वादियों की सुंदरता लिए बैठा है केरल का टाॅप स्टेशन

Tripoto
Photo of वादियों की सुंदरता लिए बैठा है केरल का टाॅप स्टेशन by Rishabh Dev

कहा जाता है कि दक्षिण भारत गर्मियों में परेशान करता है लेकिन वही साउथ इंडिया बारिश होते ही खूबसूरती के भंडार में बदल जाता है। इस खूबसूरती में केरल सबसे ऊपर है। केरल में ऐसी-ऐसी जगह हैं जो किसी स्वर्ग से कम नहीं हैं। इतनी खूबसूरती कि जिसे सिर्फ अनुभव किया जा सकता है, बयान नहीं किया जा सकता है। ऐसी ही खूबसूरती को ओढ़े हुए है, मुन्नार का टाॅप स्टेशन।

मुन्नार

मुन्नार सुंदर वादियों वाली जगह है। मुन्नार एक मलयाली शब्द है, जिसका अर्थ होता है- तीन नदियों का संगम। मुन्नार में मधुरपुजहा, नल्लाथन्नी और कुंडाली नाम की तीन नदियों का संगम है। मुन्नार में चारों तरफ हरे-भरे पहाड़, घास के मैदान और खूबसूरत झरने हैं। इस जगह की खूबसूरती को देखने लाखों पर्यटक आते हैं। यहाँ एक से बढ़कर एक स्पा सेंटर आपको मिल जाएँगे। कई मसाज सेंटर भी हैं, जिनमें कई तरह की आयुर्वेदिक चिकित्सा थेरेपी होती है जहाँ आप रिलैक्स पा सकते हैं।

टाॅप स्टेशन

मुन्नार में चारों तरफ कहीं भी निकल जाइए आप अपने आपको खूबसूरत नजारों के बीच ही खड़े पाएँगे। मुन्नार में ऐसा ही एक खूबसूरत हिल स्टेशन है, टाॅप स्टेशन, जिसे टाॅप रोड भी कहा जाता है। टाॅप हिल स्टेशन, मुन्नार से 35 कि.मी. की दूरी पर है। टाॅप हिल स्टेशन मुन्नार का सबसे खूबसूरत और अंतिम हिल स्टेशन है क्योंकि यहाँ आकर रोड खत्म हो जाती है।

इस जगह पर बहुत लोग आते हैं क्योंकि यहाँ बहुत ही सुंदर व्यू प्वाइंट हैं जहाँ से आप दूर-दूर तक फैले चाय-काफी के बागानों को निहार सकते हैं; उस अद्भुत और शानदार सौंदर्य को अपनी आंखों में संजो सकते हैं। चारों तरफ फैले चाय के बागान किसी हरी चादर की तरह दिखाई देते हैं। यहाँ आप वादियों की सैर पर निकल सकते हैं, ट्रेकिंग कर सकते हैं और झरने में नहा भी सकते हैं।

चिन्नाकानल वॉटरफॉल

मधुर आवाज में ऊँचाई से गिरता पानी किसे आकर्षित नहीं करता। मुन्नार के टाॅप स्टेशन का चिन्नाकनल झरना भी ऐसा है जो आपको मंत्रमुग्ध कर देता है। चिन्नाकल वॉटरफॉल मुन्नार से 12 कि.मी.  की दूरी पर इडुक्की जिले में है। झरने का लुत्फ उठाने की कोई एंट्री फीस नहीं है क्योंकि ये रोड के किनारे ही स्थित है। मॉनसून के दिनों में आने पर ही इस वॉटरफाॅल की सुंदरता का मज़ा ले पाएंगे क्योंकि बाकी महीनों में पानी कम रहता है। इसके अलावा पास में ही पावरहाउस वाटरफाॅल, कुंडला डैम लेक भी है। कुल मिलाकर यहाँ कोने-कोने में प्रकृति की सुंदरता बसी हुई है।

दक्षिण भारतीय स्वाद का जादू

Photo of वादियों की सुंदरता लिए बैठा है केरल का टाॅप स्टेशन by Rishabh Dev

अगर आप साउथ इंडियन फूड के दीवाने हैं तो केरल में ये जगह आपके लिए सबसे परफेक्ट है। यहाँ हर होटल, रेस्टोरेंट में साउथ इंडियन फूड की सुगंध दूर से ही मिल जाएगी। यहाँ साउथ इंडियन फूड की इतनी वैरायटी है जिसको आपने पहले एक साथ कभी नहीं देखा होगा। यहाँ का अप्पम तो बेहद लज़ीज़ है। आप एक बार खा लेंगे तो इसका स्वाद हमेशा याद रहेगा। अप्पम के साथ मिलने वाली नारियल की चटनी तो आपको इसका फैन बना देगी।

जब आप खाने को केले के पत्ते पर देखेंगे तो यकीन मानिए आपकी भूख और बढ़ जाएगी। इसके अलावा यहाँ कई छोटे-छोटे रेस्त्रां है और छोटी-छोटी खाने पीने की दुकानें भी हैं जहाँ आप स्ट्रीट फूड का मज़ा भी ले सकते हैं।

कहाँ ठहरें?

केरल की इस खूबसूरत जगह पर आएँ तो कुछ दिन यहाँ ज़रूर रहें, क्योंकि यहाँ देखने को इतना कुछ है कि एक दिन में पूरा नहीं घूमा जा सकता। इन वादियों में रूकने की भी कोई दिक्कँत नहीं है। यहाँ छोटे से लेकर बड़े तक, कई होटल्स और रिजाॅर्ट हैं जहा आप आराम से तीन-चार दिन रह सकते हैं।

कैसे पहुँचे?

केरल के इस टाॅप हिल स्टेशन की सुंदरता को देखने के लिए सबसे बेस्ट टाइम नवंबर से लेकर फरवरी तक का है। टाॅप स्टेशन मुन्नार से 35 कि.मी. की दूरी पर है। यहाँ तक पहुँचने के लिए कैब बुक करके या टूरिस्ट बस से जा सकते हैं।

मुन्नार के हिल स्टेशन टाॅप स्टेशन में नीलकुरंजी फूल पाया जाता है। जिसके फूल 12 साल मे एक बार आते हैं। यहाँ की सुंदर वादियों, घाटियों और बारिश के बाद का इन्द्रधनुषी नज़ारा देखने के लिए आपको ज़रूर आना चाहिए। नीले आसमान में उड़ते पक्षियों और चारों तरफ के सुंदर नज़ारों को देखें। यहाँ अपने दोस्तों और परिवारवालों के साथ जाएँ और इस हिल स्टेशन पर खड़े होकर हरियाली को देखने एक अद्भुत अनुभव को महसूस करें।

क्या आप यहाँ घूमकर आएँ हैं? यहाँ क्लिक करें और अपने सफरनामें लिखना शुरू करें।

Be the first one to comment