहुत बेहतर है, जिन्हें एक टैबलेट खाना मुश्किल लगता है।

5. हम्पी

कहाँ: हम्पी, कर्नाटक

अपनी लगातार बढ़ती बैकपैकिंग संस्कृति के चलते, हम्पी में भी भांग को लेकर काफी जुनून बढ़ गया है। खंडहर स्थलों से बाहर निकलें और बैकपैकर कैफेज़ का पता लगाएँ। आपको पता लगेगा कि यहाँ कैफे इस नशे को हरी लस्सी के नाम से बुलाते हैं। रवीज़ रूफटॉप कैफ़े बेशक सबसे अच्छी जगह है जहाँ आप हम्पी में एक ग्लास भर भांग चख सकते हैं।

6. नोएडा

कहाँ: सेक्टर 15, नोएडा

हां, भले ही काफी चौंकाने वाली बात लगे, आप वास्तव में नोएडा के केंद्र में एक सरकारी दुकान से भांग खरीद सकते हैं! सेक्टर 15 मेट्रो स्टेशन पर उतरें, नायाबांस इलाके की गलियों में प्रवेश करें और बस 'भांग ठेके' का पता पूछें। बस ₹5 में भांग की एक गोली खरीदें या कुकीज़, ठंडी, लस्सी या पकोड़े, किसी भी पकवान के रूप में इसका मज़ा लें।

क्या आपके पास अपनी यात्रा की कुछ नशीली कहानियाँ हैं। तो यहाँ क्लिक करें और इन्हें यात्रियों के साथ बाँटना शुरू करें।

ये आर्टिकल अनुवादित है। ओरिजनल आर्टिकल लिखने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Be the first one to comment