हिमाचल प्रदेश के बिर की 7 बेहद सुंदर मोनेस्ट्रीज, पहाड़ों के बीच मिलेगी शांति ही शांति

Tripoto
Photo of हिमाचल प्रदेश के बिर की 7 बेहद सुंदर मोनेस्ट्रीज, पहाड़ों के बीच मिलेगी शांति ही शांति by Musafir Rishabh

आप सैलानी हों या हमेशा सफर पर रहने वाले घुमक्कड़ हो। आपको हिमाचल प्रदेश के बिर में सुकून की एक अलग दुनिया मिलेगी। बिर हिमाचल प्रदेश की एक छोटी-सी जगह है जो कांगड़ा जिले में स्थित है। बिर बिलिंग पूरी दुनिया में पैराग्लाइडिंग के लिए फेमस है। पैराग्लाइडिंग के सबसे बढ़िया अनुभव के लिए आपको बिर जाना चाहिए। पैराग्लाइडिंग के अलावा इस छोटे-से कस्बे में एक और चीज है जिनके बारे में कम लोगों को पता है। बिर कई खूबसूरत बौद्ध मोनेस्ट्रीज का घर है। बिर घूमने जाएँ तो इन शानदार मोनेस्ट्रीज को जरूर देखें।

बिर की बेहद खूबसूरत मोनेस्ट्रीज:

1- चोकलिंग मोनेस्ट्री

चोकलिंग मोन्स्ट्री बिर की तिब्बती कॉलोनी के बीच में स्थित है। इस मठ को पेमा ईवान चोकग्युर ग्युरमे लिंग के नाम से भी जाना जाता है। इस मठ को बिर में 1960 के बाद तीसरे नेतेन चोकलिंग रिन्पोचे की देख रेख में स्थापित किया गया था। ये हिमाचल प्रदेश की सबसे शानदार मोनेस्ट्रीज में से एक है। इस मठ के परिसर में कई स्तूप, मंदिर और लामाओं के हॉस्टल भी हैं। बिर में लैंडिंग साइट से चोकलिंग मोन्स्ट्री सिर्फ 1 किमी. की दूरी पर है।

2- पलपुंग शेराबलिंग मठ

बिर से लगभग 6 किमी. दूर भट्टू में एक शानदार मोनेस्ट्री है, पलपुंग शेराबलिंग मोनेस्ट्री। इस मोनेस्ट्री का पूरा परिसर लगभग 30 एकड़ में फैला हुआ है। स्थानीय लोग इसे भट्टू मोन्स्ट्री के नाम से भी जानते हैं। जंगल के बीचों बीच स्थित ये मठ बहुत सुंदर है। इस मोनेस्ट्री में खूबसूरत स्तूप और लामाओं के हॉस्टल व स्कूल भी हैं। मोनेस्ट्री के अंदर 12 मीटर ऊँची बुद्ध की मूर्ति रखी हुई है। मोन्स्ट्री के अंदर फोटो और वीडियो लेना मना है। आप यहाँ जाएँ तो इस नियम का पालन जरूर करें। पलपुंग शेराबलिंग मोनेस्ट्री परिसर मे लजीज केक का स्वाद जरूर लें।

3- साक्य दिर्रू मोनेस्ट्री

बिर की इस मोनेस्ट्री के बारे में कम लोगों को ही पता है। साक्य दिर्रू मोनेस्ट्री की स्थापना 1073 वर्ष में बौद्ध मास्टर खोन खोनचोक ग्यालपो के द्वारा की गई थी। आपको इस मोनेस्ट्री में सुकून और शांति का अनुभव होगा। बिर की ये अनुछई मोन्स्ट्री आपकी बिर की बकेट लिस्ट में जरूर होनी चाहिए। ये जगह आपकी बिर की यात्रा को शानदार बना देगी। बिर आएँ तो साक्य दिर्रू मोनेस्ट्री आना न भूलें।

4- ज़ाबसांग चोएखोर लिंग

ये मोनेस्ट्री बिर की सबसे नवीनतम मठों में से एक है। ज़ाबसांग चोएखोर लिंग मोनेस्ट्री बिर से कुछ ही किलोमीटर दूर चौंतड़ा में स्थित है। इस मोनेस्ट्री का उद्घाटन 28 अप्रैल 2014 को दलाई लामा के द्वारा किया गया था। ज़ाबसांग चोएखोर लिंग मोनेस्ट्री चारों तरफ से पहाड़ और खूबसूरत जंगलों से घिरी हुई है। कुछ देर भीड़भाड़ से दूर शांति से वक्त बिताने के लिए ये मोनेस्ट्री एकदम परफेक्ट है।

5- भुमांग जम्पालिंग मोनेस्ट्री

हिमाचल प्रदेश के बिर से लगभग कुछ ही दूरी पर एक जगह है, चौगान। चौगान में ही बेहद शानदार भुमांग जम्पालिंग मोनेस्ट्री है। ये मोनेस्ट्री तिब्बतन बौद्धिज्म के द्रिकुंग काग्यु लिनगे का प्रतीक है। इस मठ की स्थापना जोंगसार रिन्पोचे के द्वारा की गई थी। बहुत कम फीस देकर आप भुमांग जम्पालिंग मोनेस्ट्री में ठहर भी सकते हैं और लामाओं के साथ प्रार्थना में शामिल भी हो सकते हैं।

6- त्सेरिंग जोंग मोनेस्ट्री

बिर की तिब्बतन कॉलोनी के पास में ही त्सेरिंग जोंग मोनेस्ट्री स्थित है। ये मठ तिब्बती आर्किटेक्चर में बना हुआ है। इस मोनेस्ट्रीज में लामाओं के घर भी हैं। त्सेरिंग जोंग मोनेस्ट्री का परिसर बेहद करीने से सजाया गया है। यहाँ के कैफे में आप तिब्बती फूड का स्वाद भी ले सकते हैं। त्सेरिंग जोंग मोनेस्ट्री वाकई में बेहद सुंदर और देखने के लिए भी काफी कुछ है। बिर जाएँ तो त्सेरिंग जोंग मोनेस्ट्री को भी देख सकते हैं।

7- न्यिंगयांग मोनेस्ट्री

न्यिंगयांग मोनेस्ट्री हिमाचल प्रदेश के बिर की लैंडिग साइट से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। मठ के परिसर में चलते हुए आपको अपार शांति का अनुभव होगा। मोन्स्ट्री की इमारत और हॉस्टल की बिल्डिंग शानदार रंगों से सजी हुई है। पूरी मोनेस्ट्री में आपको बौद्ध और तिब्बतन संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी। बिर जाएँ तो न्यिंगयांग मोनेस्ट्री को भी जरूर देखें।

क्या आपने हिमाचल प्रदेश के बिर की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना टेलीग्राम पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।