सप्तपुरी भारत के सात प्रमुख धार्मिक स्थलो की जानकारी

Tripoto
19th Dec 2018
Day 1

सप्त पुरी

भारत में बहुत से मंदिर बहुत सी मस्जिदे बहुत से गुरूद्वारे बहुत से चर्च है कहने का तात्पर्य बस इतना है कि हम भारतीय सारे धर्मो का सम्मान करते है इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए हम आज सप्तपुरी भारत के सात प्रमुख धार्मिक स्थलो 7 important religious places in India की जानकारी करेंगे | 

भारत वर्ष के सात पवित्र शहरो को सप्त पुरियो का नाम दिया गया है ये सात तीर्थ अयोध्या AYODHYA , मथुरा MATHURA , हरिद्वार HARIDWAR , बनारस BANARAS , कांचीपुरम KANCHIPURAM , उज्जैन UJJAIN , द्वारका DWARKA है जो पौराणिक मान्यतानुसार मोक्षदायक कहे गए है माना जाता है की अगर आप इन सातो पुरियो के दर्शन कर लेते है तो आपको मोक्ष की प्राप्ति होती है  तो आइये  इन सातो पवित्र तीर्थो के बारे में थोड़ी सी जानकारी ले ली जाय

 -

अयोध्या ( भगवान राम ) 

 अयोध्या उत्तर प्रदेश के  फैजाबाद जिले ( जो की अब बदल दिया गया है फैजाबाद जिले का नाम अब अयोध्या है ) में सरयू नदी के किनारे स्थित है यह अपने धार्मिक महत्त्व और भगवान् श्री राम के लिए प्रसिद्ध  है |अयोध्या मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की  जन्मभूमि है परन्तु यहाँ पर अभी कोई भव्य मंदिर नहीं बना है वैसे अयोध्या मंदिरों की नगरी है यहां आप जैसे ही प्रवेश करते है आपको मंदिर ही मंदिर दिखाई पड़ते है कुछ मंदिर तो बड़े भव्य बने गज़ब की नक्खाशी देखने को मिलती है यहाँ के रंग बिरंगे मंदिर एक अलग ही उत्साह बढ़ाते है परन्तु दुःख भी होता है भगवान् राम का कोई भव्य मंदिर यहाँ पर नहीं है क्यूंकि कुछ विवाद के चलते मामला सुप्रीम कोर्ट में है | अयोध्या की लखनऊ से दूरी  135 किमी लगभग है |

मथुरा ( भगवान श्री कृष्ण )

मथुरा उत्तर प्रदेश राज्य में यमुना नदी के किनारे  है यह भगवान श्री कृष्ण की जन्म भूमि है यहाँ अनेको भव्य मंदिर है | वृन्दावन और गोवर्धन भी मथुरा के समीप है जो की अपनी धार्मिक आस्था के कारण बहुत प्रसिद्ध है | मथुरा के मंदिर इतने आधुनिक और भव्य है की यहाँ जाने के बाद मन तो करता है बस यही बस जाय 

हरिद्वार ( भगवान विष्णु )

हरिद्वार उत्तराखंड राज्य में स्थित है यह शहर पावन गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है यहाँ पर भारतीय महापर्व कुम्भ मेले का आयोजन भी होता है हरिद्वार की गंगा आरती समूचे भारत में प्रसिद्ध है हरिद्वार में अनेको मंदिर है जहाँ हजारो की भीड़ में रोजाना श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते है और गंगा नदी में स्नान करके अपने समस्त पापो से छुटकारा पाते है |

काशी ( भगवान शिव )

काशी के कई नाम है कोई इसे बनारस कहता है तो कोई वाराणसी तो कोई काशी यह भोले बाबा की नगरी उत्तर प्रदेश जिले में है यहाँ पर द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक बाबा विश्वनाथ जी का विश्व विख्यात मंदिर जो की अपनी अति प्राचीन संस्कृति को सजोये हुए है |

बनारस गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है यहाँ के गंगा घाट दुनिया भर में प्रसिद्ध है |

 यहाँ के  बनारसी पान और बनारसी साड़ी तो विश्व भर में प्रसिद्ध है बनारसी पान को लेकर तो श्री अमिताभ बच्चन जी की एक फिल्म में गाना “ खाई के पान बनारस वाला खुल जाय बंद अकल का ताला “ भी बड़ा प्रसिद्ध है | दूर  दूर से लोग यहाँ संस्कृत और हिंदी सीखने भी आते है |

कांचीपुरम ( देवी पार्वती )

यह स्थान तमिलनाडु राज्य में है यह स्थान मंदिरों और सिल्क की साड़ियो के लिए प्रसिद्ध है यहाँ पर सबसे ज्यादा शिव और विष्णु अनुयायी देखने को मिल जाते है |

 यहाँ बहुत से प्राचीन मंदिर है जिनके दर्शन हेतु दूर दूर से लाखो की संख्या में लोग आते है |

उज्जैन ( भगवान शिव )

 यह तीर्थ स्थान मध्य प्रदेश राज्य में क्षिप्रा नदी के किनारे बसा हुआ है काशी की तरह यहाँ भी द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर है जो की महाकाल नाम से भी प्रसिद्ध है यहाँ भी भारतीय पर्व कुम्भ मेला का आयोजन होता है उज्जैन अवंतिका नाम से भी जाना जाता है

|

द्वारका (भगवान कृष्ण )

यह धाम गुजरात राज्य के देवभूमि द्वारका जिले में स्थित है इस धाम को जगद मंदिर भी कहते है यह स्थान  भगवान श्रीकृष्ण की कर्मस्थली मानी गई है जो की अरब सागर के एक द्वीप पर बसी हुई है | यहाँ पहुचने के लिए आपको अहमदाबाद जाना होगा और अहमदाबाद से तमाम साधन आपको मिल जायेंगे |

Be the first one to comment