दक्षिण भारत की मन मोह लेने वाली घाटियाँ जो घुमक्कड़ों की बकेट लिस्ट में शामिल होनी चाहिए

Tripoto
Photo of दक्षिण भारत की मन मोह लेने वाली घाटियाँ जो घुमक्कड़ों की बकेट लिस्ट में शामिल होनी चाहिए by Deeksha Agrawal

भारत में हैरतअंगेज जगहों की कमी नहीं है। यहाँ पहाड़ों के विहिंगम नजारे हैं तो खूबसूरत समुद्री किनारे भी हैं। भारत में इतनी घाटियाँ हैं कि अगर गिनती करने बैठें तो हफ्तों लग जाएंगे। भारत की सभी घाटियों में बेशुमार खूबसूरती राज करती है। इनमें से कुछ खूबसूरत घाटियाँ भारत के दक्षिणी हिस्से में भी स्थित हैं। यदि आप साउथ इंडिया घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं तो हमारी राय के मुताबिक आपको दक्षिण भारत की शानदार घाटियों की यात्रा जरूर करनी चाहिए।

1. अराकू घाटी, आंध्र प्रदेश

दक्षिण भारत की बात हो और आंध्र प्रदेश की अराकू घाटी का ज़िक्र ना किया जाए ऐसा मुमकिन नहीं है। ये जगह फोटोग्राफर्स के लिए किसी जन्नत से कम नहीं है। हरे भरे जंगलों और तमाम झरनों से सजी इस घाटी में आपको हर संभव अनुभव मिलेगा। चाहे आपको एडवेंचर पसंद हो या जीव-जंतुओं में रुचि हो, आंध्र प्रदेश की अराकू घाटी में आपकी सभी पसंदों का ख्याल रखा गया है। इस घाटी में आप अराकू ट्राइबल म्यूज़ियम, बोर्रा गुफाएँ, पद्मपुरम बोटैनिकल गार्डन और अनांथागिरी पर्वतमाला के आकर्षक नजारे देख सकते हैं। यदि आप अराकू घाटी देखने जाना चाहते हैं तो आपको दिसंबर से फरवरी के बीच प्लान बनाना चाहिए।

2. शारावती घाटी, कर्नाटक

कर्नाटक के शिमोगा जिले में स्थित शारावती घाटी यकीनन देखने लायक है। इस घाटी में आपको तरह तरह के पेड़ पौधे, झमाझम बहती नदियाँ और ऊँचाई से गिरते हुए झरने देखने के लिए मिलेंगे। शारावती घाटी में आपको वन्य जीवों की भी अच्छी वैरायटी मिलेगी। बाघ, भालू, चीता, हिरण शारावती के जंगलों में बड़ी आसानी से देखे जा सकते हैं। जानने वाली बात ये भी है कि शारावती इस घाटी में स्थित सबसे ऊँची जोग फॉल्स की स्त्रोत नदी भी है। शारावती घाटी देखने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से फरवरी के बीच होता है जब यहाँ की सभी झीलें और झरने पानी से लबालब भरे होते हैं।

3. साइलेंट वैली, केरल

केरल की साइलेंट वैली देश के उन नगीनों में से है जिसके बारे में काफी कम लोगों को पता है। ये घाटी केरल के पल्लकड़ जिले के पूर्वोत्तर हिस्से में है। इस घाटी में आपको एक भी आवाज नहीं सुनाई देगी जिसके कारण इसका नाम साइलेंट वैली रखा गया है। इस घाटी की खूबसूरती यहाँ पसरे सन्नाटे की वजह से है। इसके अलावा घाटी में तरह तरह के पेड़ पौधों और फूलों की बड़ी संख्या मौजूद है। अकेले इस घाटी में लगभग 110 प्रकार के ऑर्किड, फूलों के 1000 और तितलियों की 200 वैरायटी देखी जा सकती है। इस घाटी की यही खूबियाँ इसको देखने लायक बनाती हैं। अच्छी बात ये भी है कि आप साल के किसी भी समय साइलेंट वैली घूमने जा सकते हैं।

4. केट्टी घाटी, तमिलनाडु

क्या आप जानते हैं कूनूर से ऊटी जाने वाले रास्ते पर स्थित तमिलनाडु की केट्टी घाटी विश्व की दूसरी सबसे बड़ी घाटी है? तमिलनाडु की शान कहीं जाने वाली ये घाटी देखने लायक है। ऊटी में इस घाटी का व्यू प्वॉइंट है जहाँ से आपको पूरी घाटी के साथ साथ नीले पहाड़ों का शानदार नजारा दिखाई देता है। ये घाटी मुख्य रूप से नीलगिरी पर्वतमाला से बनी हुई है जिनकी खूबसूरती को शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है। इस घाटी में आपको वाइल्डलाइफ और झरनों की बेहतरीन वैरायटी मिलेगी जिन्हें देखकर आपका दिल खुश हो जाएगा।

6. कंबम घाटी, तमिलनाडु

कम्बम घाटी तमिलनाडु के थेनी जिले का हिस्सा है। असल में ये घाटी तमिलनाडु और केरल की सीमा पर पड़ती है। कहा ये भी जाता है कि कम्बम वैली दक्षिण भारत की सबसे उपजाऊ घाटियों में से है। कम्बम तमिलनाडु की उन चुनिंदा जगहों में से है जहाँ अंगूर की खेती की जाती है। कम्बम घाटी तमिलनाडु की उन बेहतरीन जगहों में से है जिसे हर घुमक्कड़ को जरूर देखना चाहिए। घाटी के हरे-भरे लैंडस्कैप देखकर हर घुमक्कड़ का दिल खुश जो जाएगा।

क्या आपने इनमें से किसी जगह की यात्रा की है ? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना टेलीग्राम पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें