अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में...

Tripoto
14th Apr 2021
Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep
Day 1

अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ों में खुद को समझने के लिए , पहाड़ी होम स्टे प्रकृति की गोद में...

योग ,ध्यान , लेखन , फोटोग्राफी, व नेचर लवर के लिए परफेक्ट डेस्टिनेशन !

पहाड़ी होम स्टे.. अब लम्बी छुट्टियाँ बिताए बजट में !
दोस्तों क्या आप ऊब चुके हैं डेली लाइफ की दौड़ भाग से, लेना चाहते हैं भीड़ भाड़ वाली ज़िंदगी से कुछ समय के लिए आराम तो सोचिये मत बस निकल पड़ो किसी पहाड़ी में बसे एकांत निवास में, सच में खुद को भी समझने का मौका मिलेगा और सेहत भी हरी हो जाएगी साथ ही मन मस्तिष्क भी हो जायेगा तारो ताज़ा ! लेकिन रुकिए..! किसी  पहाड़ी में कही खो न जाना हम बताएँगे आप को कुछ दुनिया से हट के सांत  पहाड़ी घाटियो में बसे नेचर के नजदीक कुछ होम स्टे जहा आप एकाकी हो सकते हैं एकांतवास में ,
यहाँ हम आप को बताएँगे कुछ ट्रेंडी होम स्टे के बारे  में जहा आप क्वालिटी टाइम बिता सकते हैं लम्बे समय तक के लिए !
खाती विलेज कपकोट  (उत्तराखंड)
समुन्द्र ताल से उचाई 7600,फ़ीट ,
काठगोदाम से बागेश्वर 152 km बागेश्वर से कपकोट 24km  कपकोट से खरकिया, खरकिया से खाती

अधिकतम तापमान 26 डिग्री समर में , न्यूनतम - 08,  विंटर में,सबसे उपयुक्त समय  अक्टूबर फर्स्ट वीक से नोवेम्बर तक , मार्च से जून फर्स्ट वीक ,

कैसे जाये ,
दोस्तों खाती विलेज उत्तराखंड राज्य  के कपकोट जिले के  अंतर्गत आता हैं   जो की सुन्दर पिंडर घाटी  में बसा हुआ हैं यहाँ पहुँचने के लिए आप को सबसे पहले काठगोदाम आना होगा  जो की नैनीताल डिस्ट्रिक्ट  में  पड़ता है, जो की यहाँ का सबसे निकटम व अंतिम रेलवे स्टेशन हैं , दिल्ली से काठगोदाम ... काठगोदाम से बागेश्वर ..से कपकोट ...से खरकिया ...से 04,  किमी ट्रैकिंग ,  खाती   विलेज विश्व प्रशिद्ध पिंडारी ग्लेशियर ट्रैकिंग रूट में पड़ने वाला अंतरिम गाऊं  हैं , काठगोदाम से  बागेश्वर होते हुए कपकोट जहा से खरकिया विलेज जो की रोड से कनेक्टेड लास्ट विलेज हैं जहा से आप को तीन किलोमीटर  तक का सफर  ट्रेक कर के तय करना पड़ेगा जिसमे दो से तीन घंटे तक का समय लग जाता हैं ,

कपकोट से खाती तक का रोड सफर ⬇️⬇️⬇️⬇️

Photo of Kapkot by mountain guide Dileep

कुल बजट व् खर्चे ⬇️⬇️⬇️⬇️
आम तौर पर काठगोदाम से खाती तक के रेड सफर में आप को अधिकतम 8, से 10, घंटे लग जाते  हैं,इस दौरान आप टैक्सी और बस द्वारा अपने गंतव्य तक पहुंचना चाहते हैं तो किराया, साधारण लगभग काठगोदाम से बागेश्वर तक 340, से 400, तक और उस से आगे बागेश्वर से कपकोट तक 100, से 150, तक , कपकोट से खरकिया जो की रोड से कनेक्टेड अंतरिम छेत्र हैं, 200 रुपीये तक लग जाते हैं!

सफर में भोजन⬇️⬇️⬇️⬇️⬇️

इस दौरान रस्ते में भोजन के रेट भी साधारण हैं जिसमे आप को 100, से 130, अधिकतम एक टाइम के लिए खर्च करने पड़ते हैं ,

खाती विलेज में होम स्टे का किराया , ℹ️ℹ️

लम्बे समय के लिए आप को 10 से 12 हजार रुपये मासिक व कुछ ही दिनो के लिए 250, से 500, रूपये अधिकतम  देने पड़ते हैं !  इस दौरान भोजन के लिए अपनी सुविधा अनुसार आप खुद से बना सकते हैं या  फिर , होम स्टे में ही अलग से ले सकते हैं, रेट साधारण से कुछ अधिक लगभग एक टाइम के लिए  Rs. 140,अधिकतम देने पड़ते हैं !

विलेज आर्किटेक्चर वह प्राकृतिक खूबसूरती के दर्शन ⬇️⬇️⬇️

An stay cottege

Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep

pinder velly from khati Village,

Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep

Home stay inshight view

Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep

View from outside

Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep


खाती विलेज में स्थानीय कल्चर के दर्शन ⬇️⬇️⬇️⬇️

Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep
Photo of अब हो जाओ एकाकी, पहाड़ी होम स्टे.. प्रकृति की गोद में... by mountain guide Dileep


एक माह का कुल बजट ,💰💰

काठगोदाम से गंतव्य तक पहुंचने का न्यूनतम खर्चा सफर में भोजन के साथ ,Rs.950
एक माह तक का होम स्टे का किराया 10, से 12, हज़ार न्यूनतम,
भोजन खर्चा न्यूतम 80 से 160, रुपया अधिकतम  एक टाइम का !

तो दोस्तों देर किश बात की कोरोना काल में रहना चाहते हैं  भीड़ से दूर तो इससे शानदार डेस्टिनेशन सायद ही कोई हो !

कोरोना काल में उत्तराखंड में यात्रा हेतु सुझाव ,📜📜ℹ️ℹ️

72 घंटे पूर्व  RTPCR कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट !

क्या करे क्या न करे ,♦️♦️
स्थानीय कला ,संस्कृति व लोगो की धार्मिक भवनाओ का सम्मान ,

दोस्तों आप को यह जानकारी कैसी लगी कृपया कमेंट करे, आप के कीमती सलाह व सुझाव का हमेसा स्वगात हैं !और अधिक जानकारी के लिए आप हम से संपर्क कर सकते हैं !⬇️⬇️

👉👉https://www.instagram.com/dileep_rokaya