साउथ इंडिया का पहला ग्लास ब्रिज, जो ऊंचे पहाड़ों का 360 डिग्री दृश्य करता है पेश

Tripoto
18th Aug 2022
Photo of साउथ इंडिया का पहला ग्लास ब्रिज, जो ऊंचे पहाड़ों का 360 डिग्री दृश्य करता है पेश by Pooja Tomar Kshatrani
Day 1

जब भारत में घूमने की कुछ पॉपुलर जगहों की बात आती है तो उसमें केरल का नाम जरूर लिया जाता है। कपल्स के अलावा फैमिली ट्रिप के लिए भी यह एक बेहतरीन जगह है। यूं तो केरल में अलेप्पी से लेकर कोचीन, मुन्नार जैसी कई खूबसूरत जगहें स्थित हैं, लेकिन वायनाड का अपना एक अलग ही चार्म है। यह केरल के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। वायनाड पूरे साल अपनी सुखद जलवायु और अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। इसलिए, लोग अक्सर यहां आना पसंद करते हैं। अब इसी शहर में दक्षिण भारत का पहला ग्लास ब्रिज बनाया गया है, जो पर्यटकों को केरल की खूबसूरती को करीब से देखने का एक मौका देता है।

पूरी तरह से कांच से बना है यह 900 कंडी ग्लास ब्रिज

Photo of साउथ इंडिया का पहला ग्लास ब्रिज, जो ऊंचे पहाड़ों का 360 डिग्री दृश्य करता है पेश by Pooja Tomar Kshatrani

वायनाड में बना ये कांच का पुल 100 फीट ऊंचा है, जो एक प्राइवेट कंपनी के द्वारा बनाया गया है। यह ग्लास ब्रिज, केरल के पहाड़ों की खूबसूरती को निहारते हुए हवाओं में ठहर कर उनसे बातें करने का एक सुनहरा अवसर प्रदान करता है। यह ब्रिज कांच का बनाया गया है और चारों तरफ से पहाड़ों से घिरा हुआ है, जो पर्यटकों को एक शानदार अनुभव देता है। यहाँ आपको एक लंबा झूला और बहुत सी एक्टिविटीज भी करने को मिलेगी।

900 कंडी ब्रिज पर लाईट की सुविधा नहीं

Photo of साउथ इंडिया का पहला ग्लास ब्रिज, जो ऊंचे पहाड़ों का 360 डिग्री दृश्य करता है पेश by Pooja Tomar Kshatrani

900 कंडी पर बने इस ग्लास ब्रिज पर किसी प्रकार की कोई लाईट की सुविधा नहीं दी गई है। इसीलिए सुरक्षा के दृष्टिकोण से यहां शाम के समय या शाम के बाद पर्यटकों को जाने पर मनाही है।

प्रवेश शुल्क : 100 रुपये /व्यक्ति आधे घंटे के लिए

टाइमिंग - सुबह 9:00 बजे से लेकर शाम 6:00 बजे तक

कैसे पहुंचें 900 कंडी ग्लास ब्रिज

Photo of साउथ इंडिया का पहला ग्लास ब्रिज, जो ऊंचे पहाड़ों का 360 डिग्री दृश्य करता है पेश by Pooja Tomar Kshatrani

900 कंडी ग्लास ब्रिज पहुंचने के लिए सबसे नजदीकी हवाई अड्डा कोझिकोड है, जो वायनाड से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। वहीं, यहां पहुंचने के लिए सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन कोझिकोड है, जो वायनाड से करीब 85 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इसके अलावा यहां के लिए नियमित अंतराल पर बसें भी चलती हैं और तो और निजी वाहन से भी पहुंचा जा सकता है।

यहां आने का सबसे अच्छा समय - मई से लेकर सितंबर तक