मौसिनराम : बारिश के दीवाने इस बात को ज़रूर जाने।

Tripoto
21st Jun 2018
Day 1

बारिश एक बेहद ही खूबसूरत मौसम है जो सभी को बेहद भाता है, यकीनन आपको भी पसंद होगा।इस मौसम में आपका मन भी एक बच्चा बनने को करता होगा..पानी में भीगते हुए..नाव की कश्ती को पानी चलाना।
भले ही हम कितने भी बड़े हो जाये लेकिन बारिश का मौसम हमे बच्चा बनने पर मजबूर कर ही देता है। जहां उत्तर भारत में लोग मानसून की दस्तक के बाद बरसात के तरस रहे हैं..तो वहीं पूर्वोत्तर भारत स्थित मेघालय में एक ऐसी जगह है, जहां हमेशा बारिश होती रहती है।
अगर आप सोच रहें है कि मै आपको चेरापूंजी के बारे में बताने जा रही हूं तो अप गलत है..क्यों कि आज मै आपको बताने जा रहा हूं.. मेघालय के मौसिनराम के बारे में, जहां लोग धूप निकलने का इंतजार करते रह जाते है लेकिन उन्हें सूर्य भगवान के दर्शन नही होते। बता दें मौसीनरम में विश्व में सबसे ज्यादा बारीश होती है..अगर आप मौसीनरम जा कर वहां की खूबसूरती को निहारना चाहते हैं..तो उससे पहले हमारा ये लेख जरुर पढ़े

मौसमई फॉल

मौसमई फॉलभारत का चौथा सबसे ऊंचा वाटरफॉल है। ऊँची पहाड़ी पर स्थित उया वाटरफॉल मौसीनरम से थोड़ी दूरी पर स्थित है..यहां आकर आप आसपास की प्राकृतिक खूबसूरती को देख यहां के दीवाने हो जायेंगे।

मौसमई केव्स

अगर आप साहसिक खेलों के शौक़ीन हैं तो, आपको मौसमई केव्स की सैर जरुर करनी चाहिए। आप इन गुफायों में बिना किसी तैयारी या गाइड की सहायता के बहुत ही आसानी से घूम सकते हैं। 150 मीटर लम्बी इस गुफा के अन्दर प्रकाश का समुचित प्रबन्ध होने के कारण वे आसानी से रास्ता खोज सकते हैं।

नोहकालाई फॉल

नोहकालाई फॉल देश का पांचवा सबसे ऊंचा फॉल है। 1000 फीट की ऊंचाई से पानी को गिरते देखने का अपना एक अलग ही अनुभव है। यह खूबसूरत वाटरफॉल मौसीनरम से 5 किमी की ऊंचाई पर स्थित है।

चेरापूंजी

विश्व में मौसीनरम के बाद चेरापूंजी में सबसे अधिक बारिश होती है। चेरापूंजी को सोहरा और चुर्रा भी कहते हैं।

मौलिंगबना

मौसीनरम से 25 किमी की दूरी पर स्थित मौलिंगबना अपने जीवाश्म(फॉसील) और प्राकृतिक गीजर के लिए प्रसिद्ध है।

Photo of मौसिनराम : बारिश के दीवाने इस बात को ज़रूर जाने। by Shareef
Photo of मौसिनराम : बारिश के दीवाने इस बात को ज़रूर जाने। by Shareef
Photo of मौसिनराम : बारिश के दीवाने इस बात को ज़रूर जाने। by Shareef
Be the first one to comment