सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी

Tripoto
Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta

दिल्ली से करीब 270 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मसूरी एक प्रमुख हिल स्टेशन है। मसूरी प्रकृति की गोद में बसा एक बेहद खूबसूरत शहर है। यह उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से करीब 28 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। देहरादून आने वाला हर पर्यटक यहां जरूर आता है। वैसे तो यहां गर्मी के मौसम में पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है, लेकिन सर्दी के मौसम में भी यहां काफी घुमक्कड़ आते हैं। सर्दी में यहां का मौसम बहुत ही शानदार रहता है।

Day 1

सर्दी में मस्त मौसम के बीच हल्की बर्फबारी में पर्यटक खुद को स्वर्ग में पाते हैं। पर्वतों का सौम्य ढलान, शांत वातावरण, चारों ओर फैली हरियाली और सुहाना मौसम देख पर्यटक एक नई दुनिया में खो सा जाता है। चाय की चुस्की के साथ यहां आप सूर्योदय और सूर्यास्त का एक अलग ही अनुभव प्राप्त करेंगे। सुबह या शाम के समय का अद्भुत दृश्य देखकर आप दंग रह जाएंगे।

सभी फोटो- उत्तराखंड टूरिज्म

Photo of मसूरी, Uttarakhand, India by Hitendra Gupta
Photo of मसूरी, Uttarakhand, India by Hitendra Gupta

शादी के बाद हनीमून मनाने हिल स्टेशन जाने वालों के लिए तो मसूरी एक स्वर्ग ही है। नवदंपति के लिए मसूरी लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक स्थल है। शादी के सीजन में यहां मॉल रोड, कंपनी गार्डन, लाल टिब्बा, गन हिल, कैम्पटी फॉल में बांहों में बांहें डाले घूमते सैकड़ों जोड़े दिख जाएंगे। उस समय यहां की रंगीनी काफी बढ़ जाती है। यहां हर मौसम में वीकेंड पर दिल्ली-एनसीआर से काफी लोग पहुंचते हैं।

यह भी पढ़ेंः मसूरी के 8 टूरिस्ट डेस्टिनेशन जो सचमुच बनाते हैं शहर को पहाड़ियों की रानी

मसूरी में पर्यटकों के बीच सबसे फेमस जगह है मॉल रोड। यह लाइब्ररी पॉइंट से पिक्चर पैलेस तक करीब 2 किलोमीटर लंबे क्षेत्र मे फैला हुआ है। यह मसूरी का एक मेन मार्केट है। यहां एक से बढ़कर एक दुकानें और खाने-पीने के लिए कई रेस्त्रां हैं। यहां खरीदारी करने वाले लोगों की भीड़ लगी रहती है। शाम के समय रंगीन रोशनियों के बीच यहां का नजारा काफी दिलकश रहता है। सर्दी में दिसंबर से जनवरी के बीच हल्की बर्फबारी में सैकड़ों प्रेमी जोड़ों को यहां घूमते देखा जा सकता है।

Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta
Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta
Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta
Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta
Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta

सभी फोटो- उत्तराखंड टूरिज्म

Photo of सर्दी का आनंद लेना हो तो घूम आइए पहाड़ों की रानी मसूरी by Hitendra Gupta

मॉल रोड के बाद कंपनी गार्डन भी घूमने के लिए एक प्रमुख जगह है। हरियाली से भरे इस खूबसूरत जगह में आप झील और कृत्रिम झरने के किनारे शांत वातावरण में समय बिता सकते हैं। इसके साथ ही आप सर जॉर्ज एवरेस्ट हाउस भी जा सकते हैं। यहां दुनिया की सबसे ऊंची पर्वत चोटी मांउट एवरेस्ट की खोज करने वाले सर जॉर्ज एवरेस्ट का घर है। इसे अब पर्यटकों के लिए एक रेस्त्रां में बदल दिया गया है। यहां से आप प्रकृति के शानदार नजारे का लुत्फ उठा सकते हैं।

मसूरी में एक बेहद दर्शनीय स्थल है लाल टिब्बा। मसूरी का यह सबसे ऊंचा स्थल है। ट्रेकिंग में दिलचस्पी रखने वाले यहां जरूर जाते हैं। लाल टिब्बा की चोटी पर एक दूरबीन है। मौसम साफ रहते पर आप इस दूरबीत से केदारनाथ और बद्रीनाथ पर्वत की झलक देख सकते हैं। लाल टिब्बा के बाद मसूरी में दूसरे सबसे ऊंचे प्वॉइंट के रूप में प्रसिद्ध है गन हिल। गन हिल से दून घाटी का बड़ा ही सुंदर दृश्य दिखाई देता है। यहां आप पैदल या रोपवे से जा सकते हैं।

कैसे पहुँचें?

सड़क मार्ग से- मसूरी देश के सभी इलाकों से सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा है। यहां दिल्ली से आना काफी आसान है। मसूरी जाने के लिए पहले आपको देहरादून जाना होगा। देहरादून से मसूरी करीब 28 किलोमीटर दूर है। यहां से आप बस टैक्सी से आराम से पहुंच सकते हैं।

रेल मार्ग से- मसूरी का नजदीक रेलवे स्टेशन भी देहरादून ही है। देश के किसी भी हिस्से से रेल से देहरादून आकर आप बस-टैक्सी लेकर मसूरी जा सकते हैं।

वायु मार्ग से- मसूरी का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा देहरादून का जॉलीग्रांट हवाई अड्डा है। यहां से आप टैक्सी लेकर मसूरी जा सकते हैं।

-हितेन्द्र गुप्ता

कैसा लगा आपको यह आर्टिकल, हमें कमेंट बॉक्स में बताएँ।

अपनी यात्राओं के अनुभव को Tripoto मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती के सफ़रनामे पढ़ने के लिए Tripoto বাংলা  और  Tripoto  ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना Telegram पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।