गुजरात की आखों का तारा - सापूतारा

Tripoto
Photo of गुजरात की आखों का तारा - सापूतारा by Dr. Yadwinder Singh
Day 1

#सापूतारा
गुजरात के डांग जिले में 1000 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ सापूतारा गुजरात का एकमात्र हिल स्टेशन है| गुजरात टूरिज्म इसको "  गुजरात की आखों का तारा सापूतारा " कह कर बुलाता है|चाहे सापूतारा की ऊंचाई 1000 मीटर के आसपास है फिर भी यहाँ का मौसम हर समय सुहावना रहता है| सापूतारा में आप  झील के साथ हरी भरी पहाड़ियों के साथ खूबसूरत वियू पुवाईंट देख सकते हो| सापूतारा गुजरात के डांग जिले में महाराष्ट्र के बार्डर के पास है| सापूतारा गुजरात में है और इससे कुछ किलोमीटर बाद महाराष्ट्र शुरू हो जाता है| डांग जिले की कुल 2 लोग आबादी में 94 प्रतिशत लोग अलग अलग कबीलों से संबंधित है| सापूतारा का अर्थ सापों का घर | यहाँ के लोग सापों की पूजा भी करते हैं| सर्पगंगा नदी इस क्षेत्र में बहती है| सापूतारा के जंगलों और पहाड़ो में बहुत प्रजातियों के साप पाए जाते हैं| सापूतारा में महाराष्ट्र के पंचगनी की तरह टेबल लैंड भी है | सापूतारा में ईको पुवाईंट, सनराइज़ पुवाईंट और सनसैट  पुवाईंट भी है| इसके अलावा आप मछली घर, टराईबल संग्रहालय और रोपवे का आनंद भी ले सकते हो सापूतारा में| मानसून में सापूतारा बहुत खूबसूरत लगता है| यहाँ रहने के लिए आपको गुजरात टूरिज्म के होटल के साथ और भी बहुत सारे होटल मिल जाऐगे| गुजरात टूरिज्म सापूतारा में मानसून फैसटीवल का भी आयोजन करवाता है| गुजरात में मेरी अधिकतर यात्राएँ हर बार की तरह राजकोट से शुरू होती है | गुजरात रोडवेज की एक बस हर रोज रात को गोंडल  से नाशिक तक जाती है| इस बस को मैंने राजकोट से बुक कर लिया था | रात को यह बस चली और वडोदरा, सूरत होती हुई यह बस सुबह सापूतारा पहुँच गई| जब मैं सापूतारा में पहुंचा तो बहुत तेज़ बारिश हो रही थी | मैंने बस स्टैंड के पास ही एक होटल में कमरा लिया और तैयार होकर बाईक किराए पर लेकर सापूतारा घूमने के लिए निकल पड़ा |
सापूतारा झील - सापूतारा में घूमने के लिए यह झील सबसे महत्वपूर्ण टूरिस्ट सपाट है| इस झील के पास एक छोटे से बाजार में ही बाईक किराए पर मिलती है जहाँ से मैंने बाईक ली थी किराए पर| फिर मैं सापूतारा झील का आनंद लेने के लिए चल पड़ा| आसपास की हरी भरी पहाड़ियों के बीच यह झील बहुत खूबसूरत दृश्य पेश करती है| यह झील 70 फीट गहरी है| इस झील में पैडल बोट से भी बोटिंग कर सकते हो| मैंने भी इस झील में बोटिंग का आनंद लिया| झील देखने के बाद में अगली मंजिल की तरफ बढ़ गया|
मछली घर - सापूतारा में एक खूबसूरत मछली घर बना हुआ है| इस मछली घर में अलग अलग प्रजातियों की मछलियों को शीशे के फ्रेम में रखा गया है| मैंने भी इस मछली घर को देखा और कुछ तस्वीरें भी खींच ली मछलियों की | इसके साथ ही टराईबल संग्रहालय की बिलडिंग थी लेकिन यह संग्रहालय उस दिन बंद इसलिए मैं उसको देख नहीं सका |

सापूतारा का दिलकश दृश्य

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

सापूतारा झील

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

सापूतारा झील में मेरी तसवीर

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

बोटिंग सापूतारा झील 🚣 में

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

मछली घर सापूतारा

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

मछली 🐠🐋🐟

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh

मछली🐠🐋🐟

Photo of Saputara Hill Station by Dr. Yadwinder Singh
Day 2

सनराइज़ पुवाईंट - फिर मैं अपनी बाईक लेकर सापूतारा से थोड़ा बाहर सनराइज़ पुवाईंट की तरफ चल पड़ा | कुछ देर बाद मैं सनराइज़ पुवाईंट पहुँच गया| कुछ सीढ़ियों को चढ़कर मैं पुवाईंट पर आ गया| यहाँ से सापूतारा का दिलकश दृश्य दिखाई देता है| हरे भरे पहाड़ और दूर दिखाई देते खेत मंत्रमुग्ध कर रहे थे| काफी समय में कुदरत की गोद में बैठ कर इन खूबसूरत पलों का आनंद लेता रहा |

सापूतारा टेबल लैंड- फिर मैं सापूतारा के टेबल लैंड को देखने गया| उंची पहाड़ियों के बीच एक समतल मैदान को टैबल लैंड कहते हैं| इस जगह पर काफी रौनक थी | दोपहर का लंच भी मैंने इस जगह पर किया| यहाँ से सापूतारा झील का खूबसूरत दृश्य दिखाई देता है| मैंने यहाँ साई कलिंग भी की | आप यहाँ ऊंठ सवारी और घोड़ सवारी का आनंद भी ले सकते हो| इस जगह से मैंने दूर दिखाई देता महाराष्ट्र का ईलाका भी देखा |

सनसैट पुवाईंट - मैं जब सनसैट पुवाईंट जा रहा था तो रास्ते में ही बारिश शुरू हो गई| बारिश में सनसैट का तो कोई चांस नहीं था | रास्ते में एक जगह पर मैं काफी देर तक रुका रहा जब तक बारिश नहीं रुकी | बारिश रुकने के बाद मैं आगे बढ़ा और सनसैट पुवाईंट पहुँच गया| सूर्य की जगह बादलों ने मेरा सवागत किया| उड़ते हुए बादल बहुत खूबसूरत लग रहे थे| मैं सनसैट पुवाईंट पर बादलों की पहाड़ियों पर हो रही अठखेलियों को देखता रहा| इसके बाद में वापस सापूतारा अपने होटल में आ गया|
कैसे पहुंचे- सापूतारा आप नाशिक या सूरत से बस या कैब करके पहुँच सकते हो| नजदीकी रेलवे स्टेशन नाशिक और सूरत है | यहाँ रहने के लिए आपको हर बजट के होटल मिल जाऐगे|

सनराइज़ पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनराइज़ पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

मैं सनराइज़ पुवाईंट सापूतारा में

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सापूतारा झील का दिलकश दृश्य

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनराइज़ पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

टैबल लैंड सापूतारा में मेरी तसवीर

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनसैट पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनसैट पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

उड़ते हुए बादलों को देखता हुआ घुमक्कड़

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनसैट पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh

सनसैट पुवाईंट सापूतारा

Photo of Saputara by Dr. Yadwinder Singh