विज्ञान के अनुसार समुद्रतट पर घूमने से आपकी ज़िंदगी और खुशनुमा होगी

Tripoto
Photo of विज्ञान के अनुसार समुद्रतट पर घूमने से आपकी ज़िंदगी और खुशनुमा होगी 1/3 by लफंगा परिंदा

"ऊपर आकाश, नीचे रेत, और दिल में सुकून"

हम मे से ज़्यादातर लोगों के लिए कुछ की पलों में सुकून पाने का तरीका है समंदर के किनारे सैर करना, और हो भी क्यूँ ना? उछाल मारती लहरें, खुला आसमान और लंबे रेतीले समुद्रतट पर बिताए हुए सुकून भरे दो पल थके हुए दिमाग़ और बुझे हुए मन को तरोताज़ा जो कर देते हैं |

समुद्रतट पर बिताया समय सैलानियों के दिलो-दिमाग़ पर एक ज़बरदस्त औषधि की तरह काम करता है इसमें तो कोई दोराय है ही नहीं | मगर अब इसे विग्यान भी मानने लगा है | मानसिक और शारीरिक रूप से अच्छा होने के साथ ही समुद्रतट पर समय बिताना आपकी ज़िंदगी में कई साल जोड़ सकता है |

समुद्रतट का आपके मन पर पड़ने वाले प्रभाव को शब्दों में बताने के लिए वैज्ञानिकों ने एक नया शब्द खोजा है जिसे कहते हैं "ब्लू स्पेस" | तो जब भी आप उदास महसूस करें तो थोड़ी शांति और स्पष्टता पाने के लिए नीले नीले समंदर के पास पहुँच जाएँ |

समंदर तट के पास जाने से जो आराम मिलता है वो मात्र एक भ्रम नहीं होता | समंदर के आस पास की शांति और सुकून देख और महसूस करके आपका दिमाग़ एक अलग ही तरह से काम करने लगता है और आप ऊर्जावान, तरोताज़ा और शांत महसूस करते हैं |

"ब्लू स्पेस" आप पर चार प्रकार से प्रभाव डालता है :

Photo of विज्ञान के अनुसार समुद्रतट पर घूमने से आपकी ज़िंदगी और खुशनुमा होगी 2/3 by लफंगा परिंदा

1. तनाव कम करता है

पानी का हमारे शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में हम काफ़ी समय से जानते हैं मगर पानी का हमारे मन पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं | प्रकृति ने पानी में ऐसे सकारात्मक तत्व डालें हैं कि ये आपके तनाव को अपने आप ही दूर कर देते हैं | उदाहरण के तौर पर जब भी आप तैरते हैं या अपना पैर ही पानी पानी में डुबाते हैं तो आपको काफ़ी आराम मिलता है | तो देखा आपने किस तरह से पानी हमारे चित को सकारात्मक ऊर्जा से भर देता है|

2. रचनात्मकता बढ़ाता है

अगर आप कोई रचनात्मक काम करते हुए अटक गये हैं तो समुद्रतट आपको रचनात्मक रूप से आगे बढ़ने में मदद करेगा | वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ब्लू स्पेस में होने से आप अपनी समस्याओं की बेहतर और स्पष्ट तरीके से देख पाते है और उन्हें रचनात्मक तरीके से हल कर सकते हैं। ये एक तरह से ध्यान करने जैसा है जो आपके दिमाग़ को शांत करके चीज़ों को व्यवस्थित करता है और समाधान की खोज करने के आपका मार्ग प्रशस्त करता है |

Photo of विज्ञान के अनुसार समुद्रतट पर घूमने से आपकी ज़िंदगी और खुशनुमा होगी 3/3 by लफंगा परिंदा

3. अवसाद की भावना को कम करता है

जब आदमी अवसाद से ग्रसित नहीं होता तो शांति, सुकून और खुशी महसूस करता है| यही शांति, सुकून और खुशी समुद्रतट पर जाकर महसूस होती है | तो अब आपको समाधान पता चल चुका है | लहरों का संगीत, रेत की खुश्बू और खुला आसमान आपको खुश रखने में मदद करते हैं |

4. ज़िंदगी के प्रति आपका नज़रिया बदल देता है

इंसान को ज़िंदगी के प्रति सकारात्मक और सही दृष्टिकोण रखने के लिए शांत दिमाग़, मदमस्त दिल और परिपूर्ण आत्मा की ज़रूरत होती है | समुद्रतट पर जाने से आपको ये तीनों तो मिलते ही हैं साथ ही ज़िंदगी के प्रति खुशी और संतुष्टि भी मिलती है|

आपका पसंदीदा बीच डेस्टिनेशन कौनसा है? अपने यात्रा के अनुभव ट्रिपोटो परिवार के साथ यहाँ बाँटिए |

यह आर्टिकल अनुवादित है| ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Be the first one to comment