हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद 

Tripoto
Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद by Manju Dahiya

स्वादिष्ट खाना मेरी किसी भी यात्रा का एक अहम हिस्सा होता है, इसलिए डलहौज़ी जाने से पहले, मैंने बहुत लोगों से वहाँ खाने की अच्छी जगहों के बारे में जानना चाहा पर कहीं से भी कोई ख़ास जानकारी नहीं मिली। शायद इसलिए, वहाँ मनपसंद खाना मिलने की उम्मीद कुछ कम ही थी।

लेकिन डलहौज़ी पहुँचकर मुझे बहुत ख़ुशी हुई क्योंकि यहाँ पर बहुत सारी जगहों पर स्वादिष्ट और पसंदीदा खाना मिल रहा था। लेकिन इसके पहले मैं आपको उन सभी जगहों के नाम बताऊँ, कुछ चीज़ें हैं जिन्हें ध्यान में रखना ज़रूरी है।

-यहाँ के होटलों में मांसाहारी खाने पर ज़ोर नहीं दिया जाता। और जो लोग नॉन-वेज परोसते हैं, वे अक्सर चिकन के बजाय मटन रखते हैं।

-ऑफ-सीज़न के दौरान कई होटल अपना मेन्यू सीमित रखते हैं। हालांकि टूरिस्ट सीजन के दौरान आपको फ़ूड लिस्ट में कई सारी चीज़े मिल जाएँगी।

-मेन्यू में ज्यादा वेरायटी नहीं है और खाने में पंजाबी ढंग झलकता है।

अब मैं आपको उन जगहों के बारे में बताती हूँ जहाँ स्वाद का भरपूर आनंद लिया जा सकता है:

हिमाचली किचन - बेस्ट फ़ूड

Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  1/6 by Manju Dahiya
Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  2/6 by Manju Dahiya

यह मेरी डलहौज़ी ट्रिप की सबसे अच्छी जगह थी। हिमाचली किचन, मोती टीबा में बना एक छोटा, पारंपरिक रेस्तरां है जो हिमाचली भोजन परोसने के लिए जाना जाता है। यह एकलौती जगह है जो यहाँ पर पारंपरिक हिमाचली भोजन परोसता है। मेन्यू लिमिटेड है लेकिन खाना खुशबूदार, स्वादिष्ट और ऑर्डर करने पर फ़्रेश तैयार किया जाता है।

मेन्यू में कुछ आइटम ऐसे हैं जो पूरे साल नहीं बल्कि सीजन के आधार पर मिलते हैं ।

कीमत: दो लोगों के लिए करीब 600 रु

भोजन: हिमाचली, नॉर्थ इंडियन

स्पेशल : नॉन-वेज हिमाचली थाली, मटन रारा, राजमा, मीठे चावल, चाशनी

समय और स्थान: सुबह 8 बजे से रात 11 बजे; सुभाष चौक रोड

संपर्क: 94180 10531

मोंगा कैफे

Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  3/6 by Manju Dahiya

अब पारंपरिक हिमाचली फ़ूड से कॉन्टिनेंटल फ़ूड की ओर बढ़ते हैं। इसके लिए मॉल रोड पर बना मोंगा कैफे है। अनोखे ढंग से सजाया गया यह खूबसूरत रेस्तरां डल्हौजी के कैफे कल्चर को दर्शाता है। कैफे कल्चर इस राज्य के अन्य हिल-स्टेशनों में काफ़ी प्रचलित है।

रोज़ वॉलपेपर, लकड़ी का फर्नीचर और बैठने की छोटी सी जगह ! इस कैफे का माहौल, एक कप कॉफी के साथ बुक रीडिंग के लिए एकदम परफेक्ट है। ऐसा नहीं है कि यहाँ केवल कॉफी ही मिलती है। वैरायटी के रूप में यहाँ पर पास्ता, पिज्जा, सैंडविच, बर्गर और यहाँ तक कि सिज़लर भी मिलता है ।

कीमत: दो लोगों के लिए करीब 500 रु

भोजन: मल्टी क्यूज़ीन, कैफे फ़ूड

स्पेशल: वाइट सॉस चिकन पास्ता, चिली चिकन, क्लब सैंडविच, हॉट कॉफी

समय और स्थान: सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक; द मॉल, डलहौजी

संपर्क: 94185 77777

कैफ़े डलहौज़ी

कैफे डलहौजी शायद यहाँ के सबसे पुराने कैफे में से एक है। होटल डलहौजी के ठीक नीचे बना यह एक छोटा-सा बजट कैफ़े है।अंडा भुर्जी और कॉफी से लेकर डोसा और चाइनीज़ आइटम तक, यहाँ पर सब कुछ मिलता है। यह जगह ब्रेकफास्ट और लंच के लिए बहुत मशहूर है।

इसके अंदर की सजावट, लकड़ी का फर्नीचर जो हरे रंग से पेंट किया गया है और दरवाजे के ठीक बाहर एक ब्लैकबोर्ड पर लगा मेन्यू, सारा स्टाइल इंडियन कॉफ़ी हाउस जैसा दिखता है। लेकिन यहाँ की सर्विस पीक सीजन के दौरान ही सबसे बढ़िया होती है जो ऑफ सीजन के समय थोड़ी धीमी रहती है।

कीमत: दो लोगों के लिए लगभग 300 रु

भोजन: मल्टी क्यूज़ीन, कैफे फ़ूड

स्पेशल: मसाला डोसा, मिनी पिज्जा, स्प्रिंग रोल, वेज सैंडविच, हॉट कॉफ़ी

समय और स्थान: सुबह 9.30 बजे से रात 9.30 बजे; द मॉल, डलहौजी

जे के क्लार्क्स एक्ज़ॉटिका

Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  4/6 by Manju Dahiya

कैफे से निकलकर अब हम फाइन डाइनिंग की ओर बढ़ते हैं। जे के क्लार्क्स एक्सोटिका का इन-हाउस रेस्तरां फैमिली लंच या रोमांटिक डिनर डेट के लिए एक शानदार जगह है। इस फाइव स्टार प्रॉपर्टी में एक शानदार मल्टी क्यूज़ीन मेन्यू है जो हर किसी के स्वाद के फिट बैठता है।

कीमत थोड़ी ज्यादा तो ज़रूर है, लेकिन खाने का स्वाद और तैयारी इससे कहीं बढ़कर है। इस जगह के लिए अपनी एक मील ज़रूर बचा के रखें और जब भी आपको कुछ मस्त और एक्जॉटिक खाने का मन हो तो यहाँ जाएँ।

कीमत: दो लोगों के लिए करीब 900 रु

भोजन: मल्टी कुइज़िन, कैफे फ़ूड

स्पेशल: मटन अदरकी, चिकन बिरयानी, शाही टुकडा

समय और स्थान: सुबह 9: 30 से रात 11.30 बजे ; चर्च बैलून रोड

क्वॉलिटी रेस्तरां

कहते हैं ओल्ड इज़ गोल्ड, क्वालिटी रेस्तरां भी कुछ ऐसा ही है। जब आप क्वॉलिटी में प्रवेश करते हैं, तो ऐसा लगता है कि मानों पुराने समय में वापस चले गए हों। यहाँ के सोफे, बढ़िया लाइटिंग और पुरानी वर्दी में वेटर, इन सब ने इस फाइन डाइनिंग जगह के 90 के दशक का आकर्षण अभी भी बनाए रखा है। यह जगह स्थानीय लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय है जो आमतौर पर अपने परिवारों के साथ यहाँ आते हैं। डिनर का समय आमतौर पर तब होता है जब ज्यादा लोगों की चहल-पहल नज़र आती है।

कीमत: दो लोगों के लिए करीब 500 रु

भोजन: नॉर्थ इंडियन, चाईनीज़

स्पेशल: दाल मखनी, हिमाचली चिकन करी, चिकन जल फ़्रेज़ी, छोले भटूरे

समय और स्थान: सुबह 9.30 बजे से रात 10.30; गांधी चौक

कालाटॉप टूरिस्ट रेस्ट-हाउस कैंटीन

Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  5/6 by Manju Dahiya

पहाड़ों की कोई भी यात्रा मैगी और चाय के कॉम्बिनेशन बिना पूरी नहीं होती। इसके लिए ऐसी जगह से बेहतर क्या हो सकता है जो एक वाइल्ड लाइफ सेंचरी के बीच,एक पहाड़ी की चोटी पर बनी हो।

कालाटोप टूरिस्ट रेस्ट हाउस डलहौज़ी के जंगल के बीच एक खूबसूरत जगह है। और उनकी कैंटीन बिल्कुल वही है जिसकी आप उम्मीद करते हैं - चारों ओर पहाड़ों के अद्भुत दृश्यों के बीच में एक अनोखी और आरामदायक जगह, जो सीधे किचन से ताजा और गर्मागर्म भोजन परोसती है । अगर आप मज़े के मूड में हैं, तो उनके पकोड़े आर्डर करें।

कीमत: दो लोगों के लिए लगभग 150रु

भोजन: फिंगर फूड

स्पेशल: सब्जी मैगी, अदरक की चाय, पकोड़े।

समय और स्थान: सुबह 9.30 बजे से रात 10.30; गांधी चौक

बालुन द्वार के सामने चाय की टपरी

Photo of हिमाचली थाली से मटन मोमोज़ तक, डलहौजी की सुंदर वादियों का बेहतरीन स्वाद  6/6 by Manju Dahiya

इस लिस्ट को खत्म करने से पहले, इस चाय के स्टॉल का जिक्र मैं ज़रूर करना चाहूँगी। डलहौज़ी-चंबा मार्ग पर बने बालुन कैंट के अंदर,यह एक छोटा सा चाय-स्टाल है जो सैन्य द्वार जिसे बालुन द्वार कहा जाता है, उसके ठीक सामने बना है ।

यह इतना छोटा है कि आप इसके पास से गुज़रते हुए भी इसे आसानी से मिस कर सकते हैं।तीन दिनों तक मोमोस और थुक्पा ढूँढ़ते हुए हमें अचानक ही यह जगह दिखाई जहाँ पर हमने सबसे स्वादिष्ट मटन सूप और मटन मोमोज खाए। लेकिन ध्यान रखें कि ये सब कुछ दोपहर के समय तैयार किया जाता है और सिर्फ शाम तक ही मिलता है।

कीमत: दो लोगों के लिए करीब 200 रु

भोजन: चाइनीज़

स्पेशल : मटन सूप, मटन मोमोज, वेज हाक्का नूडल्स

समय और स्थान: सुबह 9 बजे से रात 8.30 बजे; गांधी चौक

अगर मैंने डलहौजी की, किसी अन्य पसंदीदा जगह को मिस कर दिया है, तो ज़रूर कॉमेंट करें। मैं अपनी अगली यात्रा पर वहाँ ज़रूर जाना पसंद करूँगी। आप भी अपनी यात्राओं के अनुभव लाखों रीडर्स के साथ Tripoto पर शेयर कर सकते हैं।

Be the first one to comment