World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप

Tripoto
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Day 1

वैशाली का विश्व शांति स्तूप आज भी विश्व को शांति का संदेश दे रहा है। लोकतंत्र की जननी वैशाली ऐतिहासिक धरोहरों का खजाना है। यहां जैन धर्म के प्रवर्तक भगवान महावीर की जन्मस्थली बासोकुंड यानी कुंडलपुर है। अशोक का लाट यानी अशोक स्तंभ, दुनिया का सबसे प्राचीन संसद भवन राजा विशाल का गढ़, बौद्ध स्तूप, अभिषेक पुष्करणी, बावन पोखर और सबसे प्रमुख जापान की ओर बनवाया गया विश्व शांति स्तूप है।

Photo of विश्व शांति स्तूप, Vishwa Shanti Stupa Road, Basarh, वैशाली जिला, Bihar, India by Hitendra Gupta

कैसे पहुंचे

यह स्थल सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यहां आप पटना, हाजीपुर और मुजफ्फरपुर से आसानी से बस या टैक्सी से आ सकते हैं। ट्रेन के आने के लिए आपको 30 किलोमीटर दूर मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन या फिर 41 किलोमीटर दूर हाजीपुर जंक्शन आना होगा। नजदीकी हवाई अड्डा पटना करीब 65 किलोमीटर दूर है।

सभी फोटो बिहार टूरिज्म

Photo of World Peace Pagoda, Vishwa Shanti Stupa Road, Chak Ramdas, Vaishali, Bihar, India by Hitendra Gupta

दुनिया को शांति का संदेश देने के लिए वैशाली में इस पीस पैगोडा यानी शांति स्तूप की स्‍थापना की गई। विश्व शांति का प्रतीक काफी सुंदर और भव्य है। इस विश्व शांति स्‍तूप की ऊंचाई 125 फीट और इसके गुंबद का व्‍यास 65 फीट है। वैशाली स्थित विश्व शांति स्तूप का निर्माण जापानी बौद्ध संस्था निपोप्‍जंन मयोहोजी ने करवाया था। इस स्‍तूप में भगवान बुद्ध के अवशेष, सोने के गहने और कांच के सामान रखे गए हैं।

Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta

विश्व शांति स्तूप के चारों ओर बुद्ध की चार आकर्षक मूर्तियां बनाई गई हैं। सोने के रंग की बनी यह मूर्तियां काफी आकर्षक और मनमोहक हैं। यह स्थान प्राकृतिक रूप से काफी सुंदर और खूबसूरत है। विशाल और सफेद विश्व शांति स्तूप एक तालाब से घिरा हुआ है। देखने में यह राजगीर स्थित शांति स्तूप की तरह ही है। यहां रोज हजारों की संख्या में बौद्ध और जैन धर्म के अनुयायी के साथ आम पर्यटक भी आते हैं।

Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta

देश-दुनिया के पर्यटकों के लिए अब भी यह स्थल अनछुआ- अनजान सा बना हुआ है, जबकि भगवान महावीर की जन्मस्थली होने के कारण यह जैन धर्म के लोगों के लिए एक पवित्र स्थल है। इतना ही नहीं भगवान बुद्ध के कारण यह बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए भी प्रमुख तीर्थ स्थल है। वैशाली के बारे में कहा जाता है कि भगवान बुद्ध यहां कई बार आए थे। उन्होंने यहां काफी समय बिताया था। कुशीनगर में महापरिनिर्वाण की घोषणा उन्होंने वैशाली में ही की थी। बताया जाता है कि भगवान बुद्ध ने वैशाली के कोल्हुआ में अपना अंतिम उपदेश दिया था, उसी के याद में सम्राट अशोक ने यहां अशोक स्तंभ बनवाया था।

Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta
Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta

दर्शनीय स्थल

विश्व शांति स्तूप के पास अन्य दर्शनीय स्थलों मे अशोक स्तंभ, राजा विशाल का गढ़, बौद्ध स्तूप, अभिषेक पुष्करणी, बावन पोखर और कुंडलपुर है। यहां रोज हजारों लोग आते हैं।

Photo of World Peace Pagoda, Vaishali: विश्व को शांति का संदेश देता वैशाली का विश्व शांति स्तूप by Hitendra Gupta

कब पहुंचे

वैसे बिहार में सर्दी और गर्मी दोनों काफी ज्यादा पड़ती है। इसलिए यहां फरवरी से मार्च और सितंबर से नवंबर के बीच आना सही रहता है। बरसात में कोल्हुआ के आसपास बाढ़ का पानी आ जाता है। इसलिए बारिश में आने से बचना चाहिए।

-हितेन्द्र गुप्ता

कैसा लगा आपको यह आर्टिकल, हमें कमेंट बॉक्स में बताएँ।

अपनी यात्राओं के अनुभव को Tripoto मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती के सफ़रनामे पढ़ने के लिए Tripoto বাংলা  और  Tripoto  ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना Telegram पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।

vaishali,World Peace Pagoda, Vaishali, bihar tourism, vaishali tour, vaishali tour package, वैशाली का विश्व शांति स्तूप, वैशाली, विश्व शांति स्तूप, raja vishal fort, vaishali stup, राजा विशाल का गढ़, अशोक स्तंभ वैशाली, वैशाली स्तूप,