15 ऐसे रेलवे स्टेशन जहाँ का लज़ीज स्वाद चटोरों को दीवाना बना देगा

Tripoto
Photo of 15 ऐसे रेलवे स्टेशन जहाँ का लज़ीज स्वाद चटोरों को दीवाना बना देगा 1/1 by Manju Dahiya

एक ऐसी जगह जहाँ कुछ किलोमीटर के बाद, भाषा से लेकर सांस्कृतिक प्रथाओं तक सब कुछ बदल जाता है, यही तो है हमारा देश भारत और हर पल नज़ारों के साथ बदलती परंपाएँ ही है जो इसे दुनिया के किसी भी देश से अलग बनाती हैं। यह खूबसूरत भिन्नता का असर हमारे रहन-सहन, पहनावे, भाषा, कला, प्रथाओं और मेरे पसंदीदा विषय यानी खाने में खूब दिखाई पड़ता है!

नागालैंड के एकदम अलग तीखे भोजन से लेकर गुजरात की मिठास तक, भारत का अलग अलग स्वाद सभी सीमाओं को पार करता हुआ इतना फैला हुआ है - कि अगर देश के हर हिस्से का खाना चखना पड़े तो उम्र बीत जाये! शायद इसीलिए मुझे ट्रेन से ट्रैवल करना बहुत पसंद है ताकि मैं अलग-अलग स्टेशंस पर उतरकर वहाँ के लोकल व्यंजनों का लुत्फ़ उठा सकूँ।

यहाँ मैं आपको अपनी पसंद के 15 रेलवे स्टेशन फ़ूड आइटम के बारे में बता रही हूँ ताकि आप भी मौका मिलने पर उनका स्वाद ले सकें।

1. रतलाम स्टेशन पर कांदा पोहा

मध्यप्रदेश में ज्यादातर लोग नाश्ते में पोहा खाना पसंद करते हैं और व्यस्त रतलाम जंक्शन रेलवे स्टेशन भी उससे अलग नहीं है। यहाँ के दुकानदार इस क्लासिक इंडियन ब्रेकफास्ट को अपने अपने तरीके से बनाकर पेश करते हैं जिसे देखकर यात्री गाड़ियों से उतरकर खाने के लिए मज़बूर हो जाते हैं।आप भी अपने दिन की मज़ेदार शुरुआत यहाँ की एक प्लेट पोहा और गर्मा गरम चाय के साथ करें !

2. अजमेर स्टेशन पर कढ़ी कचौरी

कढ़ी कचौरी, राजस्थान - गुजरात क्षेत्र का स्पेशल ब्रेकफास्ट आइटम है जो, क्लासिक दही से बनी कढ़ी और खस्ता कचौरी का कॉम्बिनेशन है।इस पूरी बेल्ट में यह लोकल लोगों का पसंदीदा नाश्ता है और दुकानदारों को आसानी से लगभग हर जगह इसे बेचते हुए देखा जा सकता है। अगर आपके मुँह में पहले से ही कढ़ी कचौरी के बारे में सोच कर पानी आने लगा है, तो अगली बार जब भी आप अजमेर रेलवे स्टेशन को पार कर रहे हों तो इसकी एक प्लेट ज़रूर खाएँ । मुझे यकीन है आप अपनी उँगलियाँ चाटते रह जायेंगे। यह वास्तव में बहुत स्वादिष्ट है।

3. जालंधर स्टेशन पर छोले भटूरे

पंजाब एक ऐसी जगह है जहाँ लोग अपने नाश्ते की शुरुआत भरवां परांठे से करते हैं और डिनर फ्राइड चिकन के साथ। पंजाब एक तरह से देश का अल्टीमेट फ़ूड डेस्टिनेशन है।भरवाँ पराठें और तंदूरी चिकन के अलावा क्या आप अनुमान लगा सकते हैं कि वह कौन सी चीज़ है जो पंजाब का नाम लेते ही ज़ुबान पर आ जाती है।आपने बिलकुल ठीक सोचा, हम छोले भटूरे की ही बात कर रहे हैं। जालंधर में बहुत सारी ऐसी जगहें हैं जो बेस्ट छोले भटूरे खिलाने का दावा करती हैं और जालंधर रेलवे स्टेशन उनमें से एक है । मेरी राय में तो आप यहाँ के छोले भटूरे मिस करने का चान्स बिलकुल ना लें!

4. अमृतसर स्टेशन पर मशहूर अमृतसरी लस्सी

यदि आप पंजाब से ट्रेवल कर रहे हैं और अभी तक एक गिलास मीठी लस्सी नहीं पी है, तो आप वास्तव में कुछ बड़ा (वास्तव में बड़ा !) मिस रहे हैं।अमृतसर रेलवे स्टेशन दुनिया भर के यात्रियों के लिए एक शानदार जगह है और यहाँ की मलाईदार स्वादिष्ट लस्सी का तो कोई जवाब नहीं है। हालांकि,लस्सी के गिलास काफ़ी बड़े हैं इसलिए सलाह है कि आप इसे खाली पेट ही पीयें !

5. गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर लाल साह

देश में सबसे ज्यादा चाय का उत्पादन आसाम में होता है। यहाँ के रोलिंग टी गार्डन्स दुनिया की बेहतरीन चाय का उत्पादन करते हैं, और टी गार्डन्स को देखने यात्री तो आते ही हैं साथ ही साथ हजारों लोगों की आजीविका भी चाय के उत्पादन से चलती है ।यहाँ की चाय सबसे बढ़िया किस्मों में से है। लाल साह या लाल चाय स्थानीय लोगों की सबसे पसंदीदा चाय है। शक्कर के साथ यह चाय बिना दूध के तैयार की जाती है और गुवाहाटी रेलवे स्टेशन समेत पूरे असम में मिलती है।

6. कर्जत स्टेशन पर वड़ा पाव

7. हावड़ा के चिकन कटलेट

चाहे मटन हो या मछली या चिकन, कटलेट या चॉप, कोलकाता शहर के लोग इस कम्फर्ट स्नैक को इतना पसंद करते हैं, कि वह शहर के रेलवे स्टेशन तक भी ये सब खाने के लिए चले जाते हैं। हावड़ा रेलवे स्टेशन पर, शहर के कुछ बेहतरीन कटलेट वेंडर हैं और यहाँ के चिकन कटलेट का तो जवाब ही नहीं है !

8. टुंडला की आलू की टिक्की

टुंडला

एक बेहद रिमोट शहर होने के बावजूद, जिसका नाम आपने शायद पहले सुना भी नहीं होगा, टूंडला में भोजन का स्वाद उत्तर प्रदेश के जायके से भरपूर है।और यहाँ के रेलवे स्टेशन की काफी बड़ी आलू टिक्की, खाने के शौकीनों के बीच में बहुत पसंद की जाती है।टिक्की में मीठा और मसाले का बैलेंस इतना परफेक्ट है कि लोग केवल टिक्की खाने के लिए ही ख़ास टुंडला में रुकने वाली ट्रेन पकड़ते हैं।

9. चित्तौड़गढ़ स्टेशन पर पकोड़े

राजस्थान में भोजन करना किसी शाही अनुभव से कम नहीं है। वह तो पकोड़ों जैसी चीज़ खाकर ही पता चलता है कि शाही ठाट बाट के अलावा लोगों को कुछ साधारण खाना भी पसंद है । जब भी आप चित्तौडग़ढ़ घूमने जाएँ या उस शहर को पार करें तो वहाँ के रेलवे स्टेशन पर एक कप चाय के साथ मज़ेदार, मिक्स वेजिटेबल पकोड़े खाना ना भूलें । यह पकोड़े चित्तौडग़ढ़ स्टेशन की स्पेशलिटी हैं ।

10. मदुर का मद्दुर वड़ा

बिस्कुट स्टाइल का मदुर वडा कर्णाटक के मांड्या शहर की देन है।यह दिलकश और स्वादिष्ट वड़ा एक कप चाय के साथ, शाम का बेस्ट नाश्ता है । अगर आप मदुर स्टेशन पर रुकने वाली ट्रेन में होते हैं, तो आपको ट्रेन से उतरने की ज़रुरत भी नहीं पड़ती क्योंकि इसे बेचने वाले वेंडर गाड़ियों में ही आकर आपकी सीट पर गर्मागर्म वड़े लेकर पहुँच जाते हैं!

11. चेन्नई सेंट्रल स्टेशन पर घी अनियन रवा डोसा

कई लोगों का मानना है कि दक्षिण भारत में हर जगह मिलने वाला खाना एक जैसा ही होता है, जबकि वास्तव में ऐसा नहीं है।यहाँ तक कि अलग अलग जगहों के डोसे का स्वाद अलग होता है और मेरा पसंदीदा तो तमिलनाडु का डोसा है।चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन के डोसा वेंडर, यूँ तो कई दिलचस्प वेराइटी बनाते हैं लेकिन इस बात की गारंटी है कि घी अनियन रवा डोसा खाने के बाद आप इसे बार-बार मांगेंगे।

12. चारबाग स्टेशन की लखनवी बिरयानी

लखनऊ का जिक्र होते ही बहुत सारे स्वादिष्ट व्यंजनों की तस्वीर आँखों के सामने आ जाती है और ये बात सही भी है । चाहे वो मशहूर टुंडे के कबाब हों या लाजवाब चाट, लखनऊ एक ऐसा डेस्टिनेशन है जहाँ हर खाने का शौक़ीन जाना चाहता है ।और इस शहर के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि आपको इन सभी लज़ीज़ व्यंजनों का स्वाद लेने के लिए गली कूचों में भटकने की भी ज़रूरत नहीं है। चारबाग रेलवे स्टेशन अपने आप में ही एक खाने का खज़ाना है और यहाँ मिलने वाली लखनवी बिरयानी , स्टेशन पर मिलने वाले खाने के बारे में आपका विश्वास फिर से लौटा देगी !

13. खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर आलू पूरी

छात्रों की अधिक आबादी के कारण, खड़गपुर में खाने- पीने की बहुत सारी जगहें हैं जो सस्ती भी हैं और स्वादिष्ट भी । और इनमें से एक हैरान करने वाली मज़ेदार जगह जो हर किसी को आकर्षित करती है, वह खड़गपुर रेलवे स्टेशन है।इस व्यस्त स्टेशन पर मशहूर दम आलू और गर्मागर्म तली हुई पूरियाँ बेचने वालों की लाइन लगी रहती है। आप चाहे इन्हें नाश्ते में खाएँ या लंच में यह आप पर निर्भर है ।

14. जमशेदपुर के टाटानगर स्टेशन पर फिश करी

हम रेलवे स्टेशन की कैंटीन में खाना खाने से पहले कई बार सोचते हैं, लेकिन अगर आपके रास्ते में जमशेदपुर आता है तो भरोसा करें और स्टेशन पर खाने की अपनी हिचक बिलकुल हटा दें। टाटानगर जंक्शन रेलवे स्टेशन पर जो कैंटीन है उसका जवाब ही नहीं ।हालाँकि यह कैंटीन देखने में साधारण और बाकि कैंटीनों जैसी ही है लेकिन यहाँ के खाने का स्वाद बेजोड़ है । कैंटीन के कर्मचारी मछली की करी तैयार करने के लिए ताजा मछली का इस्तेमाल करते हैं। और उसे सादे उबले हुए चावल के साथ परोसते हैं । यह फ़िश करी बेहद स्वादिष्ट है। मौका मिलने पर आप इसे ज़रूर खाएँ ।

15. मथुरा स्टेशन पर मथुरा के प्रसिद्ध पेड़े

आपको मीठा पसंद हो या ना हो पर मथुरा के प्रसिद्ध पेड़ों के बारे में आपने ज़रूर सुना होगा। कई वैरायटी और अलग-अलग फ्लेवर में मिलने वाले ये पेड़े सालों से मथुरा के आकर्षण का केंद्र रहे हैं । इस शहर की कुछ सबसे फेमस मिठाई की दुकानदार, मथुरा स्टेशन पर रुकने वाली गाड़ियों के अंदर पेड़ों के डब्बे बेचते हुए नज़र आते हैं और मेरा दिल तो एक दो डब्बों पर कभी रुकता ही नहीं, दोस्तों के लिए भी-भर के ले आता हूँ ।

ट्रेन में यात्रा करने की आपकी क्या ख़ास यादें हैं? अपने अनुभव Tripoto साथ ज़रूर शेयर करें और डेस्टिनेशन से जुड़े आईडिया के लिए Tripoto के यूट्यूब चैनल पर ट्रेवल वीडियो देखना न भूलें जो आपको अपने बैग पैक करने पर मज़बूर कर देंगे ।

Be the first one to comment