गांजे की खेती करना वैध कर सकता है हिमाचल प्रदेश

Tripoto
Photo of गांजे की खेती करना वैध कर सकता है हिमाचल प्रदेश 1/2 by लफंगा परिंदा

संभावना है कि हिमाचल प्रदेश की ओर आपकी अगली यात्रा और भी नशीली हो जाए क्यूंकी हो सकता है जल्द ही हिमाचल प्रदेश की राज्य सरकार गांजे की खेती करना क़ानूनन रूप से वैध बना दे | हिमाचल प्रदेश के मुख्य मंत्री जय राम ठाकुर ने सोमवार को हुई बात चीत में ये इशारा दिया है कि राज्य सरकार गांजे की खेती को क़ानूनन रूप से वैध बनाने पर विचार विमर्श के लिए तैयार है मगर उसकी वैधता जाँचने के बाद ही |

द ट्रिब्यून के अनुसार प्रदेश के मुख्य मंत्री जय राम ठाकुर ने गांजे की खेती को वैध बनाने की बढ़ती माँग पर सोमवार को बात चीत की थी | गांजे की खेती को वैध बनाने में माँग की बढ़ोतरी पड़ोसी राज्य उत्तराखंड में बढ़ती भांग की खेती का परिणाम है |

कुल्ली जिले में सैंज और मलाना गाँव मुख्यतः यहाँ उगाई जाने वाली दमदार एवं उच्च कोटि की गुणवत्ता वाली बेहतरीन भांग की प्रजाति के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध हैं | इस तथ्य ने भांग की खेती को वैध बनाने की ज़रूरत को और भी महत्व दिया है जिससे स्थानीय किसानों की अर्थव्यवस्था को बहुत बढ़ावा मिल सकता है |

Photo of गांजे की खेती करना वैध कर सकता है हिमाचल प्रदेश 2/2 by लफंगा परिंदा

कॉंग्रेस और बीजेपी दोनो ही राजनीतिक दलों के मुख्य नेताओं ने भांग की खेती को वैध बनाने के विचार पर अपनी सहमति व्यक्त की है | इस बात से ये तो ज़ाहिर होता है कि भांग की खेती को क़ानूनन रूप से वैध बनाने के काम में राजनैतिक रूप से तो कोई बाधा नहीं आएगी |

हालाँकि हिमाचल प्रदेश में भांग की खेती के वैध हो जाने का ये मतलब नहीं है कि सैलानी और स्थानीय लोग इसका ग़लत फ़ायदा उठाने लगें | यह सुझाव दिया गया है कि सरकार इसके उपयोग पर सख्त निगरानी जारी रखेगी।

हिमाचल प्रदेश का सुंदर पहाड़ी इलाक़ा भारत में सबसे ज़्यादा लोकप्रिय और पसंद किए जाने वाले पहाड़ी इलाक़ों में से एक है | चारों ओर फैले व बर्फ से लदे पहाड़ों की चोटियों से सुसज्जित हिमाचल प्रदेश में हरे भरे घास के मैदान और सुहावना मौसम तो है ही, साथ ही अब इस शानदार राज्य की जलवायु और वनस्पति को चाहने का एक और कारण जुड़ जाएगा | इसमें कोई दोराय नहीं है कि गांजे की खेती क़ानूनन रूप से वैध होना यहाँ की फ़िज़ाओं में और भी नशा घोल देगा, चाहे आप इसका अर्थ शाब्दिक रूप में ले या तार्किक रूप में |

यदि आप जल्द ही हिमाचल प्रदेश जाने की योजना बना रहे हैं, तो यहाँ ट्रिपोटो की मार्गदर्शिका ज़रूर देखें | अगर हिमाचल घूम कर आ चुके हैं तो अपने क़िस्से ट्रिपोटो पर लाखों अन्य मुसाफिरों के साथ बाँटें

ये आर्टिकल अनुवादित है | ओरिजिनल आर्टिकल पढ़ने के लिए क्लिक करें |

Be the first one to comment

Further Reads