बद्रीनाथ की यात्रा Royal Enfield से

Tripoto
18th Nov 2018
Photo of बद्रीनाथ की यात्रा Royal Enfield से by krishna semwal
Day 1

DEHRADUN में यू शुरू हुआ सफ़र

शायद संयोग इसे ही कहते है हम दो दोस्त श्याम को यूही चाय पीने निकले थे कि अचानक से मन मे ख्याल आया कि कही घूम आते है, पर कहाँ इसका पता नही वेसे तो हमको बाइक से ट्रेवल करने का बहुत शौक था ही तो हमने बाइक से बद्रीनाथ की यात्रा करने का सोच ही लिया। ओर इस तरह हमारा सफर शुरू हुआ।

शुरुआत में हम असमंजस में थे कि ठंडियो के मौसम में किस तरह से जयेंगे ऊपर से पहाड़ी रास्ता जिसमे बाइक चलाना बहुत ही कठिन होगा पर कहते है ना अगर कुछ मन मे ठान लो तो कोई भी कार्य मुश्किल नही होता। तो हमने अपनी तैयारी शुरू कर दी ।

अब हमें एक बाइक की जरूरत थी जो पहाड़ी रास्तो में सही से चले तो हमने Royal Enfield Classic 350 रेंट पे लेने का निर्णय लिया

जो कि हमने

DEHRADUN BIKE RENTAL CELEMTOWN से 1200 RS/day के हिसाब से ले ली

बाइक से ट्रेवल करते समय हमें कई बातों का ध्यान रखना होता है क्योंकि रास्तो पे कोई बी परिस्थिति आ सकती है तो उसके लिए हमे पहले से तैयार होना पड़ता है जिसके लिए हमने बाइक निम्न एसेसरीज एक्स्ट्रा रख ली

1. क्लच वायर

2. रेस वायर

3. स्पार्क प्लग

4.टायर टयूब

5. पंचर किट

6. चैन स्प्रे

यह सब इक्विपमेंट रखने के बाद हम काफी हद तक निश्चिंत हो गए कि कोई भी परिस्थिति आएगी तो हम उससे निपट सकते है। उसके बाद हमने अपनी पैकिंग स्टार्ट की ओर हर तरह का जरूरत का सामान लिया जो हमे रास्ते मे तथा बद्रीनाथ में काम आने वाला था। अब हम पूरी तरह तैयार थे बस अगले दिन सुबह होने का इंतेज़ार था।

Photo of Dehradun, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Dehradun, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Dehradun, Uttarakhand, India by krishna semwal
Day 2

RISHIKESH- GANGA Kinare

18 नवंबर 2108 सुबह 6 बजे उठ कर हमने अपने जाने को तैयारी शुरू कर दी और ठीक 7बजे हम देहरादून अपने घर से बद्रीनाथ के लिए निकल गए

चूंकि बद्रीनाथ का रूट ऐसा है कि आपको रास्ते मे अनेक ऐसी जगह मिलेगी जहाँ आप खुद को रोक नही पाओगे बिना रुके इसलिए हमने सुबह जल्दी निकलने का निर्णय लिया

देहरादून से निकलने के बाद हम 1hr बाद ऋषिकेश पहुच गए। ऋषिकेश अपने आप मे ही एक प्रसिद्ध टूरिस्ट प्लेस है तो हमने वहाँ रुक के गंगा किनारे बैठ के कुछ समय रुकने का फैसला किया

ऋषिकेश जो कि एक बहुत ही सुंदर जगह है वहाँ की हर गली में भक्ति है वहाँ पहुच के आपके ह्रदय को एक अलग ही भाव मिलता है

हम राम झूला के नज़दीक गंगा किनारे पे गए वहाँ बैठ के जो आनंद आया उसका विवरण देना मुश्किल है परंतु हम ये तो समझ गए थे कि आगे की जर्नी हमारी बहुत ही खूबसूरत होने वाली है।

लंबा सफ़र होने के कारण हम ज्यादा देर रुक नही पाए इसलिए हमने अपने आगे का सफर शुरू किया और निकल पड़े अपनी बाइक ले के पहाड़ों की वादियों की तरफ

Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Rishikesh, Uttarakhand, India by krishna semwal

ऋषिकेश से निकलने के बाद हम सीधा BYASI में रुके वहाँ हमे खाना खाया

BYASI वेसे तो बहुत छोटी सी जगह है पर वहां से आप पहाड़ो का नज़ारा ले सकते हो खाना खाने के बाद बिना रुके हम आगे की तरफ चल दिये अब हमारी नेक्स्ट डेस्टिनेशन देवप्रयाग थी जिसके बारे हमने बहुत सुना था तो हम बहुत उत्सुक थे वहा पहुचने को इसलिए अब हमारी बाइक की रफ़्तार भी थोड़ी बढ़ गयी थी।

Photo of Byasi, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Byasi, Uttarakhand, India by krishna semwal

BYASI से करीब 90min ट्रेवल करने के बाद हम देवप्रयाग पहुच गए।

देवप्रयाग पाँच प्रयागों में से एक प्रयाग है जो कि बहुत की सुंदर है।

देवप्रयाग वह स्थान है जहाँ अलकनंदा ओर भागीरथी नदी का मिलन होता है ओर फिर वो गंगा के नाम से जानी जाती है इन दोनों नदियों का संगम एक बहुत ही सुंदर नज़ारा पेश करता है। कुछ समय यहाँ रुकने के बाद हम आगे बद्रीनाथ की तरफ बढ़ गए।

देवप्रयाग से निकलने के बाद हमारी अगली मंजिल श्रीनगर थी चूंकि बाइक चलाते हुए थोड़ी थकान और जोरो की भूख भी लगने लगी थी तो हमने फैसला किया क्यों ना श्रीनगर में रुक कुछ खाया जाए तो हम वहाँ रुक गए ।

देवप्रयाग से श्रीनगर तक का सफ़र काफी रोमांचक रहा बड़े बड़े पहाड़ो से गुजरती हुई रोड नदियों के किनारे सब जैसे परफेक्ट दिर्श्य हो। पहाड़ो की यह खासियत है वहाँ आपको कभी वीरान सा नही लगता सबकुछ हराभरा सुंदर सा प्रतित होता है।

श्रीनगर में हमने खाना खाया जो कि बहुत ही अच्छा था। उसके बाद हमने अपनी बाइक की हल्की पुलकि सर्विसिंग कराई ओर कुछ देर रुकने के बाद निकल गए।

Photo of Srinagar, Uttarakhand, India by krishna semwal

रूद्रप्रयाग हमारा अगला स्टॉप था पर हम श्रीनगर में लंच कर के आये थे तो हमने यहाँ ज्यादा समय रुकने का फैसला नही किया

रुद्रप्रयाग उत्तराखंड का एक डिस्ट्रिक है जो कि काफी ही सुंदर है एक तरफ नदी एक तरफ पहाड़  वाले रास्तो का आनंद लेते हुए हम आगे की ओर बढ़ते गए।

रुद्रप्रयाग से हम सीधा जोशीमठ गए क्योंकि हमें रात होने से पहले वहाँ पहुचना था तो हम बीच रास्ते में कही रुके नही हालाकि इस दौरान गौचर, कर्णप्रयाग, नंदप्रयाग, चमोली जैसी प्रसिद्ध ओर सुंदर नज़ारे पेश करने वाली जगह पड़ी थी पर समय कम होने के करण हम रुक नही सके तो हमने सोचा यहाँ हम अगली बार घूम लेंगे ।

जोशीमठ पहाड़ो की गोदी में बसा बहुत ही खूबसूरत स्थान है यहाँ मात्र 16 km की दूरी पे Auli है जो कि बहुत की प्रसिद्ध है स्किंग ओर अन्य स्नो एडवेंचर के लिए।

चुकी रात होने लगी थी तो हमने वहाँ अपने रुकने की व्यवस्था की उसके बाद कुछ देर वहा आराम किया बता दु की पहाड़ो में बाइक का सफर इतना आसान नही होता है पर रास्ते मे दिखने वाले दिर्श्य इतने सुहाने होते है कि उन मुश्किल को इंसान भूल सा जाता है कुछ पल के लिए।

रात को खाना खाने के बाद हम जोशीमठ के मार्किट से अलग एकांत वाले स्थान पे चले गए कुछ टाइम वहा बैठ के पहाड़ो की हवा का आनंद लिया और वापिस आ गए।

Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Joshimath, Uttarakhand, India by krishna semwal

जोशीमठ में सुबह का नाश्ता करने के बाद हम सीधा बद्रीनाथ के लिए चल पड़े। सुबह सुबह का वक़्त पहाड़ो में बहुत ही हसीन होता है ठंडी ठंडी हवा के साथ सूर्य की वो पहली किरण आपके दिल दिमाग को तरोताज़ा कर देती है जैसे जैसे हम बद्रीनाथ की तरफ में बढ़ रहे थे वेसे वेसे हमारी उत्सुकता ओर बढ़ रही थी बाइक से इतना लंबा सफर करना बहुत ही चुनोतीपूर्ण होता है और हमे हमारी मंज़िल अब कुछ ही दूर नज़र आ रही थी।

एक तरफ पहाड़ एक तरफ बहती नदी ऊपर से ठंड का मौसम मानो जैसे एक अदभुत एहसास दे रहा दूर दूर बर्फ से ढकी हुई पहाड़िया अब धीरे धीरे करीब नज़र आने लगी थी।।

इन सब नज़ारों का आनंद लेते हुए पता ही नही कब हम बद्रीनाथ पहुच गए चूंकि ठंड का मौसम था तो हर तरह लोगो आपस मे इकट्ठा हो के आग की आंच लेते हुए नज़र आ रहे थे।।

हमे रात बद्रीनाथ में ही रुकना था तो हमने सबसे पहले रूम की व्यवस्था की अपना सामान रखा और अब मंदिर के दर्शन के लिए निकल पड़े।

बाहर सड़क पे निकलने पर हमने पाया वहाँ श्रद्धालुओं की काफी भीड़ थी तथा अलग अलग जगह ओर लोगों ने आने वाले यात्रियों के लिए दूध चाय बिस्कुट का वितरण किया जा रहा था पर पर अभी हमारा मन सिर्फ मंदिर के दर्शन के लिए उत्साहित था तो हम सीधा मंदिर की तरफ चल पड़े

कुछ दूर चलने पर हम मंदिर पहुच गए BADRINATH का भव्य मंदिर जो कि चारो तरफ से गेंदे के फूलों से सज़ा हुआ था तथा उन फूलो की खुश्बू से आसपास का वातावरण महक रहा था बर्फ की पहाड़ियों से गिरा हुआ बद्रीनाथ का मंदिर अत्यंत सुंदर दिख रहा था वहाँ पहुच के मन को अलग ही शांति मिल रही थी।।

सबसे पहले हमने वहाँ तप्त कुंड में स्नान किया फिर मंदिर में भगवान के दर्शन किये । तप्त कुंड के गर्म पानी म स्नान कर बड़ा ही आनंद आया वहाँ स्नान करने के बाद मानो जैसे ठंड बिल्कुल दूर हो गयी हो।

मंदिर दर्शन के बाद हम आसपास की कुछ जगह में घूमने गए फिर रात को भंडारे में खाना गया और रात भर इधर उधर घूम ओर लोगो के साथ बातचीत कर बिताई।

BADRINATH की यात्रा मेरे लिए बहुत ही सुखद रही और मैने इसका पुर्ण आनद लिया और ऐसी भविष्य में भी अनेक यात्रा करने का मन बनाया

BADRINATH की यात्रा की यादों को हमने तस्वीरों में कैद कर अपने साथ ले आये ओर अगले ही दिन हम वापिस देहरादून के लिए निकल गयी।

यह यात्रा मेरे लिए बहुत यादगार रही।

Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
Photo of Badrinath, Uttarakhand, India by krishna semwal
1 Comment(s)
Sort by:
nice blog
Sat 02 16 19, 19:35 · Reply (1) · Report
thanx bs ap logo k support or pyar ki jrurt h ese kayi blog aynge
Sat 02 16 19, 19:38 · Report