Paravur 1/undefined by Tripoto

Paravur

Mohit Gosain
पारावुर बीचवर्कला से बहुत पास यह खूबसूरत अनसुना बीच है। काफी सारी चट्टानों से लहरें टकराती हैं और यह देख कर समां बंध जाता है ।एलीफैंट शेडपूठाकुलम में स्थित, एलीफैंट शेड तब चर्च में आया जब यहाँ शिवन कुट्टी ने जन्म लिया, जो कि यहाँ के घरेलु हाथियों का पहला बच्चा था। आप उनके साथ ज़रूर फोटो खींच सकते हैं पर ₹100 का एक करारा नोट भी साथ देना होगा। केले खिलाना मत भूलना जो साथ ही एक दुकान से मिल जाएँगे।अपने लिए ताज़ा मछली खरीदें मछुआरों को लहरों से लड़ते देखना और दिन की ताज़ा मछली पकड़ कर लाना एक अलग ही नज़ारा है। केकड़े से लेकर स्टिंग रे तक, इससे ज़्यादा ताज़ा मछली कहीं नहीं मिल सकती। किसी को अगर कुछ बड़ा हाथ लगा, तो सबके सामने बोली लगेगी। फिर बोली के हिसाब से आप या फिर मार्किट वाले, कोई भी जीत सकता है। यह देखने के लिए आपको पारावुर बीच पर 6 बजे से पहले पहुँचना ज़रूरी है।