जल्द सियाचिन का सफर कर सकेंगे सैलानी, सेना कर रही है टूरिस्ट बुलाने की तैयारी!

Tripoto

सियाचिन, एक ऐसा नाम जो हर भारतीय मुसाफिर ने सुना होगा, तस्वीरों और फिल्मों में देखा होगा, वहाँ जाकर उस नज़ारे को आँखों में भरने के भी ख्वाब देखे होंगे। तो खुश हो जाइए, जल्द आपका ये ख्वाब सच हो सकता है क्योंकि भारतीय सेना सियाचिन ग्लेशियर को टूरिस्टों के लिए खोलने का प्लान बना रही है।

श्रेय: इंडियन एक्सप्रेस

Photo of सियाचिन ग्लेशियर by Bhawna Sati

श्रेय: रिज़वान

Photo of सियाचिन ग्लेशियर by Bhawna Sati

सियाचिन दुनिया के सबसे ऊँची युद्ध भूमि है और भारतीयों के दिल में खास जगह रखती है। इसे ध्यान में रखते हुए भारतीय सेना यहाँ सैलानियों की आवा-जाही की अनुमति पर विचार कर रही है। आर्मी सूत्रों के हिसाब से ग्लेशियर को लोगों के लिए खोलने से वो सियाचिन के मुश्किल मौसम और भू-भाग में तैनात जवानों की ज़िंदगियों और उनके काम के बारे में जान सकेंगे।

दरअसल लद्दाख घूमने आए सैलानी अक्सर टाइगर हिल और कारगिल जैसी जगहों पर जाने की अनुमति की मांग करते आए हैं। और अब लद्दाख के कश्मीर से अलग होने और केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद इसे क्षेत्र में टूरिज़म को बढ़ावा देने के एक कदम के तौर पर भी देखा जा रहा है।

इससे पहले सैलानी सियाचिन में मौजूद इंसटिट्यूट तक जा सकते थे और कई मौकों पर सियाचिन की ऊँची पोस्ट पर ट्रेकिंग का विकल्प भी खोला गया है, लेकिन स्थाई रूप से सैलानियों के आने पर रोक है।

फिलहाल, किस तरह से सैलानियों को यहाँ घूमने की अनुमति मिलेगी या कितने लोग एक वक्त पर यहाँ जा सकेंगे इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है।

आप इस प्रस्ताव के बारे में क्या सोचते हैं? क्या आप सियाचिन जाना चाहेंगे? अपने विचार हमें कॉमेंट्स में बताएँ।

अपनी यात्रा की कहानियों को Tripoto पर मुसाफिरों के साथ बाँटने के लिए यहाँ क्लिक करें।

रोज़ाना घुमक्कड़ी के अनोखे किस्से पढ़ने के लिए Tripoto हिंदी के फेसबुक पेज से जुड़ें।

Be the first one to comment

Further Reads