Homestays For Work From Mountains Feels | BAWRAY BANJARAY HOMES

Tripoto
Photo of Homestays For Work From Mountains Feels | BAWRAY BANJARAY HOMES by Bawray Banjaray

महामारी फैल रही है और ट्रैवल खुल रहा है। महीनों से अपने अपने शहरों में कैद जनता में भड़क बैठ चुकी है, और इस बात में कोई दो राय भी नहीं होनी चाहिए। इजी एंट्री ऑपरेशनल होते ही, मनाली और ऐसे दूसरे हॉटस्पॉट्स में जो तांडव होना है, उसका वर्णन वन्डरलस्ट की हिस्ट्री के लिए एक्सर्प्ट का काम करेगा। पिछले कई दिनों से आप सब ने हमारे इन्बॉक्सेज़ में चरस बो रखी है - " कोई घर है बढ़िया, 5 - 6 महीनों के लिए? " उधर आपके वर्क फ्रॉम होम का ऐलान हुआ और आपदा को अवसर में बदलने की ठाने आप हमारे इनबॉक्स में पहुँच गए! तो इतने सारे मेसेजेज़ को रिप्लाई करने की जगह, हमने सोचा कि एक लिस्ट कम्पाइल करके वेबसाइट पे टाँग देते हैं! ये रहे कुछ Homestays For Work From Mountain feels, जहाँ आप कोरोना की भसड़ से दूर, शांति से एकाध महीने तो रह ही सकते हैं! हर पते के साथ घर के होस्ट के कॉन्टैक्ट डिटेल्स भी हर घर या अड्डे की डिस्क्रिप्शन में है. आप अपनी सुविधा अनुसार हमसे जान पहचान का इस्तेमाल कर इन घरों पर गेस्ट बनकर पधार सकते हैं!

AASTHA HOMESTAY - द फर्स्ट बावरे बंजारे होम (Best Homestay For Work From Mountains In Sainj, Himachal Pradesh)

Photo of Homestays For Work From Mountains Feels | BAWRAY BANJARAY HOMES 1/2 by Bawray Banjaray

AASTHA HOMESTAY हमारी एक्सटेंडेड फ़ैमिली है! सबसे पहले हमने आप लोगों को यहीं से होस्ट करना शुरू किया था! ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के पहाड़ों में छुपा एक गाँव है - अपर न्याही! सैंज वैली में काफी ऊपर जाकर पुण्डरीक ऋषि झील! हर मौसम के साथ अपने बदलते रंग की वजह से ये झील लोकल लोगों के लिए एक अट्रैक्शन है! इसी झील के किनारे थोड़ा आगे चलकर है AASTHA HOMESTAY!

इस घर पर आपको मिलेंगे माही और उनकी फैमिली! नज़ारे, पहाड़ी गाँव का रहन सहन, साफ़ हवा पानी और शांति के अलावा इस घर की सबसे ख़ास बात है हॉस्पिटैलिटी! आपको लगेगा ही नहीं कि आप अपना घर छोड़ कहीं और आए हो!

प्रो: चाय, खाना, प्यार, मोहब्बत, पहाड़ी यारी और कुल्लुवी संस्कृति को समझने का सबसे बेहतरीन बहाना, Work from mountain की पूरी फ़ील

कॉन: आप शहरी दुनिया से पूरी तरह से कट ऑफ हो जाएंगे। यहाँ से वापस अपने घर आना बहुत मुश्किल होता है! कई बार तो गेस्ट्स आते हैं 2 दिन के लिए और रह जाते पूरे पूरे साल के लिए! वजह - घर वाली बात!

इंटरनेट: Jio 4G (ठीक ठाक चल जाता है!)! बाकी इंटरनेट बादल और बिजली भरोसे है.

LOST IN THE HIMALAYAS - वशिष्ठ वाली जादुई बालकनी (Budget Homestay For Work From Mountains In Vashisth, Himachal Pradesh)

Photo of Homestays For Work From Mountains Feels | BAWRAY BANJARAY HOMES 2/2 by Bawray Banjaray

लॉस्ट इन हिमलयाज़ प्रणव भाई का घर है! वशिष्ठ गाँव के बिलकुल ऊपर, सेब के बागान में छुपी बालकनी वाला ये घर बादलों का अड्डा है! घर में 4 कमरे हैं, सारी बेसिक एमेनिटीज के साथ! कॉमन वाशरूम है - गीज़र के साथ!

आप चाहें तो अपना खाना खुद भी बना सकते हैं - किचन सभी सुविधाओं से लैस है! प्रणव भाई ख़ुद भी बढ़िया खाना बनाते हैं - इसकी गारंटी हमारी है!

प्रो: Work from mountain की पूरी फ़ील, भीड़ भसड़ से दूर, इस घर की बालकनी से बैठ आप बादलों के बीच से पूरा वसिष्ट देख सकते हैं! बादल न हों, तो आप फ्रेंडशिप पीक के भी नज़ारे ले सकते हैं!

रीड द फुल स्टोरी हियर