थाइलैंड घूमने की प्लानिंग करने से पहले ठगी के इन तरीकों के बारे में ज़रूर जान लेना!

Tripoto

घर पर लॉकडाउन में बैठे बैठे आपनी घूमने की एक नई लिस्ट तो ज़रूर बना ली होगी, और इस लिस्ट में थाईलैंड का सपना भी ज़रूर शामिल होगा। चलिए जब आपने अपने वक्त का इतना अच्छा इस्तेमाल कर ही लिया है, तो थोड़ा सा वक्त इस आर्टिकल को पढ़ने में भी लगा लीजिए ताकी आपके फ्यूचर की थाइलैंड यात्रा आपको महंगी ना पड़ जाए!

थाईलैंड भारतीय पर्यटकों के बीच एक मशहूर जगह है, जहाँ हर कोई जाना पसंद करता है। आप भी वहाँ घूमने जाएँ लेकिन उससे पहले ये भी जान लें कि थाईलैंड में भी कई तरह से पर्यटकों को ठगा जाता है। तो, थाइलैंड में ऐसी ठगी से बचने के तरीक़े पढ़ लीजिए, ताकि बाद में अफ़सोस न हो।

1. होटल में होने वाली ठगी

थाइलैंड में ढेर सारे होटल वाले आपसे माँगते हैं सिक्योरिटी डिपोज़िट, यानि कुछ टूट फूट जाए तो उस सूरत में हर्ज़ाना (जिसमें कोई दिक्कत भी नहीं है)। लेकिन अगर बाद में होटल आपको सिक्योरिटी डिपोज़िट देने से मना करदे तो।

अधिकतर मौक़ों पर वो लोग आपके कमरे में जाते हैं सारा सामान चेक करने के लिए तो कभी तौलिया बदल देते हैं किसी गंदे तौलिए से, तो कभी कुछ। बाद में आपको सारा सिक्योरिटी डिपोज़िट जमा करके जाना पड़ता है।

कैसे बचें

अपनी निगरानी में ही चेक आउट कराएँ। इससे बचने का यही अंतिम और सरल तरीक़ा है।

2. ऑटो वाले भैया और उनका किराया

Photo of थाइलैंड घूमने की प्लानिंग करने से पहले ठगी के इन तरीकों के बारे में ज़रूर जान लेना! 1/2 by Manglam Bhaarat

थाइलैंड में ऑटो या टुक-टुक आपको हर जगह दिख जाएँगे। किसी भी वक्त ये आपको आपकी पसंदीदा जगह पर पहुँचाने को तैयार रहते हैं, लेकिन दिक्कत ये है कि ऑटो वाले ना तो आपको सफर से पहले ना ही सफर के वक्त किराया बताएँगे और फिर उतरते वक्त आपसे ऊँची कीमतें वसूल लेंगे!

कैसे बचें

इनसे बचने का देसी तरीक़ा है। बैठने से पहले ही पैसे की बात कर लो। चाहे जितना मोलभाव करना है और उसमें जितना वक़्त देना है, पहले ही कर लो। बाद में ना तो ये तुम्हारी सुनेंगे और ना तुम उनकी।

3. किराए पर बाइक

थाइलैंड में बाइक किराए पर लेकर घूमने का बहुत बड़ा व्यापार है। फ़र्ज़ करिए, आपने किसी कंपनी से बाइक किराए पर ली। इसके एवज में आपको अपना पासपोर्ट कंपनी को देना पड़ा। किसी कोने में आपने बाइक को खड़ा किया और उसे कोई चोरी करके भाग गया (ज़्यादातर मौकों पर ये उसी कंपनी का भेजा आदमी होता है)। या कंपनी ने बाइक पर लगने वाले डेंट और स्क्रैच के कारण लंबा बिल पकड़ा देती है।

कैसे बचें

आप होटल के कर्मचारी को कुछ पैसे दीजिए। वो आपको ख़ुद ही विश्वसनीय कंपनी का नाम और नंबर दे देगा जिससे आप बाइक किराए पर ले सकते हैं।

जहाँ तक बात रही पासपोर्ट की, तो ये किसी के हाथ गिरवी रखना अवैध है। इसलिए आप इसकी फ़ोटोकॉपी ही दीजिए।

और सबसे ज़रूरी बात, आप बाइक को किराए पर लेते समय ही वीडियो बना लीजिए ताकि बाद में दिखा सकें कि ये डेंट बाइक पर पहले से था या आपकी ग़लती से लगा।

4. फर्ज़ी पुलिस से सावधान

थाइलैंड में विदेशी सैलानियों को परेशान करने वाले लोगों की कमी नहीं है। लोग ख़ुद को बिना बात पुलिस वाला बताकर आपकी तलाशी ले लेते हैं और 100-150 डॉलर का जुर्माना लगा देते हैं। ये लोग काग़ज़ का टुकड़ा फेंकने पर भी पकड़ सकते हैं।

कैसे बचें

पुलिस वाले हमेशा अपने साथ आईडी कार्ड लेकर चलते हैं। बाकी आप समझदार हैं। वैसे काग़ज़ का टुकड़ा ज़मीन पर फेंकना कोई अच्छा काम नहीं है। इसे मत कीजिये।

5. मॉल में बैठे हुए ठग

आप हिन्दुस्तानी हैं। ये आपको बताने की ज़रूरत नहीं है, आप दिखते ही हिन्दुस्तानी हैं। लोग इस बात का फ़ायदा उठाकर आपको महँगे महँगे रेस्तराँ से शॉपिंग कराते हैं और पर्यटकों वाला किराया लेकर आपका फ़ायदा उठाते हैं।

कैसे बचें

वही तरीक़ा, जो आपको बचपन में सिखाया गया था। अनजान लोगों से हमेशा दूर रहें। जो लोग आप पर कुछ ख़रीदने का या कहीं चलने का दबाव बना रहे हैं, उनसे बचकर रहें।

6. रेस्तरां का बिलिंग सिस्टम

कई बार खु़द को स्वैग वाला दिखाने के चक्कर में बहुत बेवकूफ़ बनाया जाता है आपको। लोग आपके बिल में बहुत सारी ऐसी चीज़ें भी जोड़ देते हैं, जिनको आपने ऑर्डर भी नहीं किया। और जितना दाम लिखा गया है, उससे ज़्यादा दाम जोड़ देते हैं।

कैसे बचें

जिस चीज़ का जितना दाम है, उतना ही दें। बिल एक बार चेक कर लें ताकि ठगी से बच सकें।

7. स्पीडबोटिंग/जेट स्कींग में ठगी

Photo of थाइलैंड घूमने की प्लानिंग करने से पहले ठगी के इन तरीकों के बारे में ज़रूर जान लेना! 2/2 by Manglam Bhaarat

अगर आप अकेले हैं तो संभव है कि जेटस्कींग का फ़ायदा नहीं मिल पाए। या फिर आपको अकेला होने के कारण आलतू फालतू बोट पकड़ा दी जाए। इन सब मुश्किलों से अगर आप बच भी गए, तो लोकल लोग आपको परेशान करने की कोशिश करते हैं। बाद में दुकानदार आपसे बोट का ज़्यादा किराया माँगते हैं और जुर्माना वसूलते हैं जो आपने कभी किया ही नहीं।

कैसे बचें

यहाँ भी ठीक वैसा ही करना है जैसा किराए पर बाइक लेते वक़्त किया था। होटल के कर्मचारी से पूछिए सही जगह के बारे में और बोट लेते वक़्त वीडियो भी बनाइए।

कही गई बातें हो सकता है आपको बेवकूफ़ाना लगें लेकिन एक बात याद रखिए, सावधानी हटी दुर्घटना घटी। आप ख़ुद को बहुत स्वैग वाला बनाने के चक्कर में कब और कितने बेवकूफ़ बनेंगे, इसका अन्दाज़ा भी नहीं लगेगा। इसलिए ज़रूरी है अपना दिमाग़ खुला रखें और सोच समझकर फ़ैसले लें।

अगर आपके साथ भी ऐसी कोई घटना घटी है तो हमारे साथ कमेंट बॉक्स में साझा करें। और हो सके तो उसका उपाय भी।

अगर आपको अपने सफर से जुड़ी कोई जानकारी चाहिए तो Tripoto फोरम पर सवाल पूछें।

रोज़ाना वॉट्सऐप पर यात्रा की प्रेरणा के लिए 9319591229 पर HI लिखकर भेजें या यहाँ क्लिक करें।

यह एक अनुवादित आर्टिकल है। ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें।