दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास..

Tripoto

दिल्ली से बनारस की दूरी सड़क मार्ग से 799 किलोमीटर है, लगभग आपको 12 घंटे का वक्त लग जाता है बनारस पहुंचने में. आगर आपको जल्दी बनारस पहुंचना है तो फ्लाइट बेस्ट ऑप्शन है लेकिन अगर आपको अपनी पॉकेट का भी ख्याल रखना है और थोड़ा टाइम आप इन्वेस्ट कर सकते हैं तो वंदेभारत ट्रेन बेस्ट है. ये ट्रेन आपको 8 घंटों में बनारस पहुंचाती है.

Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way
Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way

हमने सुबह 6 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से वंदेभारत ट्रेन पकडी. वंदेभारत के साथ ये हमारा पहला अनुभव था. अगर आप भी वंदे भारत से ट्रैवल कर रहे हैं तो देर ना करें क्योंकि यह ट्रेन बिलकुल ऑन टाइम रहती है, अपने प्रस्थान समय से 1 मिनट भी देर नहीं करती.

इसकी टिकट है 1890 रुपए की जिसमे खाना शामिल होता है. इस पूरी ट्रेन को अंदर से हवाई जहाज का लुक दिया गया है. पहला मील यानि ब्रेकफास्ट आपको सुबह 8 बजे सर्व किया जाता है. आप बुकिंग के टाइम अपना मेन्यू कस्टमाइज्ड करा सकते हैं टिकट का प्राइज उसके हिसाब से थोड़ा बढ़ भी सकता है.

Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way
Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way

ब्रेकफास्ट से पहले 7 बजे आपको सर्व होता है वेलकम स्नैक जो है चाय और बिस्कुट. फिर दोपहर 1 बजे लंच दिया जाता है जो की कप्लीट मील है. दाल, चावल, रोटी, सब्जी और दही. वहीं ब्रेकफास्ट और लंच के बीच में अगर आपको कुछ खाने का मन हो तो आप ऑर्डर कर सकते है लेकिन उसके लिए आपको अलग से पैसे देने होंगे.

बिना मीठे के हमारी मील कैसे कंप्लीट हो सकती है इसलिए लंच के बाद आपको सर्व की जाती है आइसक्रीम. कुल मिला के वंदेभारत में आपका सफर खाते-पीते निकलने वाला है. जहां तक खाने की बात है तो ब्रेकफास्ट और लंच दोनों का स्वाद अच्छा है.

Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way

ब्रेकफास्ट से पहले 7 बजे आपको सर्व होता है वेलकम स्नैक जो है चाय और बिस्कुट. फिर दोपहर 1 बजे लंच दिया जाता है जो की कप्लीट मील है. दाल, चावल, रोटी, सब्जी और दही. वहीं ब्रेकफास्ट और लंच के बीच में अगर आपको कुछ खाने का मन हो तो आप ऑर्डर कर सकते है लेकिन उसके लिए आपको अलग से पैसे देने होंगे.

बिना मीठे के हमारी मील कैसे कंप्लीट हो सकती है इसलिए लंच के बाद आपको सर्व की जाती है आइसक्रीम. कुल मिला के वंदेभारत में आपका सफर खाते-पीते निकलने वाला है. जहां तक खाने की बात है तो ब्रेकफास्ट और लंच दोनों का स्वाद अच्छा है.

Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way
Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way
Photo of दिल्ली-टू-बनारस यह सफर है खास.. by Travel sutra Suman's way

अगर आप बनारस घूमने के मकसद से आ रहे हैं तो हम आपको इस जगह ठहरने का सुझाव नहीं देंगे. क्योंकि यह घाट से बहुत दूर है ऐसे में आपका पूरा टाइम सिर्फ ट्रैवल में निकल जाएगा और आपकी पॉकेट पर एक्स्ट्रा बोझ भी डालेगा. आपको हर बार यहां से गोदौलिया तक जाने के लिए एक साईड का मिनिमम 200 रुपए देने होंगे. गोदौलिया यहां का मेन मार्केट है. यहीं से आप घाट भी जा सकते हैं, काशी विश्वनाथ मंदिर भी. इसलिए अच्छा यह होगा कि आप गोदौलिया या घाट के पास ही होटल देखे..

यह था पहली बार वंदे भारत ट्रेन से दिल्ली से बनारस जाने का हमारा अनुभव. अगले ब्लॉग में हम बताएंगे बनारस के टूरिस्ट प्लेस के बारे में.