मुगलई खाने के शौकीनों को दिल्ली के ये 7 रेस्त्रां जरूर ट्राई करने चाहिए

Tripoto
Photo of मुगलई खाने के शौकीनों को दिल्ली के ये 7 रेस्त्रां जरूर ट्राई करने चाहिए by Deeksha Agrawal

खानपान के मामले में भारतीय विविधता का मुकाबला कर पाना मुश्किल है नहीं नामुमकिन है। भारत तो क्या एक राज्य में अकेले इतने व्यंजन होते हैं कि आप हैरान रह जाएंगे। कहीं आपको नॉर्थ इंडियन फूड मिलेगा तो कहीं मराठी खाने की लाजवाब वैरायटी देखने के लिए मिलेगी। लेकिन इन सब में कुछ क्विजीन ऐसे हैं जो अकबर बाबर के जमाने से चले आ रहे हैं। भारत में मुगलई क्विजीन का जन्म मुगल शासकों के समय में हुआ था।

वो समय और आज का दिन ये क्विजीन घर घर में फेमस हो गया है। ऐसे में यदि आप दिल्ली में हैं और आपका मुगलई फूड खाने का मन है तो आपको ज्यादा परेशानी नहीं होगी। दिल्ली के इन 7 रेस्त्रां में आपको लाजवाब मुगलई खाना खा सकते हैं।

1. लजीज अफेयर

आप खुद सोचिए जिस जगह के नाम में ही लजीज है वहाँ का खाना कितना लाजवाब होगा। दिल्ली के सबसे नामी मुगलई रेस्त्रां में शुमार लजीज अफेयर में आपको टॉप क्वालिटी का मुगलई क्विजीन खाने के लिए मिलेगा। 1999 में शुरू किए गए इस रेस्त्रां में मुगलई खाने की बढ़िया दावत होती है। दिल्ली के मलचा मार्ग में स्थित इस रेस्त्रां की जितनी तारीफ की जाए कम होगी। ये उन चुनिंदा रेस्त्रां में से है जहाँ खाना खाकर आपका पेट भर जाएगा लेकिन मन नहीं भरेगा। खाने के अलावा रेस्त्रां की सजावट पर भी काफी ध्यान दिया गया है। रेस्त्रां की सभी चीजों में पारंपरिक भारतीय संस्कृति को थोड़े मॉडर्न टच के साथ पेश किया गया है। कुल मिलाकर इस रेस्त्रां में को सारी चीजें हैं जो एक परफेक्ट डाइनिंग एक्सपीरियंस के लिए चाहिए होती हैं।

बेस्ट: गलौटी कबाब, बटर चिकन

2. बुखारा

अगर आपके लिए परफेक्ट खाने का मतलब मखमली कुलचे और बटर नान है तो ये रेस्त्रां आपकी लिस्ट में जरूर शामिल होना चाहिए। आईटीसी मौर्या दिल्ली के शानदार रेस्त्रां बुखारा में आपको मुगलई फूड का अच्छा खासा खजाना मिलेगा। ये रेस्त्रां इतना फेमस है कि यहाँ भारत तो क्या कई नामी विदेशी हस्तियों ने भी खाना खाए है। जिसमें बिल क्लिंटन का नाम भी शामिल है। इस रेस्त्रां की खासियत है कि यहाँ वेजिटेरियन और नॉन वेजिटेरियन दोनों ही बढ़िया मिलता है। खाने के स्वाद को निखारने के लिए उसको चिकनी मिट्टी से बने ओवन में पकाया जाता है। जिसका सोंधा टेस्ट बहुत अच्छा होता है। खाने के अलावा इस रेस्त्रां की सजावट भी काफी बारीकी से की गई है। हर चीज को काफी समय लगाकर चुना गया है जिससे रेस्त्रां में भारतीय संस्कृति की बढ़िया छवि दिखाई दे। अगर आप मुगलई खाने के शौकीन है तो आपको दिल्ली के इस रेस्त्रां में जरूर आना चाहिए।

बेस्ट: दाल बुखारा

3. इंडियन ग्रिल रूम

दिल्ली के इस खास रेस्त्रां में आपको शानदार मुगलई खाने के साथ साथ कुछ लाजवाब कॉकटेल्स पीने का भी मौका मिलता है। इस रेस्त्रां में आकर आपको किसी अलग दुनिया में आने जैसा एहसास होगा। रेस्त्रां की सजावट एकदम मॉडर्न तरीके से की गई है जिसमें आधुनिक फर्नीचर का इस्तेमाल किया गया है। वहीं दूसरी तरफ रेस्त्रां का ओपन किचन आपका मन मोह लेगा। इस रेस्त्रां में खाना पकाने के लिए पुरानी तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है जिसमें तवा और चारकोल शामिल है। खास बात ये भी है कि आपको सीधे शेफ से बात करने का भी मौका मिलता है क्योंकि रेस्त्रां की हर टेबल पर ग्रिल लगी हुई है जहाँ आपको गर्मा गर्म खाना परोसा जाता है। इस रेस्त्रां में आपको स्टार्टर से लेकर मेन कोर्स तक खाने की लाजवाब वैरायटी मिलेगी। जो आपको बहुत अच्छी लगेगी।

बेस्ट: कासुंदी ग्रिल फिश, मशरूम टिक्का, कबाब

4. मोती महल

मुगलई खाने की बात हो और मोती महल का जिक्र ना हो ऐसा मुमकिन नहीं है। मुगलई खाने का मशहूर बटर चिकन हर किसी की पसंदीदा डिशों में से एक है। लेकिन क्या आप जानते हैं मोती महल वो जगह है जिसने बटर चिकन को केवल भारत ही नहीं बल्कि विश्व स्तरीय डिश बनाया है? एक समय था जब मोती महल को सबसे लाजवाब बटर चिकन बनाने में महारथ हासिल थी। रेस्त्रां में घुसते ही आपका स्वागत खाने की भीनी भीनी खुशबू से होता है। ऐसा लगता है मानो किसी ने रेस्त्रां में मुगलई मसालों का मिश्रण बनाकर छिड़क दिया है। मोती महल के खाने से लेकर सजावट और यहाँ काम करने वाले कर्मचारियों तो सभी चीजें एकदम टॉप क्लास हैं। खाना बेहद लाजवाब है और मोती महल का बढ़िया माहौल आपके डाइनिंग एक्सपीरियंस को और भी बढ़ा देता है।

बेस्ट: बटर चिकन, बुर्रह कबाब, चिकन टिक्का मसाला, अफगानी चिकन

5. वाखरा स्वाद

Photo of मुगलई खाने के शौकीनों को दिल्ली के ये 7 रेस्त्रां जरूर ट्राई करने चाहिए 1/3 by Deeksha Agrawal
श्रेय: लबीबी

अगर आप उन लोगों में से हैं जिन्हें खाना खाते समय ज्यादा शोर शराबा नहीं पसंद आता है तो दिल्ली का ये रेस्त्रां आपको बहुत पसंद आएगा। रेस्त्रां की खास बात है कि यहाँ परोसी जाने वाली हर डिश शुद्ध देशी घी में बनाई जाती है। जो यहाँ के मेहमानों को खूब पसंद आता है। ये उन खास और चुनिंदा जगहों में से है जहाँ के मुगलई खाने में आपको पंजाबी तड़का लगा हुआ मिलेगा। रेस्त्रां में वेजिटेरियन और नॉन वेजिटेरियन दोनों खाना बढ़िया मिलता है। इसलिए यहाँ आने के लिए आपको ज्यादा सोचना भी नहीं पड़ेगा। आमतौर पर दिल्ली के ज्यादातर रेस्त्रां महंगे होते हैं जहाँ जाने के लिए आपको थोड़ा सोचना पड़ता है। वाखरा स्वाद में आप बिना आपनी जेब खाली करे आराम से बढ़िया क्वालिटी का मुगलई फूड खा सकते हैं।

बेस्ट: बिरयानी, रारा चिकन, अंबरसरिया पनीर टिक्का

6. अल जवाहर

इस रेस्त्रां के नाम से ही आप समझ रहे होंगे कि इस रेस्त्रां में जवाहरलाल नेहरू की भागीदारी रही है। भारत के आजाद होने के बाद इस रेस्त्रां का शुभारम्भ पंडित जवाहलाल नेहरू ने किया था। पुरानी दिल्ली में स्थित ये रेस्त्रां दिल्ली के सबसे बढ़िया मुगलई रेस्त्रां में शुमार है। इस रेस्त्रां का खाना खाने के बाद आपका पेट भर जाएगा लेकिन मन नहीं भरेगा। खाना बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले मसालों से लेकर तकनीकों तक सारी चीजें बेहद खास हैं। अल जवाहर रेस्त्रां की कोई एक डिश को खास के पाना थोड़ा मुश्किल है। क्योंकि यहाँ सारी चीजें पूरे स्वाद से भारी होती हैं। अल जवाहर रेस्त्रां की कुछ आइकॉनिक डिशें हैं। यहाँ का शीरमल और खमीरी तंदूरी रोटी आपको बहुत पसंद आएंगे। कुल मिलाकर इस रेस्त्रां की लोकप्रियता केवल नाम से ही नहीं है। बल्कि यहाँ की टॉप क्वालिटी सर्विस और टेस्ट सबका दिल जीत लेता है।

बेस्ट: मटन स्टू, पाया सूप, कोरमा, चिकन चंगेजी

7. एम्बेसी

अगर आप ओल्ड इज़ गोल्ड कहावत में विश्वास रखते हैं तो यकीन मानिए ये रेस्त्रां उसका जीता जागता उदाहरण है। दिल्ली के कनॉट प्लेस में स्थित एम्बेसी दिल्ली के बेस्ट मुगलई रेस्त्रां में से है। ये खूबसूरत और आकर्षक रेस्त्रां आपको सीधे पुराने समय में ले जाएगा। रेस्त्रां के मेनू से लेकर सजावट तक सारी चीजों को थीम के साथ बैठाने में काफी ध्यान दिया गया है। खास बात ये भी है कि इस रेस्त्रां में आपको सोसाइटी के हर हिस्से से लोग मिलेंगे। फिर चाहे वो डॉक्टर हो या एक्टर, ये रेस्त्रां हर दिल्लीवाले के दिल पर राज करता है। कुछ लोग तो ऐसे भी हैं तो खास एम्बेसी का मुगलई फूड खाने आते हैं। आप इससे समझ ही सकते होंगे की ये रेस्त्रां क्यों इतना खास है।

बेस्ट: लैंब ब्रेन पकोड़ा, वेज जालफ्रेजी, पनीर और आलू समोसा

क्या आपने इनमें से किसी रेस्त्रां में मुगलई खाना खाया है ? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

Tripoto हिंदी के इंस्टाग्राम से जुड़ें और फ़ीचर होने का मौक़ा पाएँ।