पूर्वी स्कॉटलैंड

Tripoto
19th Dec 2017
Day 1

कुन्नूर

कुन्नूर भी तमिलनाडु राज्य में स्थित है और ध्यान देने वाली बात यह है की ये ऊटी से कुछ ही दूरी पर है तो आप एक ही यात्रा के दौरान ऊटी और कुन्नूर दोनों हिल स्टेशन घूम सकते है अच्छा दोस्तों एक और मजेदार बात यहाँ भी आपको टॉय ट्रेन मिल जाएगी जो आपको कुन्नूर से ऊटी ले जाएगी और इन दोनों हिल स्टेशन की नैसर्गिक प्राकृतिक सुन्दरता के आपको दर्शन कराएगी बहुत ही रोचक अनुभव होता है टॉय ट्रेन से हिल स्टेशन घूमना आप इस अनुभव को बिलकुल भी छोड़े न | कुन्नूर के प्रमुख पर्यटन स्थल सिम पार्क , डॉलफिन नोज व्यू पॉइंट , डूग किला , गुएर्नेसे टी फैक्ट्री है |

शिलांग

शिलांग मेघालय राज्य की राजधानी है मेघालय मतलब मेघो का आलय या यू कहे मेघो का घर , शिलांग एक बहुत ही खूबसूरत शहर है इसको पूर्व के स्कॉटलैंड नाम से भी जाना जाता है जैसे ही आप यहाँ पहुचोगे सारी थकावट आपकी गायब हो जाती है आप यही सोचने को मजबूर हो जायेंगे’ की क्या इतने भी सुन्दर शहर है अपने देश में | यहाँ नजदीक में ही चेरापूंजी है यदि आपके पास समय है तो आप आप चेरापूंजी के मनोहर द्रश्य देखना न भूले | चेरापूंजी भारत में सर्वाधिक वर्षा वाला क्षेत्र है यहाँ झरनों की कलकल करती आवाज आपको अपनी और आकर्षित कर लेगी |

शिलांग के पर्यटन स्थल

शिलांग व्यू पॉइंट , वार्डस लेक , मावफलांग सैकरेड फारेस्ट , केथराल और कथोलिक चर्च , एंगलीकेन सिमेंट्री चर्च , बटरफ्लाई म्यूजियम आल सैट चर्च , डॉन बोस्को सेन्टर मावलिननाँग वॉटरफॉल . एलिफंट वॉटरफॉल |

कैसे पहुचे

यदि आप वायुमार्ग से जाना चाहते है तो शिलांग का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा गुवाहाटी है और गुवाहाटी से आगे का सफ़र आपको बस या कार से करना होगा |

यदि आप रेलमार्ग  से जाना चाहते है तो शिलांग का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन भी गुवाहाटी है और गुवाहाटी से आगे का सफ़र जो की लगभग 104 किलोमीटर का है आपको बस या कार से करना होगा |

यदि आप सड़कमार्ग से जाना चाहते है तो आपको गुवाहाटी से शिलांग के लिए बस मिल जाएगी | 

Be the first one to comment