80 दिन और 2 दोस्त: जानिए कैसे इन 81 वर्षीय महिलाओं ने घूम डाली दुनिया 

Tripoto
2nd May 2023
Photo of 80 दिन और 2 दोस्त: जानिए कैसे इन 81 वर्षीय महिलाओं ने घूम डाली दुनिया by Priya Yadav

अगर आपने फिल्म ऊंचाई देखी है तो अपने देखा होगा कि कैसे अपने दोस्त की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए अमिताभ बच्चन और उनके दोस्त बुजुर्ग होने का बावजूद भी माउंट एवरेस्ट पर चले जाते है। ऐसी ही कुछ कहानी टेक्‍सास के दो दोस्‍तों की है। जिस उम्र में घर से बाहर निकलना भी मुश्किल होता है, उस उम्र में दोनों कैसे एक साथ दुनिया घूम घूमने निकल गई।दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जो सभी रिश्तों से परे है। हम जो कुछ एक दोस्त के साथ मिल कर कर सकते है वो किसी और के साथ नही। दोस्तों के साथ असंभव कार्य भी आसानी से संभव हो जाता हैं। एज बस एक नंबर है और जब दोस्त साथ हो तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता आप बस कुछ भी कर गुजरते है और ये बात 81 वर्ष की इन दोस्तो ने साबित कर दी।

Photo of 80 दिन और 2 दोस्त: जानिए कैसे इन 81 वर्षीय महिलाओं ने घूम डाली दुनिया by Priya Yadav

दरअसल, टेक्‍सास के सैंडी हेजेलिप और ऐली हैम्बी की दोस्ती 23 साल पहले जाम्बिया के एक हेल्थ कैंप में हुई थी। हेजेलिप डॉक्टर हैं और हैम्बी फोटोग्राफर। एक दिन खाने की टेबल पर बातो ही बातों में दोनों ने दुनिया घूमने का प्लान बनाया था ।लेकिन वह अक्सर टल ही जाता था इसके बादा दोनों ने 81 साल की उम्र में अपना ये अनोखा सफर किया। हेज़ेलिप कहती हैं कि हम ये तब से सोच रहे थे, जब से हम 80 साल के हुए थे। हमें ये आईडिया केवल इसलिए आया क्योंकि हम पहले भी विदेशों की ट्रिप कर चुके हैं। लगभग चार साल पहले मैंने एक दिन उसे कहा, 'ऐली, क्या 80 की उम्र में 80 दिनों में दुनिया भर में घूमना मजेदार नहीं होगा?" पहले उन्होंने 2022 में इस ट्रिप को प्लान किया था। जब वो 80 साल के होते लेकिन कोरोना महामारी के कारण उनको अपना प्लान बदलना पड़ा। ये दोनों अब तक लंदन, ज़ांज़ीबार, ज़ाम्बिया, मिस्र, नेपाल, बाली और भारत में घूम चुके हैं।

18 देशों की कर चुकी हैं यात्रा

उन दोनों ने अपनी यात्रा के दौरान सात महाद्वीपों के 18 देशों का दौरा किया। जिसमे ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया, जापान, नेपाल, फिनलैंड, अर्जेंटीना और भारत जैसे देश शामिल है।उन्होंने अर्जेंटीना से विमान पकड़ा और फ‍िर एक नौका से ड्रेक पैसेज को पार करके वे उस महाद्वीप तक गईं जहां कोई नहीं जाता था। उन्होंने ब्‍लॉग और सोशल मीडिया के जरिए हर जगह की जानकारी लिखती गईं।समय कम था तो हवाई अड्डों पर ही सोती थीं। वे कई बजट होटलों में रुकीं, ऐली का कहना था जब आप घूमने निकले हों तो महंगे होटलों में रुकने की क्‍या जरूरत, इससे आप वहां की हकीकत नहीं जान पाएंगे।छोटे होटल सबसे बेहतर हैं या किसी के घर भी आप रुक सकते हैं।छोटे बाजारों में जाएं वहां सस्‍ता सामान आपको मिलेगा।इससे आप वहां की संस्कृति को जान पाएंगे।

वे कहती है रहस्यमय ईस्टर द्वीप छोड़ने के बाद हमने पेरू जाने और माचू पिच्चू के लिए ट्रेन लेने की योजना बनाई।मगर पेरू और विशेष रूप से माचू पिचू क्षेत्र में राजनीतिक हिंसा के कारण यात्रा के इस हिस्से को रद्द करना पड़ा।इसके बाद दोनों ने उत्तरी यूरोप और आर्कटिक सर्कल की यात्रा की, जहां वे हिरन से मिले, कर्कश खींची हुई बेपहियों की गाड़ी पर सवार हुईं।दक्षिण अफ्रीका जाने से पहले रोमन कोलिज़ीयम, सिस्टिन चैपल, नोट्रे डेम और बकिंघम पैलेस सहित यूरोप के ऐतिहासिक स्थलों का दौरा किया।अफ्रीका में हैम्बी ज़ांज़ीबार द्वीप गईं।मसालों के ऐतिहासिक बंदरगाह को देखा और मिस्र का पिरामिड देखने भी पहुंचे।

दोनों ने ताजमहल के सामने क्लिक की गई तस्वीर को शेयर किया और एक लंबा नोट लिखा। उन्होंने इंस्टाग्राम पर लिखा, "कितना अद्भुत दृश्य है! अगर आप उत्सुक हैं तो यहां बताया गया है कि तस्वीर कैसे ली गई। हमारे गाइड अनिल एक अद्भुत फोटोग्राफर थे और उन्होंने इस तस्वीर के लिए बहुत ही स्मार्ट तकनीक का इस्तेमाल किया। "वहां पानी नहीं था," लेकिन उसने मेरी पानी की बोतल ली और लगभग 1/4 कप संगमरमर के फर्श पर उड़ेल दिया। वह जानता था कि लाइट ताज के प्रतिबिंब के लिए सही थी। वो संगमरमर पर लेट गया और कैमरे को संगमरमर पर तिरछा करके शॉट लिया। पानी का वास्तविक क्षेत्र लगभग 15 इंच चौड़ा था, हालांकि यह लगभग एक झील जैसा दिख रहा है,जोकि बिल्कुल आश्चर्यजनक परिणाम था!"इतना ही नहीं, ये जिगरी दोस्त रिक्शा लेकर पुरानी दिल्ली भी घूमने निकल गए।

Photo of 80 दिन और 2 दोस्त: जानिए कैसे इन 81 वर्षीय महिलाओं ने घूम डाली दुनिया by Priya Yadav

एडवेंचर के लिए उम्र नहीं है बाधा

अपने एडवेंचर के बारे में बात करते हुए, हैम्बी ने कहा, "हम उन सभी स्थलों से प्यार करते हैं जिसे हमने देखा,उन्होंने लेकिन जिन चीज़ों को हम सबसे ज्यादा याद करते हैं, वह है वे लोग जिनसे हम मिले थे,हम दुनिया के कुछ सबसे अद्भुत, दयालु, सबसे मिलनसार लोगों से मिले। दुनिया भर में हमारे अभी दोस्त हैं जिन्हें हम बहुत प्यार करते हैं।"हेज़ेलिप ने यह भी बताया कि कैसे 81 वर्ष उनके एडवेंचर को शुरू करने के लिए "सही उम्र" है। उन्होंने कहा, "उम्र बढ़ने से आपको निर्णय लेने का थोड़ा ज्ञान मिलता है, और इसलिए यह मजेदार हिस्सा है।मुझे लगता है कि इस उम्र में मैं सुंदरता की बहुत सराहना करती हूं और मैं वास्तव में इसे आत्मसात कर सकती हूं और मेरे लिए, यह जाने के लिए एकदम सही उम्र थी।

सोशल मीडिया पर छाए दोनों दोस्त

दोनो ही दोस्त सोशल मीडिया पर छाए हुए है। इंस्टाग्राम पर दोनों ही दोस्तों ने aroundtheworldat80 नाम का अकाउंट बनाया है।जिसमें वह अपने ट्रिप से जुड़ी सभी जानकारी शेयर करते हैं। जहां उन्हें 21 हजार से ज्यादा यूजर्स फॉलो करते हैं।फिलहाल अब सोशल मीडिया पर इन दो दोस्तों के कारनामों की चर्चा हो रही है। यूजर्स का कहना है कि उन्होंने साबित कर दिया है कि कुछ खास या फिर एडवेंचर करने के लिए उम्र कोई मायने नहीं रखता है।

क्या आपने हाल में कोई की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।