मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी! 

Tripoto
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  1/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  2/17 by लफंगा परिंदा

वांडरलस्ट : परिभाषा: एक नाम जिसका अर्थ है भ्रमण की लालसा यानी यात्रा करने की प्रबल इच्छा |

मेरे कुछ अपने मुद्दे हैं | ये लीजिए, आख़िर मैने कह ही दिया | मेरे अंदर हमेशा ही यात्रायें करने की प्यास भड़की रहती है और यही प्रबल इच्छा मुझे जब देखो तब सताती रहती है | बहुत बात मुझे इस इच्छा के आगे झुकना पड़ता है | मैं एक नहीं अनेक बार इस प्यास को बुझाने के लिए घूमने निकल पड़ती हूँ | यह लिखते हुए भी मैं अपने करीबी दोस्तों को हामी में सिर हिलाते देख सकती हूँ और मेरा बॉयफ़्रेंड मेरी इस आदत से बस खीझ कर रह जाता है | अगर मेरे बचत खाते की बात करें तो समझ लीजिए कि अगर वा इंसान होता तो आर्थिक प्रबंध से जुड़ी मेरी समझ पर हँस पड़ता | या यून कहें कि आर्थिक प्रबंध से जुड़ी मेरी नासमझी पर ठहाके लगाता | लेकिन इन सबके बावजूद मैं अपने हाल ही के यात्रा की कहानी लिखने जेया रही हूँ और साथ ही अगली यात्रा की योजना भी बना रही हूँ |

तो दोस्तों, इसे ही कहते हैं ' घूमने फिरने की प्यास' | इस प्यास के आगे कोई तर्क, वजह या दूरदर्शिता काम नहीं करती | और ये जानते हुए भी कि मेरे जीते जी तो ये घूमने फिरने की प्यास नहीं बुझ सकती, मैं फिर भी निकल पड़ती हूँ इस प्यास को बुझाने की कोशिश में |

मगर ये कहानी उस प्यास को बुझाने के तरीकों पर नही लिखी गयी है | ये कहानी आधारित है उन पुरानी यादों पर जिनमे बिना सोचे समझे मैं खुद तो घूमने निकल ही गयी थी साथ ही अपने बॉय फ़्रेंड को भी समझा बुझा कर संग ले लिया था | और इतनी मस्ती की कि क्या बतायें !

रॉयल आर्किड फोर्ट रिज़ॉर्ट

Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  3/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  4/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  5/17 by लफंगा परिंदा

ये जगह आदर्श है अगर...

चूँकि अपनी बचत को अधिक समझदारी से खर्च करना हमारे नये साल का संकल्प था, मसूरी की भीड़ भाड़ और कर्कश आवाज़ों से दूर इस रिज़ोर्ट में अपने साथ लाने की खातिर मुझे मेरे बॉय फ़्रेंड को काफ़ी समझाना बुझाना पड़ा था |

ये रिज़ोर्ट प्यार मोहबात करने वाले जोड़ों के लिए तो ख़ास है ही लेकिन अगर कोई अपने परिवार के साथ यहाँ मज़े करना चाहते हैं तो भी ये जगह आदर्श है |

होटेल के बारे में जानकारी

Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  6/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  7/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  8/17 by लफंगा परिंदा

रिज़ोर्ट की ओर जाती घुमावदार और खड़ी चढ़ाई वाली सड़क पर चलते हुए जब हम इस भव्य रिज़ोर्ट के प्रवेश द्वार पर पहुँचे तो भौचक्के रह गये : पीतल के ठोस हत्थे वाला दरवाज़ा इतना भारी भरकम और विशालकाय था मानो भारत के किसी प्राचीन किले या महल का मुख्य द्वार हो | हम रिज़ोर्ट के बरामदे तक पहुँचे ही थे कि यहाँ के कर्मचारी हमारा गर्मजोशी से स्वागत करने आ गये और हमें हमारे कमरे तक ले गये |

Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  9/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  10/17 by लफंगा परिंदा

मसूरी के सेंट्रल पिक्चर पैलेस रोड पर स्थित होते हुए भी रॉयल ऑर्किड एक शांत वातावरण में बना हुआ है और प्राकृतिक हरियाली की गोद में रहने के बाद भी विलासिता, आराम और भव्यता का मिला जुला अनुभव प्रदान करता है | इस रिज़ोर्ट से आप मसूरी में दूर दूर तक फैले लंबे देवदार के हरे भरे वृक्षों और हसीन दून घाटी के नज़ारों का मज़ा उठा सकते हैं | क्या इससे बेहतर कुछ हो सकता है ?

द रॉयल ऑर्किड रिज़ोर्ट अच्छी तरह से बने हुए और भली भाँति आधुनिक रूप से सजाए हुए 56 कमरों और सुइट वाली एक शानदार संपत्ति है | सभी कमरों में सुंदर रंगों का तालमेल देखने को मिलता है और हर कमरे में सागवान की मज़बूत लकड़ी से बना 4 स्तंभों वाला पलंग है | ये सभी चीज़ें पुराने समय की यादें ताज़ा करा देती हैं |

भोजन

Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  11/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  12/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  13/17 by लफंगा परिंदा
Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  14/17 by लफंगा परिंदा

रिज़ोर्ट में रहते हुए हमने कुछ दिनों के लिए हल्का खाने की अपनी आदत को दरकिनार करते हुए होटेल के बेहतरीन रेस्तराँ पिंक्स में मिलने वाले स्वादिष्ट व्यंजनों के ज़ायके में खो जाने का मन बना लिया था | इस आधुनिक बहु-व्यंजन रेस्तरां में भारतीय, चीनी और यूरोपियन व्यंजन परोसे जाते है। अगर आप एक रूमानी अनुभव की तलाश में हों जो थोड़ा हट कर हो तो आप कर्मचारियों से कह कर अपना खाना गाज़ेबो में भी लगवा सकते हैं | गाज़ेबो रिज़ोर्ट का प्राइवेट डाइनिंग स्थान है जहाँ से नीचे की घाटी का नज़ारा आपके खाने का स्वाद और बढ़ा देगा |

खर्चा

दो लोगों के लिए कमरे में रुकने का एक रात का किराया 5400 रुपये की वाजिब कीमत से शुरू होता है | कमरे के किराए में सुबह का भारी नाश्ता भी शामिल है जिसके स्वाद में आप डूब जाएँगे |

जाने का सबसे अच्छा समय

यहाँ पर अप्रैल, मई और जून के महीन बड़े सुहाने हैं और इसी समय यहाँ सैलानियों की तादात सबसे ज़्यादा रहती है | अगर आप भी मेरी तरह बर्फ गिरती देखने का मज़ा लेना चाहते हैं तो सर्दियों के मौसम में अक्टूबर से मार्च के महीने में मसूरी जाए | अगस्त और सितंबर के महीनों में मसूरी जाने से बचें क्यूंकी इस समय यहाँ भयंकर बारिश होती है |

रिज़ोर्ट में और यहाँ के आस पास करने योग्य गतिविधियाँ :

रिज़ोर्ट में ऐसी सारी चीज़ें हैं जो आपकी छुट्टियों की अवधि को पूरी तरह से सार्थक बना देंगी | हमारे जैसे स्वास्थ्य प्रेमियों के लिए रिज़ोर्ट में सभी उपकरणों से सुसज्जित व्यायामशाला है | इसलिए निश्चिंत हो कर रिज़ोर्ट में मिलने वाले बढ़िया बढ़िया पकवान खाइए और फिर कैलोरी जलाने के लिए व्यायामशाला में वर्ज़िश कर के खूब पसीना बहाइए | लेकिन अगर आप आराम पसंद हैं तो रिज़ोर्ट के खूबसूरत स्पा में एक अनूठे कायाकल्प अनुभव के लिए जाइए और तरह तरह की मालिश की सूची में से अपनी मान पसंद चुन लीजिए |

घने जंगलों से घिरे इस सुंदर से झरने को देखना ना भूलें |

केंप्टी फ़ॉल

मसूरी से 15 किमी की दूरी पर स्थित, केम्प्टी वाटरफॉल स्थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच बेहद लोकप्रिय है और इसे इस क्षेत्र का सबसे बड़ा और सबसे खूबसूरत झरना होने का गौरव प्राप्त है।

इस सुंदर सी सड़क पर चहल कदमी कीजिए

कैमल्स बैक रोड

Photo of मेरे बॉयफ्रेंड और मैंने दिल्ली के पास इस बर्फीली ज़न्नत के लिए गोवा को लात मार दी!  16/17 by लफंगा परिंदा

इस पैदल मार्ग पर आराम से चहल कदमी करने का आनंद लें और देवदार के घने जंगलों से आती सुगंधित हवा में खुल कर साँस लें। यह आकर्षक सड़क घुड़सवारी के लिए भी लोकप्रिय है और सूर्यास्त के समय यहाँ से हिमालय का विहंगम दृश्य देखते ही बनता है |

बेनोग पहाड़ी अभयारण्य में वनस्पतियों और वाणी जीवों जीवों की प्रचुरता देख कर दंग रह जाएँगे |

मसूरी में लाइब्रेरी प्वाइंट से लगभग 11 किलो मीटर की दूरी पर स्थित है बेनोग पहाड़ी अभयारण्य | देवदार और सनोबर के विशाल पेड़ों से सुसज्जित ये जंगली इलाक़ा प्रकृति प्रेमियों को बेहद पसंद आता है | इस अभयारण्य के पावन प्राकृतिक परिवेश का लुत्फ़ उठाइए और यहाँ के सूर्योदय एवं सूर्यास्त का मनोरम दृश्य देखना ना भूलें |

कैसे पहुँचें :

हवाई जहाज़ द्वारा : मसूरी से निकटतम हवाई अड्डा यहाँ से 54 किलो मीटर दूर देहरादून में जोली ग्रांट हवाई अड्डे के नाम से स्थित है और वहाँ पहुँचने में लगभग एक घंटा लगता है| नई दिल्ली से याहान तक के हवाई जहाज़ रोज़ ही उड़ान भरते हैं | एयरपोर्ट उतर कर मसूरी जाने के लिए बस ले सकते हैं या निजी टॅक्सी भी कर सकते हैं | आप होटेल में आग्रह कर के पिक अप सुविधा भी ले सकते हैं |

सड़क मार्ग द्वारा : सुरम्य घाटियों से होते हुए सड़क मार्ग द्वारा मसूरी पहुँचना अपने आप में एक बेहतरीन अनुभव है | मेरठ और मुज़फ़्फ़रपुर होते हुए रूड़की तक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 लें और फिर देहरादून तक के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 72-ए ले लीजिए | फिर रिज़ोर्ट तक जाने के लिए न्यू मसूरी रोड पकड़ लें |

रेल मार्ग द्वारा : शताब्दी एक्सप्रेस, मसूरी एक्सप्रेस, और निजामुद्दीन एसी स्पेशल जैसी कई रेलें नई दिल्ली से देहरादून को जोड़ती हैं। बाद की दोनों रेलें रात को चलने वाली हैं | वैसे तो ये रेल के चुनाव पर निर्भर करता है मगर फिर भी जाने में आपको पाँच से छह घंटे लग सकते हैं |

क्या आपने कभी अपने प्रेमी के साथ दुनिया घूमी है? कैसा रहे अगर घूमने का मौका आइल वो भी मुफ़्त में ? क्या कहा, यकीन नहीं हो रहा? अगर अपने साथी के साथ बिना खर्चे के घूमना चाहते हैं तो यहाँ देखें | तो इंतज़ार किस बात का | अभी क्लिक कीजिए |

आखरी बार कब आप अपने साथी के साथ घूमने गये थे और ज़बरदस्त मस्ती की थी ? अपने अनुभव यहाँ लिखिए |

रॉयल आर्किड फ़ोर्ट मसूरी के सहयोग से |

सभी तस्वीरें जिन पर अन्यथा नहीं लिखा गया है , मेरे द्वारा खींची गयी हैं |

यह आर्टिकल अनुवादित है | ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Be the first one to comment