2020 के पहले दिन को कैसे बनाएँ खास? इन जगहों पर बनाओ परिवार के साथ पिकनिक का प्लान!

Tripoto

कहते हैं जो काम पहली जनवरी को करो, वो काम साल भर करना पड़ता है। अगर ऐसी ही बात है तो मैं बॉस से छुट्टी लेकर पिकनिक का प्लान बनाना चाहूँगा, क्या पता साल भर छुट्टी मिलती रहे। साल की शुरुआत इससे अच्छी शायद ही हो। अगर आपको मेरा ये प्लान अच्छा लगे तो अपने नज़दीक पिकनिक के स्पॉट तय कर लो। यहाँ हम बता रहे हैं वो जगहें, जो आपके नए साल के बेस्ट रहेंगी।

1. दिल्ली

पहली जनवरी को दिल्ली के लोधी गार्डन के हरे-हरे बाग़ बगीचों के बीच दिन गुज़ारना सबसे शानदार प्लान होगा। सफदरजंग के पास स्थित इस गार्डन की कोई फ़ीस भी नहीं है और परिवार के साथ अच्छा समय गुज़ारना यहाँ बहुत अच्छा रहेगा। लोधी गार्डन के अलावा हुमायूँ का मक़बरा या हौज़ ख़ास जाना भी एक अच्छा विकल्प है।

थोड़ा सा एडवेंचर का शौक़ रखने वालों के लिए फ़रीदाबाद में बसा धौज अच्छी जगह है। पहाड़ों की चढ़ाई से लेकर रैपलिंग भी कर सकते हैं यहाँ। और तरह तरह के देसी शौक़ पूरे करने के लिए यहाँ आना तो बनता है।

2. लखनऊ

लखनऊ के हज़रतगंज में है बोटेनिकल गार्डन। यूँ तो विज्ञान से लेना देना है इस जगह का, लेकिन लोगों के लिए भी खुला है तो देखने जाना बनता है। हरे भरे पेड़ पौधों के बीच पहली जनवरी गुज़ारना इससे अच्छा अनुभव नहींं हो सकता।

लखनऊ में नवाब वाजिद अली शाह चिड़ियाघर जाने का प्लान भी बना सकते हैं आप। हज़ार क़िस्म के जानवरों से और 100 से भी अधिक क़िस्म की प्रजातियाँ लखनऊ के इस चिड़ियाघर में मिलती हैं।

गोमती रिवर फ़्रंट कुछ समय में लखनऊ का नया पिकनिक स्पॉट बना है। ताज़ी ठंडी हवा और शानदार नज़ारे देखने हर दिन सैंकड़ों लोग आते हैं यहाँ। शाम के वक़्त इस पिकनिक स्पॉट पर जाने का प्लान ठीक रहेगा। एम्फ़िथिएटर है, म्यूज़िकल फाउन्टेन देखकर नया साल ख़ुशी के साथ बिताइए।

3. पटना

नए साल की शुरुआत करने के लिए पटना साहिब गुरुद्वारा में सेवा करने से अच्छा क्या होगा। पटना साहिब का यह गुरुद्वारा अपने में ऐतिहासिक महत्त्व रखता है। सैकड़ों श्रद्धालु यहाँ पर आते हैं। नया साल यहाँ से शुरू करने का प्लान बना सकते हैं आप।

पटना का महात्मा गाँधी सेतु भारत का दूसरा सबसे बड़ा ब्रिज है। 5.7 किमी0 लम्बा यह ब्रिज गंगा नदी के ऊपर से होकर गुज़रता है और आकर्षण का मुख्य केन्द्र है। नए साल पर यहाँ घूमने का प्लान बना सकते हैं।

पटना के बुद्ध स्मृति उद्यान को देखने का मौक़ा नए साल पर सबसे अच्छा रहेगा। अपने आस-पास हो रहे लड़ाई झगड़े से दूर भगवान बुद्ध की शरण में शान्ति के कुछ पल बिताएँ। यहाँ पर एक म्यूज़ियम भी है जहाँ भगवान बुद्ध की अस्थियों का कुछ हिस्सा स्थापित किया गया है। सुबह व शाम के समय लोग ध्यान करने, व्यायाम करने आते हैं यहाँ।

4. वाराणसी

काशी तो शहर है भगवान भोलेनाथ का। पूरा बनारस ही है घूमने के लिए। लेकिन नए साल की बात आती है तो काशी विश्वनाथ मंदिर जाकर दिन की शुरुआत करने से बेहतर क्या रहेगा।

इसके अलावा अस्सी घाट या फिर दशाश्वमेध घाट जाने का प्लान बना सकते हैं।

बनारस में दूसरी संस्कृतियों से जुड़े कई मंदिर भी हैं जिन्हें घूमने जाना नए साल पर जाने का अच्छा मौक़ा निकाला जा सकता है। जैसे नेपाली मंदिर, चाइनीज़ मंदिर और तिब्बती मंदिर

5. राँची

राँची का नाम सुनकर लोगों के ज़हन में जंगल वाली भावना आती है। झारखंड की राजधानी देश की सबसे ख़ूबसूरत जगहों में से एक है। आप नए साल के मौक़े पर दस्सम, हुद्रू और जोन्हा झरना देखने जा सकते हैं। इनके अलावा देखने में पत्रातु वैली भी बहुत अच्छी है।

परिवार के साथ प्रार्थना करने के लिए जगन्नाथ और देवरी मंदिर जाने का प्लान बना सकते हैं। सूर्य मंदिर और पहाड़ी मंदिर भी जा सकते हैं।

नए साल के मौक़े पर किसी शान्त जगह की तलाश में रॉक गार्डन या बिरसा ज़ूलॉजिकल पार्क जाना सही रहेगा।

नए साल के मौक़े पर आपने क्या प्लान बनाया है, हमें कमेंट बॉक्स में बताएँ।

अपनी यात्राओं के अनुभव को Tripoto मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

रोज़ाना वॉट्सऐप पर यात्रा की प्रेरणा के लिए 9319591229 पर HI लिखकर भेजें या यहाँ क्लिक करें।