भारत के इन खूबसूरत पुलों पर टिक जाएगी आपकी नजर, एक बार देखने जरूर जाएं

Tripoto
Photo of भारत के इन खूबसूरत पुलों पर टिक जाएगी आपकी नजर, एक बार देखने जरूर जाएं by Musafir Rishabh

घूमते हुए जब हम किसी पुल पर खड़े होते हैं जहाँ से नदी के इस पार और उस पार का जहाँ दिखाई देता है। तब आप उस जगह या शहर से अपने आपको कनेक्टेड कर पाते होंगे। ये पुल ही तो हैं जो दो जगहों को जोड़ने का काम करते हैं। ब्रिज कारीगरी का शानदार नमूना होता है और अपने समय के आर्किटेक्चर के बारे में बताते हैं। भारत में घूमते हुए हम हर रोज न जाने कितने पुलों से गुजरते हैं लेकिन कुछ पुलों को देखकर वहाँ थोड़ी देर ठहरने का मन करता है। भारत के ऐसे ही कुछ शानदार पुलों के बारे में आपको जान लेना चाहिए।

भारत के शानदार पुल:

1- बांद्रा वर्ली सी लिंक, मुंबई

मुंबई के समुद्र में स्थित बांद्रा वर्ली सी लिंक कारीगरी का एक अद्भुत नमूना है। 5.6 किलोमीटर लंबे इस पुल को बांधने के लिए केबल तारों का इस्तेमाल हुआ है। 2009 में इस पुल को लोगों के लिए खोल दिया गया। बांद्रा वर्ली सी लिंक पश्चिमी और दक्षिणी मुंबई को आपस में जोड़ता है। इस पुल पर सिर्फ बड़ी गाड़ियां ही चलती हैं। मुंबई जाएं तो इस पुल को जरूर देखें।

2- हावड़ा ब्रिज, कोलकाता

कोलकाता का हावड़ा ब्रिज अपनी कारीगरी के लिए पूरी दुनिया में फेमस है। हावड़ा ब्रिज हुगली नदी पर बना एक विशाल स्टील पुल है। ये दुनिया के सबसे लंबे कैंटिलीवर पुलों में से एक है और इसे रवीन्द्र सेतु के नाम से भी जाना जाता है। हावड़ा ब्रिज 1500 फीट लंबा और 71 फीट चौड़ा है जो अपनी सुंदरता के लिए जाना जाता है। रात के समय हावड़ा ब्रिज और भी खूबसूरत लगता है।

3- ग्लास ब्रिज, राजगीर

बिहार में वैसे तो कई शानदार पुल हैं लेकिन उन सबमें से सबसे अनोखा है ग्लास ब्रिज। बिहार के नालंदा जिले के राजगीर में कांच का पुल है। चीन से प्रेरित होकर बिहार में इस पुल को बनाया गया है। जमीन से 250 फीट की ऊंचाई पर स्थित ग्लास ब्रिज की लंबाई 85 फीट और चौड़ाई 6 फीट है। आपको इस पुल से राजगीर का शानदार नजारा देखने का मौका मिलेगा। बिहार की यात्रा में आप ग्लास ब्रिज को देख सकते हैं।

4- पंबन ब्रिज, तमिलनाडु

तमिलनाडु में स्थित पंबन ब्रिज भारत का पहला सी ब्रिज है जो 1914 में शुरू हुआ था। ये पुल प्रकृति की खूबसूरती को अपने में समेटे हुए है, यह वाकई में अद्भुत है। पंबन ब्रिज एक रेलवे ब्रिज है और ये रामेश्वरम से पंबन आइलैंड को जोड़ता है। 145 खंभों पर टिका ये पुल कारीगरी का बेजोड़ नमूना है। हर घूमने वाला एक बार इस पुल से होकर जरूर गुजरना चाहता है।

5- कोरोनेशन पुल, दार्जिलंग

दार्जिलिंग के सिलीगुड़ी में एक बेहद पुराना और खूबसूरत पुल है, कोरोनेशन ब्रिज। 1930 में किंग जार्ज की याद में इस पुल को बनवाया गया था। तीस्ता और रंगीत नदियों के संगम पर बना ये पुल बेहद खूबसूरत है। इस पुल से आप चारों तरफ का हरा-भरा नजारा देखकर खुश हो जाएंगे। कोरोनेशन ब्रिज के बाघ पुल के नाम से भी जाना जाता है।

6- लिविंग रूट ब्रिज, मेघालय

अब तक आपने जिन पुलों के बारे में जाना उनको इंजीनियरों और कारीगरों द्वारा बनाया गया था लेकिन भारत में कुछ पुल ऐसे भी हैं जिनको प्रकृति खुद बनाती है। मेघालय में ऐसे पुलों को लिविंग रूट ब्रिज के नाम से जाना जाता है। आप मेघालय के नोंग्रियत गांव में इस ब्रिज को देख सकते हैं। उमेशियांग नदी पर बना ये पुल डबल डेकर ब्रिज है। मेघालय में कई जगहों पर जंगलों के बीच कई सारे लिविंग रूट ब्रिज हैं जिनको आप देख सकते हैं।

क्या आपने भारत की इन जगहों की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना टेलीग्राम पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।