कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ

Tripoto

मुझे बेहद दुःख के साथ कहना पड़ रहा है कि कुल्लू मनाली अब वो जगह नहीं रही, जहाँ आप ठंडी हवा के बीच, कम भीड़ में सुकून भरी छुट्टियाँ बिता सकते। जहाँ इतनी शांति थी, कि मंद मंद बहती हवा के लरजते सुकून को आप अपने भीतर महसूस कर सकते।

कुल्लू मनाली अब भी एक ग़ज़ब का टूरिस्ट स्पॉट है, लेकिन हम शांति और सुकून पसंद लोगों को इसके नज़दीक कुछ दूसरे स्वर्ग मिल गए हैं। ऐसी 8 जगहें, जहाँ आपको फिर से वही रस मिलेगा, जिसकी खोज में आप पहाड़ों पर आते हैं।

शानगढ़

Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ 1/3 by Supriya Sahu
Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ 2/3 by Supriya Sahu
Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ 3/3 by Supriya Sahu

हिमालय के पहाड़ों पर हिमालयन राष्ट्रीय पार्क पर बसा हुआ नया ख़ज़ाना है शानगढ़। देवदार के घने पेड़ों से घिरी इस नज़ाकत भरी जन्नत में आएँ, खो जाएँ, ख़ुद से बातें करें। पहाड़ों की सुंदरता आपको बाँध कर रखती है, और कई बार तो आप यहाँ ख़ूबसूरत इंद्रधनुष भी देख पाते हैं। अपने आप में आत्मनिर्भर यह गाँव शानदार आर्किटेक्चर, प्राकृतिक झरनों और सुंदरता से भरा हुआ है।

शानगढ़ में क्या करें- स्कीइंग, बर्फ़ पर ट्रेकिंग, बाइकिंग, कैंपिंग, पैराग्लाइडिंग, पंछी दर्शन इत्यादि।

शोजा

Photo of शोजा, Shoja, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu

सिराज घाटी पर बसने वाला शोजा, जिभी और जलोड़ी पास के बीच स्थित है। हरी हरी घास के पहाड़ पर लरजती सफ़ेद बर्फ़ और घने घने देवदार के पेड़ आपकी शाम बनाने के लिए काफ़ी हैं। गुज़रते हर लम्हे के साथ आप इस जगह की शांति और सुंदरता के कायल हो जाएँगे।

एक और ख़ास बात जो आपको यहाँ के गाँवों में देखने मिलेगी, वो है लोगों में एक क़िस्म की सादगी, जो आपको बेहद आकर्षित करेगी। इतना ज़्यादा, कि आपके ज़हन में एक बार के लिए यहीं पर हमेशा के लिए बस जाने का ख़्याल आएगा।

शोजा में कहाँ जाएँ, क्या देखें- तीर्थन घाटी, रघुपुर क़िला

चैनी कोठी

Photo of Chehni Kothi, Banjar, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu
Photo of Chehni Kothi, Banjar, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu
Photo of Chehni Kothi, Banjar, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu

चैनी कोठी अपने प्राचीन और आर्किटेक्चर के लिए प्रसिद्ध मंदिरों वाले टॉवर के कारण जाना जाता है। इन मंदिर टॉवरों का उपयोग किसी ज़माने में आस-पास के इलाक़ों की निगरानी के लिए किया जाता था। अगर आप इन मंदिर टॉवरों के सबसे ऊपर चोटी पर चले जाएँगे, तो आपको चोटी से पूरे गाँव के आकर्षक नज़ारे देखने को मिलेंगे।

यहाँ पर रहने वाले लोगों की संख्या बहुत कम है और यहाँ के सभी घर पारंपरिक आर्किटेक्चर के बने हैं। आपको यहाँ आने के लिए श्रृंग ऋषि मंदिर तक ट्रेक करके आना पड़ेगा। श्रृंग ऋषि किसी ज़माने में बंजार घाटी के राजा हुआ करते थे, जिनके नाम पर यहाँ के मंदिर का नाम रखा गया है।

यहाँ पर क्या करें: श्रृंग ऋषि मंदिर देखें, मंदिर टॉवर देखने जाएँ।

बाहू

Photo of बहु, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu
Photo of बहु, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu
Photo of बहु, Himachal Pradesh, India by Supriya Sahu

फ़ोटोग्राफ़रों के लिए यह जगह जन्नत है। यहाँ की सबसे आकर्षक जगहों में देखने के लिए बाहू नाग मंदिर है, जिसके लिए आपको आकर्षक ट्रेक पूरा करना होता है। देवदार के जंगलों के बीच से होता हुआ यह ट्रेक आपको कई देसी गाँव और नई अनछुई जगहों की सैर कराता है। अगर आप पक्के ट्रेकर नहीं हैं, तो यह ट्रेक आपके लिए थोड़ा थकाने वाला हो सकता है, लेकिन इस बात की भी गारंटी है, कि आपको यहाँ के नज़ारे पूरी थकान मिटा देंगे।

बाहू में क्या करें: मंदिर दर्शन को जाएँ और यहाँ के छोटे से तालाब में बैठकर अपने पाँव की थकान मिटाएँ।

गड़ागुशैनी

Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ by Supriya Sahu

नोट- गुशैनी गाँव और गड़ागुशैनी दोनों अलग अलग जगहें हैं।

तीर्थन घाटी के पहाड़ों और जंगलों की ख़ूबसूरती के बीच एक ख़ूबसूरत सा गाँव बसता है गड़ागुशैनी। आप जब भी यहाँ आएँ, तो यहाँ के हरे हरे घास के मैदानों और चीड़ के पेड़ों वाले जंगलों को देखना न भूलें। यहाँ की ख़ूबसूरती देखकर आप इसके दीवाने न हो जाएँ तो कहना।

गड़ागुशैनी में क्या करें: कुल्लू मनाली के नज़दीक इस ख़ूबसूरत सी जगह को देखने जाएँ, यहाँ के प्राकृतिक और अनछुए नज़ारों का आनंद उठाएँ।

सेराज

Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ by Supriya Sahu

सेराज उर्दू का लफ़्ज़ है जिसका मानी है सूरज, या फिर प्रकाश की किरण। पंछियों की चहचहाहट, घने गर्वीले पहाड़, घास पर फैली हुई ओस की मोती जैसी बूँदे आपको किसी आकर्षक म्यूज़िकल कॉन्सर्ट की याद दिलाती हैं।

एक बात जो कि इस गाँव में बेहद ख़ास है। यहाँ के ग्रामीण लोग अपने गाँव के प्राकृतिक रंग को बनाए रखने के लिए इको फ्रेंडली चीज़ों का उपयोग करने पर ज़ोर देते हैं।

सेराज में क्या करें: पोहलानी देवी मंदिर, सेराज घाटी, कीलॉन्ग म्यूज़ियम, देत नाग मंदिर देखने जाएँ।

साच

सेब के खेतों से सजा सारची गाँव अपने लकड़ी के आर्किटेक्चर वाले घरों के लिए प्रसिद्ध है। चीड़ के पेड़, देवदार के घने पेड़ से ढके पहाड़ आपको बहुत पसंद आएँगे।

सारची में क्या करें: यहाँ के घरों का आर्किटेक्चर देखने जाएँ, सब्जियों वाले पेड़ और सैंचुरी देखें।

बथाड

Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ by Supriya Sahu
Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ by Supriya Sahu
Photo of कुल्लू मनाली के नज़दीक वो अनसुनी 8 जगहें, जहाँ भीड़ भाड़ से दूर आप बिता सकेंगे सुकून भरी छुट्टियाँ by Supriya Sahu

जिभी के नज़दीक बथाड भी एक ख़ूबसूरत सा गाँव है जहाँ जाकर आपको जीवन का असली आनंद आएगा।

अगर मौक़ा मिले तो सर्दियों के मौसम में यहाँ आएँ और पेड़ों पर लटकती बर्फ़ को देखने का सुख पाएँ।

बथाड में क्या करें: बर्फ़ के बीच खेलें, पारंपरिक खाने और चाय का आनंद लें

कैसा लगा आपको यह आर्टिकल, हमें कमेंट बॉक्स में बताएँ।

अपनी यात्राओं के अनुभव को Tripoto मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती के सफ़रनामे पढ़ने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना Telegram पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।

यह एक अनुवादित आर्टिकल है। ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।