मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन

Tripoto
27th Jul 2022
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन by Yayawar_monk

पर्वतों में नागिन-सी बलखाती रेल, नदियों पर बने ऊंचे-ऊंचे पुल, पहाड़ों से ज़मीन की ओर दौड़ लगाते झरने और हरियाली की चादर ओढ़े वन भला किसे न भाते होंगे! ऐसी रेल यात्राओं के दौरान बारिश भी हो जाए तो आनंद का सोता फूट पड़ता है। देश में कई स्थानों पर हेरिटेज ट्रेन का संचालन किया जाता है जिसमें नीलगिरि, दार्जिलिंग, शिमला आदि का रेल सफ़र एक यादगार अनुभव होता है। लेकिन कुछ रेल यात्राएं ऐसी भी हैं जो इतनी अधिक प्रसिद्ध तो नहीं लेकिन उनकी सुंदरता किसी भी मायने में न्यून नहीं है।

हम बात कर रहे हैं कालाकुंड हेरिटेज रेल यात्रा की। इस यात्रा के लिए आपको कहां-कहां जाना है, किस प्रकार टिकट बुक करना है और इस सफ़र में क्या-क्या चीज़ें इस यात्रा में शामिल हैं, सब जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

कालाकुंड हेरिटेज ट्रेन

इस ट्रेन का संचालन देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर ज़िले के महू (अब डाॅ. अम्बेडकर नगर) से रोज़ाना किया जाता है। यह ट्रेन विंध्याचल की पहाड़ियों में पर्यटकों को एक अभूतपूर्व और यादगार सफ़र पर ले जाती है। इस यात्रा में ट्रेन पहाड़ियों को काटती हुई 4 सुरंगाें और नदी पुलों पर से गुज़रती है। रास्ते में छोटे बड़े झरने पर्यटकों को स्वागत करते हैं। पर्वतीय घाटियों में बहती नदियों के नयनाभिराम दृश्य मन मोह लेते हैं। इस वर्ष ग्रीष्म ऋतु के आगमन के साथ 27 मार्च को इसके संसचालन को स्थगित कर दिया गया था। 10 जुलाई रविवार से इसका पुन: संचालन शुरू किया गया है।

सिर्फ़ एक दिन का यादगार सफ़र

यदि आप इंदाैर या उसके आसपास के क्षेत्र में रहते हैं तो छुट्‌टी वाले दिन पूरे परिवार के साथ इस यात्रा का लुत्फ उठा सकते हैं। यह ट्रेन डाॅ. अम्बेडकर नगर स्टेशन से रोज़ाना सुबह 11 बजकर 5 मिनट पर संचालित होती है। उसके बाद पहला स्टेशन पातालपानी है जहां यह ट्रेन विश्राम लेती है। यहाँ पर पर्यटक पातालपानी झरना, टांट्या मामा मंदिर व ट्रेकिंग कर सकते हैं। इसके लिए यात्रियों को पर्याप्त समय दिया जाता है। उसके पश्चात ट्रेन कालाकुंड के लिए आगे बढ़ती है। पातालपानी को पर्वतों का द्वार मान सकते हैं, क्योंकि इसके पश्चात ट्रेन पूरी तरह से पहाड़ों के बीच चलती है। सुरंगों, नदी पुलों और झरनों को पार करने के बाद ट्रेन 1 बजकर 25 मिनट पर कालाकुंड स्टेशन पहुंचती है। कालाकुंड चारों ओर से पर्वतों से घिरा एक छोटा व सुंदर गांव है। यहाँ पर यात्रियों को घूमने के लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है। इस दौरान यात्री निकट में स्थित नदी पर आनंद ले सकते हैं, कालाकुंड के प्रसिद्ध कलाकंद का लुत्फ उठा सकते हैं या नदी के पार पहाड़ी पर हनुमानजी के मंदिर का दर्शन लाभ ले सकते हैं।

यहां से 3 बजकर 34 मिनट पर यही ट्रेन पुन: डाॅ. अम्बेडकर नगर स्टेशन के लिए रवाना होती है और 4 बजकर 30 मिनट पर यह यात्रा पूर्ण हो जाती है। यानी एक दिन में आप परिवार के साथ इस यात्रा को आराम से कर सकते हैं।

कैसे बुक करें?

आप आईआरसीटीसी की आधिकारिक ट्रेन बुकिंग वेबसाइट व आईआरसीटी के मोबाइल ट्रेन बुकिंग एप से इसकी बुकिंग कर सकते हैं। ध्यान दें कि डाॅ. अम्बेडकर नगर का स्टेशन कोड है - DADN तथा कालाकुंड स्टेशन का कोड है - KKD.

साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि आपको डाॅ. अम्बेडकर नगर से जाने व आने दोनों की टिकट बुक करनी है।

कितना ख़र्च आएगा?

इस यात्रा का किराया सेकंड सिटिंग में एक तरफ़ से मात्र 20 रुपए है। यानी दोनों ओर से मात्र 40 रुपए में आप यह सफ़र कर पाएंगे। वहीं यदि आप एसी कोच में सफ़र करना चाहते हैं तो इसका किराया एक ओर से 245 रुपए निर्धारित किया गया है।

Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 1/9 by Yayawar_monk
कालाकुंड स्टेशन का दृश्य
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 2/9 by Yayawar_monk
पातालपानी झरना
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 3/9 by Yayawar_monk
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 4/9 by Yayawar_monk
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 5/9 by Yayawar_monk
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 6/9 by Yayawar_monk
रेल पुल से नदी व पहाड़ों का दृश्य
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 7/9 by Yayawar_monk
वन प्रदेश
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 8/9 by Yayawar_monk
राह के दृश्य
Photo of मात्र 40 रुपए में पहाड़ों में बिताएं पूरा दिन 9/9 by Yayawar_monk

More By This Author

Further Reads