जानिए 27 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस?

Tripoto
Photo of जानिए 27 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस? by Walia Sachin
Day 1

हर साल 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस मनाया जाता है। इसे मनाने का उद्देश्य दुनिया भर में पर्यटन को बढ़ावा देना, जागरूकता बढ़ाना, राजनीतिक और आर्थिक मूल्यों को बढ़ावा देना है। यह दिवस दुनिया भर के लोगों में आपसी समझ बढ़ाने के साथ एक दूसरे की सभ्यता और संस्कृति समझने में सहायता करता है।

Photo of जानिए 27 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस? by Walia Sachin

विश्व पर्यटन दिवस मनाने की शुरुआत पर्यटन का महत्व और लोकप्रियता को देखते हुए की गई। लोगों को जागरूक करने के लिए संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन हर साल विश्व पर्यटन दिवस की अलग-अलग थीम रखता है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1980 से 27 सितंबर को विश्व पर्यटन दिवस के तौर पर मनाने का निर्णय लिया था। विश्व पर्यटन दिवस के लिए 27 सितंबर का दिन इसलिए चुना गया क्योंकि इसी दिन 1970 में विश्व पर्यटन संगठन का संविधान स्वीकार किया गया था।

पर्यटन के क्षेत्र में वृद्धि बढ़ ही रही है। पर्यटन मंत्रालय के अनुसार विदेशी पर्यटकों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। 2018 में एक करोड़ पांच लाख पर्यटक भारत आए थे। विदेश से आने वाले पर्यटक दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, आगरा और जयपुर घूमना पसंद करते हैं।

Photo of जानिए 27 सितंबर को ही क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस? by Walia Sachin

भारतीय पर्यटकों के 5 पसंदीदा स्थल

देश : जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, केरल

विदेश : स्विट्जरलैंड, नॉर्वे, स्वीडन, अमेरिका, बेल्जियम

पर्यटन भारत की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है।साल 2017 में, पर्यटन से भारत ने लगभग 23 अरब डॉलर का राजस्व अर्जित किया था। साल 2018 में 9.2 फीसदी जीडीपी में योगदान था, जिससे देश को 16.91 लाख करोड़ का फायदा हुआ था। देश में 8.1 फीसदी रोजगार पर्यटन से मिल रहा है। हालांकि कोरोना काल में काफी गिरावट देखने को मिली है पर उम्मीद है कि जल्द ही सब पटरी पर आ जाएगा।

घरेलू ट्रैवल ज्यादा पसंद

भारत में 2018 में सबसे ज्यादा 87% महंगी छुट्टियां घरेलू ट्रैवल के दौरान बिताई गईं।जबकि 13% योगदान अंतरराष्ट्रीय पर्यटन का रहा। पिछले साल के मुकाबले भारतीय पर्यटन क्षेत्र ने राष्ट्रीय स्तर पर 6.7% और वैश्विक स्तर पर 3.9% की दर से बढ़ोतरी दर्ज की है। इस लिहाज से भारत की महंगी ट्रिप पर जाने वाले देशों में ग्लोबल लीडर बनकर उभरा है।

कैसा लगा आपको यह आर्टिकल, हमें कमेंट बॉक्स में बताएँ।

अपनी यात्राओं के अनुभव को Tripoto मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती के सफ़रनामे पढ़ने के लिए Tripoto বাংলা  और  Tripoto  ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना Telegram पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।