सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय

Tripoto
Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA
Day 1

किसी ने सच ही कहा है कि "जिंदगी एक सफर है, निकलोगे तभी तो पहुंचोगे..." और कभी कभी जहां आपको पहुंचना होता है वहां की खूबसूरती के साथ वो पूरा सफर भी हमेशा के लिए आपकी प्यारी यादों में बस जाने वाला होता है। एक ऐसा सफर जिसकी हर एक याद आपके चेहरे पर एक मुस्कान लाने के लिए काफी होती है। आज हम आपको एक ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पहुंच कर आपको उस स्थान की अद्भुत खूबसूरती से तो प्यार हो ही जाएगा साथ ही आपका देशप्रेम भी कोई गुना बढ़ जाएगा। और तो और इस जगह पहुंचने के लिए जिन रास्तों से आप गुजरेंगे उनकी यादें हमेशा के लिए आपको ऐसी लॉन्ग ड्राइव का दीवाना बना देगी। साथ ही एडवेंचर लवर्स के लिए इसी रास्ते में आपको दुनिया की सबसे खतरनाक सड़कों में से एक पर सफर करने का अनुभव भी मिल जाएगा।

हम बात कर रहे हैं सोनमर्ग से जोजिला पास होते हुए "कारगिल युद्ध स्मारक" तक के हमारे सफर की जिसे हमारी अभी तक की सबसे खूबसूरत लॉन्ग ड्राइव कहना गलत नहीं होगा। तो चलिये आपको बताते हैं इस सफर की पूरी जानकरी...

Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA

सोनमर्ग से जीरो पॉइंट

सोनमर्ग से "जीरो पॉइंट", एक ऐसा स्थान जो जम्मू कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र के बीच केंद्र बिंदु है। "जीरो पॉइंट" की ऊंचाई समुद्र तल से 11649 फीट (3350 मीटर) है और यह भारत और पीओके के बीच नियंत्रण रेखा के बहुत करीब है। सोनमर्ग के कुछ हरे-भरे पहाड़ों और कुछ रेतीले पहाड़ों और उनके बीच बहती हुई खूबसूरत सिंध नदी, ऐसे ही अदभुत नज़ारे जैसा हम

अक्सर किसी फिल्म में देखा करते हैं... इन दृश्यों के साथ सफर की शुरुआत होती है। राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़ी संख्या में हमारे सेना के जवानों के साथ कई सेना के ट्रक आपको इस पूरे सफर में मिलते हैं जो भी इस सफर को और भी यादगार बनाता है।

Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA
Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA

सोनमर्ग से करीब 30 मिनट ड्राइव करने के बाद हम बालटाल पहुंचे (अमरनाथ यात्रा की तीर्थयात्रा के लिए एक महत्वपूर्ण स्थान) और सड़क के दोनों तरफ का नजारा और भी खूबसूरत हो गया। अब तक सड़क की स्थिति बहुत अच्छी थी और अक्टूबर का महीना होने के कारण पर्यटकों की आवाजाही बहुत अधिक नहीं थी। हमें रास्ते में ज्यादातर सेना के ही ट्रक मिल रहे थे। बालटाल के बाद जीरो प्वाइंट की दूरी लगभग 17 किलोमीटर थी और बालटाल से 15-20 मिनट चलने के बाद हमने देखा कि खराब सड़क शुरू हो गई है तो हमें एहसास हुआ कि हम दुनिया के सबसे खतरनाक सड़क मार्गों में से एक जोजिला दर्रे को पार करने जा रहे हैं।

इस जगह पर लगातार भूस्खलन के कारण ज़ोजिला दर्रे की सड़कें बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। एक तरफ हमें डरावने पहाड़ दिख रहे थे जो किसी नए भूस्खलन के लिए तैयार दिख रहे थे और दूसरी तरफ बहुत गहरी खाई...

कुछ लोग सड़क के रखरखाव के लिए काम कर रहे थे और ऐसा लगता है कि वे इस तरह की जगह पर सड़क को चलने लायक स्थिति में रखने के लिए पूरे 365 दिनों तक काम करते हैं।

Photo of Kargil by WE and IHANA

सबसे खतरनाक लेकिन रोमांचक सफर के बाद हम जीरो पॉइंट पर पहुंचे जिसके लिए हमें पता चला कि इस पॉइंट पर एक तरफ जम्मू-कश्मीर है, एक तरफ लद्दाख है और एक तरफ POK है। जीरो पॉइंट पर कुछ दुकानें हैं जहाँ आप चाय, मैगी, नाश्ता आदि ले सकते हैं। साथ ही कुछ स्थानीय लोग वहाँ हाथ से बनी शॉल और अन्य कश्मीरी ऊनी सामान बेचते हैं।

हमने वहां कुछ खरीदारी की और कुछ तस्वीरें भी क्लिक कीं और फिर हम अपने गंतव्य- कारगिल युद्ध स्मारक के लिए आगे बढ़े।

जीरो पॉइंट से कारगिल युद्ध स्मारक

जीरो पॉइंट से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी बची थी और अभी भी लगभग 3-4 किलोमीटर सड़क की स्थिति अच्छी नहीं थी और निर्माण कार्य लगातार चल रहा था। साथ ही जीरो पॉइंट से 3-4 किमी के बाद ज़ोजिला युद्ध स्मारक भी था। ज़ोजिला युद्ध स्मारक के ठीक बाद सड़क की स्थिति बहुत अच्छी हो गई और हमने यह भी महसूस किया कि प्रकृति ने दुनिया के इस हिस्से को कितना सुंदर बनाया है। लैंडस्केप में अचानक परिवर्तन देखना वास्तव में बहुत आश्चर्यजनक था।

Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA
Photo of सोनमर्ग से कारगिल रोड ट्रिप के दौरान इन जगहों के लिए भी निकालिए कुछ समय by WE and IHANA

कुछ देर बाद हम कारगिल के एक चेकपोस्ट पर पहुंचे जहां आपको कारगिल क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए बेसिक डिटेल्स बतानी होगी। इस स्थान पर हमें कुछ बम की आवाजें सुनाई देने लगीं और हम उत्सुक हो गए कि क्या हो रहा है। हमने एक सैन्यकर्मी से पुष्टि की और उन्होंने कहा कि यह सिर्फ अभ्यास के लिए है और हमें आखिरकार राहत मिल गई 😉

Photo of Kargil by WE and IHANA

द्रास

कुछ देर बाद हम द्रास पहुंचे जो दुनिया की दूसरी सबसे ठंडी जगह है। द्रास 1999 के कारगिल युद्ध के केंद्र के लिए भी प्रसिद्ध है। फिर हमने इस अनोखे सुरम्य परिदृश्य का और भी अधिक आनंद लेना शुरू कर दिया जैसा हमने पहले कभी नहीं देखा था और हिमालय के एक अलग दृश्य से पूरी तरह से मंत्रमुग्ध थे। कम मोड़ और घुमाव और अच्छी तरह से बिछाए गए डामर के साथ सड़क की स्थिति बहुत अच्छी थी। सड़क के दोनों ओर के नज़ारे बहुत खूबसूरत थे, दोनों तरफ अनोखे पहाड़ और एक तरफ नदी, ऐसा लगा जैसे हम किसी सपनों की दुनिया से गुजर रहे हों।

Photo of Kargil by WE and IHANA
Photo of Kargil by WE and IHANA

द्रास से कारगिल युद्ध स्मारक केवल 10 किलोमीटर के आसपास था और सुंदर और अविस्मरणीय यात्रा के बाद आखिरकार हम स्मारक पर पहुंच गए। कोई प्रवेश टिकट नहीं था और इसे भारतीय सेना द्वारा बनाया गया है। यह भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 के कारगिल युद्ध के हमारे शहीदों की याद में बनाया गया है। वहां से हम प्रसिद्ध टाइगर हिल चोटी को देख सकते थे और हमें यह भी पता चला कि इस जगह पर पाकिस्तानी सेना उन पहाड़ों की चोटी पर बैठी थी और फिर हमारी सेना ने अपने शौर्य और बलिदान से पहाड़ों के नीचे होने के बाद भी उन्हें खदेड़ कर पाकिस्तान वापस भेज दिया।

Photo of Kargil by WE and IHANA
Photo of Kargil by WE and IHANA

एक बलुआ पत्थर की दीवार युद्ध में शहीद हुए सभी सैनिकों के नाम प्रदर्शित करती है। स्मारक से, वे सभी चोटियाँ दिखाई देती हैं जिन पर पाकिस्तानी सैनिकों ने कब्जा कर लिया था, और बाद में भारतीय सेना द्वारा पुनः कब्जा कर लिया गया था।

Photo of Kargil by WE and IHANA
Photo of Kargil by WE and IHANA

यहाँ युद्ध समाधिक्षेत्र भी है, जो युद्ध में शहीद हुए हर सैनिक के लिए एक श्रद्धांजलि है। एक पाकिस्तानी बंकर भी है जिस पर हमने युद्ध के दौरान कब्जा कर लिया था। कारगिल युद्ध में इस्तेमाल हुए टैंक और तोपों को भी देखने का अवसर मिला। साथ ही आप लगभग 10 मिनट की कारगिल युद्ध के बारे में एक सुंदर प्रस्तुति फिल्म भी देख सकते हैं।

Photo of Kargil by WE and IHANA
Photo of Kargil by WE and IHANA

यह भारतीय इतिहास में एक बहुत ही महत्वपूर्ण जगह है लेकिन अगर हम प्राकृतिक रूप से देखें तो भी यह एक बहुत ही खूबसूरत जगह है। तो हम जरूर कहेंगे कि जब भी आपको समय मिले आप इस जगह की यात्रा अवश्य करें और इस जगह की यात्रा का आनंद भी लें और यदि आप पहले से ही वहां जा चुके हैं तो कृपया अपना अनुभव कमेंट में अवश्य लिखें।

Photo of Kargil by WE and IHANA

यदि आप इस यात्रा के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो आप हमारे व्लॉग को भी देख सकते हैं और हमारी कश्मीर यात्रा के अन्य वीडियो और अन्य खूबसूरत स्थलों को देखने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक से हमारे YouTube चैनल WE and IHANA पर जा सकते हैं:

YouTube चैनल लिंक:

https://youtube.com/c/WEandIHANA

क्या आपने हाल में कोई की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

Tagged:
#video