तीन यूनैसको विश्व विरासत धरोहरों का शहर आगरा - जानिए इन तीनों जगहों में कया है खास

Tripoto
Photo of तीन यूनैसको विश्व विरासत धरोहरों का शहर आगरा - जानिए इन तीनों जगहों में कया है खास by Dr. Yadwinder Singh

आगरा भारत के उतर प्रदेश राज्य का एक प्रमुख शहर है जो ताजमहल के लिए पूरे विश्व में प्रसिद्ध है| भारत घूमने वाले विदेशी टूरिस्ट की लिस्ट में आगरा जरूर होता है| आगरा को सिटी आफ वर्ल्ड हैरीटेज साईटस का नाम भी दिया गया है कयोंकि आगरा में तीन यूनैसको वर्ल्ड हैरीटेज साईटस है जिसके नाम निम्नलिखित अनुसार है|
1 ताजमहल
2 आगरा किला
3. फतेहपुर सीकरी
इस पोस्ट में हम आगरा के इन तीनों वर्ल्ड हैरीटेज साईटस के बारे में बात करेंगे| आगरा समुद्र तल से 170 मीटर की ऊंचाई पर 70 किमी वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है| आगरा के ईतिहास की अगर बात की जाए तो प्राचीन काल में इस शहर का नाम अग्रवन था जो बदलते बदलते आगरा हो गया| गरमी के दिनों को छोड़कर कर आप बाकी दिनों में आगरा घूमने आ सकते हो| सितंबर से लेकर मार्च तक आगरा घूम सकते हो| आगरा दिल्ली से 200 किमी, जयपुर से 232 किमी, लखनऊ से 369 किमी, वाराणसी से 606 किमी दूर है| मुझे दो बार आगरा घूमने का मौका मिला है|

ताजमहल आगरा

Photo of Agra by Dr. Yadwinder Singh

ताजमहल
ताजमहल आगरा का सबसे मशहूर टूरिस्ट प्लेस है जो विश्व विख्यात जगह है| पूरी दुनिया से टूरिस्ट ताजमहल को घूमने के लिए आते हैं| आगरा की तीन यूनैसको वर्ल्ड हैरीटेज साईटस में ताजमहल का पहला नंबर है| ताजमहल पती पत्नी के प्रेम की निशानी है| ताजमहल को मुगल बादशाह शाहजहाँ ने अपनी बेगम मुमताज की याद में बनाया गया था| ताजमहल को तैयार करने के लिए हजारों कुशल कारीगरों और मजदूरों को लगभग 22 साल लगे थे| ताजमहल का नाम विश्व की श्रेष्ठ ईमारतों में आता है| ताजमहल को बनाने के लिए सफेद संगमरमर का ईसतमाल किया गया है| ताजमहल के चारों कोनों पर एक एक मीनार बनाया गया है| चांदनी रात में ताजमहल की खूबसूरती को चार चांद लग जाते हैं| मैं एक बार अपने दोस्त के साथ और दूसरी बार अपनी वाईफ के साथ ताजमहल देखने के लिए आगरा गया था| हमने ताजमहल के सामने कुछ यादगारी तस्वीरें भी खिंचवाई| आपको ताजमहल में प्रवेश करने के लिए टिकट लेना पड़ता है | आप जब भी आगरा जाए तो ताजमहल देखना मत भूलना|

वाह ताज

Photo of Taj Mahal by Dr. Yadwinder Singh

ताजमहल के सामने घुमक्कड़

Photo of Taj Mahal by Dr. Yadwinder Singh

आगरा किला
आगरा का दूसरा सबसे बड़ा आकर्षण है आगरा का किला| इस किले को लाल किला भी कहा जाता है| यह आगरा की दूसरी यूनैसको वर्ल्ड हैरीटेज साईट है | इस किले का निर्माण मुगल बादशाह अकबर ने किया था| बाद में इस किले के कुछ भागों का निर्माण जहांगीर और शाहजहाँ ने करवाया| यह किला लाल पत्थर और कहीं कहीं सफेद पत्थर से बनाया गया है| इस किले के कुल चार दरवाजे हैं लेकिन टूरिस्ट के लिए सिर्फ एक दरवाजा ही खुला है| इस किले के अंदर प्रवेश करके आप दीवाने आम, दीवाने खास, शीश महल, रंग महल, खास महल, जहांगीर महल आदि खूबसूरत जगहों को देख सकते हो| ताजमहल देखने के बाद मैं आगरा के इस खूबसूरत किले को देखने के लिए गया| आपको इस किले को देखने के लिए कम से कम दो तीन घंटे रखने चाहिए तब जाकर आप इस किले को अच्छी तरह से देख सकते हो| आपको को आगरा का किला देखने के लिए गाईड भी जरूर लेना चाहिए जो आपको इस किले के ईतिहास से लेकर हर ईमारत को अच्छी तरह से बता सकता है| आगरे के किले में गाईड ने हमें वह जगह भी दिखाई जहाँ ताजमहल बनाने वाले शाहजहाँ को उसके पुत्र औरंगजेब ने कैद में रखा था| शाहजहाँ एक खिड़की से ताजमहल को देखता रहता था| कुल मिलाकर आगरा का किला ईतिहास से भरा पड़ा है| अगर आप को ईतिहास में रुचि है तो आगरा का किला जरूर देखें|

आगरा किला

Photo of Agra Fort by Dr. Yadwinder Singh

आगरा किला

Photo of Agra Fort by Dr. Yadwinder Singh

आगरा किला का प्रवेश द्वार

Photo of Agra Fort by Dr. Yadwinder Singh

फतेहपुर सीकरी- आगरा से 37 किमी दूर फतेहपुर सीकरी आगरा की तीसरी यूनैसको वर्ल्ड हैरीटेज साईट में आती है| मुगल बादशाह अकबर ने फतेहपुर सीकरी को एक किला नगरी के रूप में बसाया था| फतेहपुर सीकरी को अकबर ने अपनी राजधानी भी बनाया था| फतेहपुर सीकरी में बहुत सारी दर्शनीय जगहें है जिनको आप अपनी यात्रा में शामिल कर सकते हैं जैसे बुलंद दरवाजा, खास महल, दीवाने खास, दीवाने आम, पंचमहल नौबत खाना आदि|
दीवाने खास - बाहर से देखने से यह दो मंजिली ईमारत लगती है लेकिन इस एक मंजिली ईमारत में की हुई नक्काशी और मीनाकारी लाजवाब है| बादशाह अकबर अपने नवरत्नों के साथ इस जगह पर बैठता था|
दीवाने आम- लाल पत्थर से बनी यह ईमारत एक चौकोना आंगन की तरह है| इस जगह पर बादशाह अकबर आम लोगों की शिकायतों को सुनते थे और न्याय करते थे| इसकी दीवारों पर की गई नक्काशी भी देखने लायक है|

फतेहपुर सीकरी में घुमक्कड़

Photo of Fatehpur Sikri by Dr. Yadwinder Singh

बुलंद दरवाजा - फतेहपुर सीकरी में बुलंद दरवाजा सबसे मशहूर ईमारत है| यह विशाल दरवाजा फतेहपुर सीकरी का प्रवेश द्वार है| इस खूबसूरत दरवाजे की ऊंचाई 176 फुट है| बुलंद दरवाजा पूरे एशिया का सबसे ऊंचा दरवाजा है| यह जगह यूनैसको वर्ल्ड हैरीटेज साईट में भी शामिल हैं| मैंने भी अपनी फतेहपुर सीकरी यात्रा पर बुलंद दरवाजा के सामने यादगार तस्वीर खिचवाई थी|
खास महल- इस महल का निर्माण अकबर ने अपने शाही निवास के लिए किया था| इस जगह पर अकबर तानसेन का गायन भी सुना करते थे| गरमी के दिनों में इस जगह को ठंडा रखने के लिए फव्वारे लगाए गए थे|

बुलंद दरवाजे के सामने घुमक्कड़

Photo of Buland Darwaza by Dr. Yadwinder Singh

पंचमहल -फतेहपुर सीकरी में यह पांच मंजिली ईमारत है जिसमें कुल 176 स्तंभ है और सभी अलग अलग डिजाइन के है| यह भी एक अजीब बात है बुलंद दरवाजा की ऊंचाई भी 176 फुट है और पंचमहल के स्तंभों की संख्या भी 176 ही है| यह महल अकबर और उनकी बेगमों के लिए था||
नौबत खाना-यह ईमारत लाल पत्थर से बनी हुई है| यहाँ पर नगाड़े रखे रहते थे जो अकबर के आने की सूचना देने के लिए बजाए जाते थे| इसलिए इस ईमारत को नौबत खाना कहा जाता है|

फतेहपुर सीकरी

Photo of फतेहपुर सीकरी किले के लिए पार्किंग by Dr. Yadwinder Singh

कैसे पहुंचे- आगरा उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर है | आप भारत के अलग अलग शहरों से रेल मार्ग द्वारा आगरा रेलवे स्टेशन पहुँच सकते हो| बस मार्ग से भी आगरा दिल्ली, जयपुर, कानपुर, लखनऊ, गवालियर आदि शहरों से जुड़ा हुआ है| रहने के लिए आपको आगरा में हर बजट के होटल आदि मिल जाऐंगे| ताजमहल, आगरे का किला और फतेहपुर सीकरी घूमने के लिए आपको पहले आगरा पहुंचना होगा|

ताजमहल आगरा

Photo of आगरा by Dr. Yadwinder Singh