ऐगलों सिख युद्ध के शहीदों को समर्पित है - पंजाब का फिरोजशाह मयुजियिम

Tripoto
10th Apr 2022
Day 1

#फिरोजशाह_मयूजियम
#पंजाब_टूरिज्म

दोस्तों पंजाब टूरिज्म की  पोस्ट में आपका सवागत हैं, पंजाब की धरती शहीदों की है, महाराजा रणजीत सिंह के समय पंजाब और अंग्रेजों के बीच सतलुज दरिया सरहद था, सतलुज के ऊपर का ईलाका जिसमें लाहौर, अमृतसर, जालंधर, तरनतारन तक महाराजा रणजीत सिंह के पास था, सतलुज का निचला ईलाका जिसमें लुधियाना, फिरोजपुर आता था अंग्रेजों के पास था। महाराजा रणजीत सिंह की मृत्यु के बाद अंग्रेजों ने धोखे से पंजाब पर कब्जे करने की शाजिश की लेकिन उसके लिए फिरंगियों को पंजाब के बहादुर शूरवीरों से लोहा लेना पड़ा,
वह बात अलग है हमारे कुछ गद्दार कमाडरों लाल सिंह और तेजा सिंह की वजह से हम अंग्रेजों से हार गए लेकिन हमें गर्व है हमारे पुरखों ने हमारी मिट्टी के लिए इतनी कुरबानी की हैं।
#फिरोजशाह_मयूजियम
दोस्तों यह फोटो जो आप मेरी पोस्ट में देख रहे हो, यह ऐगलो सिख वार मयूजियम फिरोजशहर की है। फिरोजशहर पंजाब के फिरोजपुर जिले में मोगा-फिरोजपुर हाईवे पर एक कसबा हैं, जहां पर पहली ऐगलो सिख वार की लड़ाई हुई थी, जहां यह मयूजियम बना हुआ है जो सिख सिपाहियों की बहादुरी के किस्से बताता हैं।
#पहली_ऐगलों_सिख_वार
यह लड़ाई 1845-46 में सिख और अंग्रेजों के बीच पांच जगहों पर हुई।
1. मुदकी की लड़ाई (18 दिसंबर 1845)
    जिला फिरोजपुर ( पंजाब )
2. फिरोजशहर की लड़ाई ( 21 दिसंबर 1845)
    जिला फिरोजपुर (पंजाब)
3.  बददोवाल की लड़ाई ( 21 जनवरी 1846)
       जिला लुधियाना पंजाब
4.  आलीवाल की लड़ाई ( 28 जनवरी 1846)
       जिला लुधियाना ( पंजाब)
5.  सभराओं की लड़ाई ( 10 फरवरी 1846)
      सतलुज के किनारे पर जिला तरनतारन  (पंजाब)
दोस्तों मुझे बहुत अच्छा लगता हैं जब हम पड़ते हैं हमनें अंग्रेजों के साथ इतनी बहादुरी से युद्ध किये, लेकिन अब इस बात का अफसोस भी हैं हम अंग्रेजों को सभयक और अच्छा मानते हैं, अपने घर परिवार छोड़ कर इन अंग्रेजी देशों में बसकर अंग्रेजी को उतम मानते हैं। कभी समय मिले तो हमारे पुरखों का ईतिहास जरूर पढ़ना और लिखना चाहिए ताकि हम जान सके हम अपनी मिट्टी को कितना प्रेम करते है।
इस मयुजियिम में ऐगलों सिख युद्ध जो अंग्रेजों और सिखों के बीच लड़े गए के ईतिहास के बारे में तस्वीरों के रुप में जानकारी दी गई है। युद्ध में इसतेमाल किए गए कपड़ें, हथियार और दूसरे सामान को रखा गया है। अगर आप को हिसटरी का शौक है तो यह मयुजियिम आपको निराश नहीं करेगा।

फिरोजशाह मयुजियिम के सामने खड़ी हुई तोप

Photo of ऐगलों सिख युद्ध के शहीदों को समर्पित है - पंजाब का फिरोजशाह मयुजियिम by Dr. Yadwinder Singh

फिरोजशाह मयुजियिम का एक दृश्य

Photo of ऐगलों सिख युद्ध के शहीदों को समर्पित है - पंजाब का फिरोजशाह मयुजियिम by Dr. Yadwinder Singh
Photo of ऐगलों सिख युद्ध के शहीदों को समर्पित है - पंजाब का फिरोजशाह मयुजियिम by Dr. Yadwinder Singh