भारत का पहला प्राइवेट रेलवे स्टेशन जिसमें पाँच सितारा होटेल है : हबीबगंज रेलवे स्टेशन

Tripoto

कल्पना कीजिए एक शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, एक पांच सितारा होटल और एक मल्टी-स्पेशियलिटी अस्पताल- तीनों एक रेलवे स्टेशन के भीतर | भारतीय रेलवे के भावी भविष्य में आपका स्वागत है |

भोपाल के उपनगरीय इलाक़े में रहने वाले लोगों का सहारा यहाँ स्थित हबीबगंज रेलवे स्टेशन है, मगर विश्व के सबसे बड़े रेलवे नेटवर्क भारत के स्टेशनों में काफ़ी मामूली नाम है | देखा जाए तो पिछले हफ्ते हुई एक घोषणा ने इसका दर्जा बदल दिया | मध्यप्रदेश में स्थित हबीबगंज स्टेशन भारतीय रेलवे के इतिहास में पहली बार एक पब्लिक-प्राइवेट साझेदारी के तहत सुधारा जाएगा |

Photo of भारत का पहला प्राइवेट रेलवे स्टेशन जिसमें पाँच सितारा होटेल है : हबीबगंज रेलवे स्टेशन 1/3 by लफंगा परिंदा
श्रेय : अमन गुप्ता

साल 2010 से इस सुधार कार्य के बारे में बातचीत हो रही थी, जिसे इस शुक्रवार रेल मंत्री सुरेश प्रभु लौन्च करेंगे | हबीबगंज रेलवे स्टेशन का रख रखाव और संचालन का काम अगले 8 साल के लिए बंसल ग्रुप को सौंपा गया है | इस सुधार कार्य के दौरान रेलवे स्टेशन के अंदर कमर्शियल कॉम्प्लेक्स, ऑफिस स्पेस, शॉपिंग एरिया और होटल बनाए जाएंगे।

Photo of भारत का पहला प्राइवेट रेलवे स्टेशन जिसमें पाँच सितारा होटेल है : हबीबगंज रेलवे स्टेशन 2/3 by लफंगा परिंदा
हबीबगंज स्टेशन का ऊपर से नज़ारा | श्रेय : आईआरएसडीसी

इस विकास कार्य के लिए बंसल ग्रुप 100 करोड़ रुपये खर्च करेगी और जिन चार ज़मीनी टुकड़ों को इन्होने अगले 45-साल के लिए लीज़ पर लिया है उनके लिए अलग से 350 करोड़ खर्च करेगी |

बंसल ग्रुप के मॅनेजिंग डाइरेक्टर सुनील बंसल कहते हैं :

" इस व्यावसायिक क्षेत्र को हम दो चरणों में विकसित करने की योजना बना रहे हैं | पहले चरण में दो ओफिस-कम-शॉपिंग कॉंप्लेक्स, और दूसरे चरण में एक मल्टी-स्पेशियलिटी अस्पताल और बजट-व-पाँच सितारा होटल बनाया जाएगा | "

रेलवे स्टेशन का प्राइवेटाइज़ेशन (निजीकरण) होने के बाद भी भारतीय रेलवे के पास ट्रेन संचालन, टिकट बिक्री, पार्सल और सुरक्षा व्यवस्था पर पूरा अधिकार और नियंत्रण होगा। इस पीपीपी (पब्लिक-प्राइवेट साझीदारी) की सबसे पहली शर्तों में से एक ये थी कि स्टेशन की वास्तुकला और विरासत के साथ किसी भी रूप में छेड़छाड़ नहीं की जाएगी | इस शर्त से इस प्रॉजेक्ट के अगले स्टेशनों कानपुर सेंट्रल और इलाहाबाद जंक्शन की इमारतों को बरकरार रखा जाएगा |

Photo of भारत का पहला प्राइवेट रेलवे स्टेशन जिसमें पाँच सितारा होटेल है : हबीबगंज रेलवे स्टेशन 3/3 by लफंगा परिंदा
हबीबगंज की ये सूरत बदलने वाली है | श्रेय : अनस ख़ान

आईआरएसडीसी (इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड) पहले से ही आनंद विहार (दिल्ली), बिजवासन (दिल्ली), चंडीगढ़, सूरत (गुजरात), मोहाली (पंजाब) और गांधीनगर (गुजरात) में परियोजनाएं चला रहा है। लक्ष्य है 400 स्टेशनों का पुनरूद्धार इन्हें विश्व स्तरीय परिवहन हब में विकसित करना |

पिछले कुछ सालों में भारतीय रेलवे ने काफ़ी रचनात्मक और विकासशील प्रॉजेक्ट पारित किए हैं | अब देखना ये हैं कि इनमें से कितने काग़ज़ से निकल कर हक़ीकत की शक्ल लेते हैं |

रेल यात्राएँ करने के शौकीन हैं? तो भारत की इन 8 रेल यात्राओं के बारे में ज़रूर पढ़िए जो आपको मंत्रमुग्ध कर देंगी |

यह आर्टिकल अनुवादित है | ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Be the first one to comment