Indian alirlines:घरेलू हवाई यात्रा में हुआ जबरदस्त इजाफा, प्री कोविड स्तर तक पहुंचा

Tripoto
23rd Feb 2023
Photo of Indian alirlines:घरेलू हवाई यात्रा में हुआ जबरदस्त इजाफा, प्री कोविड स्तर तक पहुंचा by Priya Yadav
Day 1

इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) के अनुसार, वर्ष 2022 में भारतीय घरेलू हवाई यात्रा में काफी इजाफा हुआ है।देश में कोरोना के कारण घरेलू हवाई यात्रा में काफी बदलाव आया था। जिसमें अब इजाफा कर दिया गया है।यह वर्ष 2022 के पूर्व कोविड स्तर पर पहुंच गया।

भारत में, नए COVID-19 प्रकोपों ​​​​के लुप्त होने की चिंताओं के साथ, एयरलाइंस ने घरेलू हवाई यात्रा के साथ-साथ राजस्व में भी महत्वपूर्ण सुधार देखा। IATA ने कहा कि भारत का घरेलू RPK (राजस्व यात्री किलोमीटर) 2021 की तुलना में पिछले साल 48.8% बढ़ा। अधिक महत्वपूर्ण रूप से, दिसंबर 2022 में हवाई यातायात लगभग दिसंबर 2019 के निशान से मेल खाते हुए देखा गया, जो केवल 3.6% कम था।

विश्व स्तर पर, 2022 में कुल यात्री यातायात (घरेलू प्लस अंतर्राष्ट्रीय) एक साल पहले की तुलना में 64.4% चढ़ गया, जिसमें पूरे साल के वैश्विक यात्री यातायात पूर्व-महामारी के स्तर के 68.5% थे।दिसंबर 2022 में कुल ट्रैफिक 2021 के इसी महीने की तुलना में 39.7% बढ़कर दिसंबर 2019 के स्तर के 76.9% पर पहुंच गया।

2022 में अंतर्राष्ट्रीय हवाई यातायात 2021 के स्तर के 62.2% को प्राप्त करने के लिए 2021 के मुकाबले 152.7% चढ़ गया। दिसंबर 2022 अंतर्राष्ट्रीय यातायात दिसंबर 2021 की तुलना में 80.2% बढ़ गया, दिसंबर 2019 में 75.1% के स्तर पर पहुंच गया।सिंगापुर का चांगी हवाई अड्डा 2022 के अप्रैल में संगरोध-मुक्त यात्रा के लिए अपनी सीमाओं को फिर से खोलने के लिए एशिया में सबसे पहले देश के साथ हवाई यात्रा में सुधार का एक प्रमुख लाभार्थी है।

वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता और मुद्रास्फीति के दबाव जैसी निकट-अवधि की चुनौतियों के बावजूद, हमें विश्वास है कि हम चांगी हवाई अड्डे की कनेक्टिविटी और यातायात को पूर्व-कोविद स्तरों पर उत्तरोत्तर बहाल करने में सक्षम होंगे।

सस्ती हो सकती है हवाई यात्रा

देश में बढ़ते कोरोना के संक्रमण के कारण उड़ानों पर रोक लगाई गई थी।अब जब दोबारा ये सेवाए अपनी रफ्तार पर लौट रही है तो ऐसे में संभव है की हवाई यात्राओं पर काफी छूट भी मिले जिससे की इसमें और अधिक इजाफा हो सके।और लोग इसका अधिक से अधिक लाभ उठा सकें।

बढ़ती मांग और घटते संक्रमण के चलते लिया फैसला

एविएशन मिनिस्ट्री ने कोरोना वायरस के घटते संक्रमण और फेस्टिव सीजन से पहले बढ़ती मांग को देखते हुए ये फैसला किया है। भले ही 18 अक्टूबर से तमाम घरेलू विमानों को पूरी क्षमता के साथ उड़ने की इजाजत मिल चुकी है, लेकिन सभी एयरलाइन्स को कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए बनाई गई गाइडलाइंस को मानना होगा।

क्या आपने हाल में कोई की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

More By This Author

Further Reads