जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी

Tripoto
12th Mar 2023
Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani
Day 1

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के पालमपुर में खुला प्रदेश का पहला और देश का दूसरा ट्यूलिप गार्डन खुल गया है। सीएसआईआर-आईएचबीटी संस्थान पालमपुर ने इस गार्डन को तैयार किया है। पालमपुर में यह गार्डन अब आम लोगों के लिए खुल गया है। काफी तादाद में सैलानी इस गार्डन के दीदार के लिए पहुंच रहे हैं। इस गार्डन की खास बात यह है कि यहां लगाए गए ट्यूलिप के पौधे स्वदेशी हैं और हिमाचल के लाहुल-स्पीति में तैयार किए गए हैं। हाल ही में प्रदेश के मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने भी इस ट्यूलिप गार्डन का दौरा किया और इसमें विशेष रुचि दिखाई ।

कैसा दिखता है ट्यूलिप -

Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani

ट्यूलिप एक प्रकार का फूल है, जो कि बेहद खूबसूरत होता है। इस फूल का इस्तेमाल ज्यादातर गुलदस्ते बनाने या सजावट के दौरान किया जाता है। बता दें कि ट्यूलिप नाम की उत्पति फारसी शब्द ‘डैलबैंड’ से हुई थी, जिसका मतलब पगड़ी होता है। गुलाब के बाद ट्यूलिप दूसरा ऐसा फूल है, जिसे लोगों के बीच बेहद पसंद किया जाता है। बता दें कि ट्यूलिप तुर्की और अफगानिस्तान का राष्ट्रीय फूल है और इसकी खेती ज्यादातर पहाड़ी इलाकों में की जाती है। इस फूल का गहरा रंग और सुंदर आकार मन को मोह लेता है। इसकी कई खूबसूरत प्रजातियां हैं।

इस ट्यूलिप गार्डन की खासियत

Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani

आठ करोड़ के बजट से बने इस ट्यूलिप गार्डन में अब तक के प्रस्ताव के अनुसार 40 प्रजातियों के लाखों रंग-बिरंगे फूल लगाए जा चुके है। कुछ फूल विदेशों से भी मंगवाए जाएंगे। सभी फूल लगने के बाद यह गार्डन फूलों का गांव लगेगा। गार्डन में फाउंटेन, झील, कैफिटेरिया व पार्क की भी व्यवस्था की गई है।

20 दिन तक खिला रह सकता है ट्यूलिप का फूल

Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani

ट्यूलिप के फूल की आयु 15 से 20 दिन की ही होती है। यह मौसम और तापमान पर निर्भर करता है कि यह 15 दिन तक खिले रहेंगे या 20 दिन तक। वहीं कटने के बाद ये 5 दिन तक बिना मुरझाए रह सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश का फेमस डेस्टिनेशन है पालमपुर

Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani

पालमपुर हिमालय की आकर्षक धौलाधार पहाड़ी रेंज से घिरा खूबसूरत स्थान है। कांगड़ा जिले में पड़ने वाला पालमपुर हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में जाना जाता है। हर साल यहां हजारों पर्यटक आते हैं।

ट्यूलिप गार्डन की एंट्री फीस - निःशुल्क

गार्डन के खुलने का समय - सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक

जाने का सबसे अच्छा समय - फरवरी से मार्च

पालमपुर कैसे पहुंचें

Photo of जानिए हिमाचल के पहले ट्यूलिप गार्डन के बारे में, जिसे देखने दूर दूर से पहुँच रहे है सैलानी by Pooja Tomar Kshatrani

हवाईजहाज से : धर्मशाला में गग्गल हवाई अड्डा 40 किमी की दूरी पर पास का हवाई अड्डा है।

ट्रेन से : पठानकोट 120 किमी की दूरी पर पास का रेलवे स्टेशन है।पठानकोट से पालमपुर पहुंचने के लिए टैक्सी उपलब्ध हैं।

सड़क द्वारा : पालमपुर सड़क मार्ग से हिमाचल प्रदेश के ज्यादातर पड़ोसी क्षेत्रों और महत्वपूर्ण स्थानों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। राज्य की प्राइवेट बसें मंडी, पठानकोट, धर्मशाला आदि से पालमपुर के लिए नियमित रूप से चलती हैं। एचआरटीसी की बसें दिल्ली को पालमपुर से सड़क मार्ग से भी जोड़ती हैं।

More By This Author

Further Reads