वैष्णो देवी दर्शन करने जा रहे हैं तो कश्मीर क्यों नहीं?कटरा से श्रीनगर के खूबसूरत सफर की पूरी जानकरी

Tripoto
Photo of वैष्णो देवी दर्शन करने जा रहे हैं तो कश्मीर क्यों नहीं?कटरा से श्रीनगर के खूबसूरत सफर की पूरी जानकरी by We The Wanderfuls

हम सभी जानते हैं कि भक्तों के लिए वैष्णो देवी के दर्शन और आशीर्वाद का क्या महत्व है और इसीलिए हर साल करोडो भक्त जम्मू के कटरा में स्थित वैष्णो देवी की यात्रा करते हैं।

साथ ही ये भी आपको पता होगा कि धरती का स्वर्ग यानी कश्मीर की खूबसूरत वादियां वहां से ज्यादा दूर नहीं है लेकिन शायद इस सफर के बारे में अच्छी जानकारी न होने की वजह से बहुत कम लोग ही कटरा से आगे कश्मीर जाने का प्लान बनाते हैं। 

इसे भी अवश्य पढ़ें: श्रीनगर में शिकारा की सवारी

आज के लेख में हम आपको हमारी कटरा से श्रीनगर तक की यात्रा के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं जिसके बाद आपके मन में सारे सवाल दूर हो जाएंगे और इस सफर की अद्भुत खूबसूरती के बारे में जानकर आप भी जल्दी ही इस सफर की तैयारी कर लेंगे। तो चलिये बताते हैं आपको इस अदभुत सफर के बारे में....

Photo of वैष्णो देवी दर्शन करने जा रहे हैं तो कश्मीर क्यों नहीं?कटरा से श्रीनगर के खूबसूरत सफर की पूरी जानकरी 1/1 by We The Wanderfuls
धरती का स्वर्ग:कश्मीर
Day 1

कटरा से श्रीनगर की दूरी करीब 225 किलोमीटर की है जिसे पूरा करने में गूगल मैप के हिसाब से करीब 6 घंटे लगते हैं। लेकिन रास्तें की खूबसूरत वादियों में कुछ समय बिताने और कुछ मुश्किलों के साथ हमें कितना समय लगा ये जानने के लिए आर्टिकल के पूरा जरूर पढ़ें।

कटरा से उधमपुर

कटरा से जब हम निकले तो शुरुआत पहाड़ी, घुमावदार और हरियाली से भरी सड़कों से हुई और करीब 15 किलोमीटर के सफर के बाद हमने बाएं की ओर घूमकर एनएच 44 को ज्वाइन कर लिया। ये हाईवे भारत का सबसे लंबा हाईवे है जो कि नॉर्थ में श्रीनगर से साउथ के कन्याकुमारी तक जाता है।

कटरा से शुरुआत

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

NH44

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

हाईवे काफी अच्छे से मेंटेन किया है और यहां तक ​​की हाईवे की चौड़ाई और बनावट देख कर आपको बिल्कुल फील नहीं होगा कि आप किसी पहाड़ी इलाको में चल रहे हैं। यहां से उधमपुर तक रोड की स्थिति काफी अच्छी थी।

You may also like to read: Mata Vaishno Devi trek

कुछ देर बाद हमें इस सफर का पहला टोल प्लाजा मिला और उससे आगे निकलने के बाद हम एक टनल के पास पहुंचे जिसे 'श्यामा प्रसाद मुखर्जी टनल' के नाम से जाना है। ये सुरंग इतनी उंचाई पर पूरे एशिया की सबसे लंबी सुरंग है जिसकी लंबाई करीब 9 किलोमीटर है।

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls
Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

इस टनल के अंदर जाने से पहले कुछ मेंटेनेंस के काम की वजह से हमें करीब 20 मिनट तक रुकना पड़ा और फिर हम टनल में एंटर हुए। इस टनल को चेनानी-नाशरी टनल के नाम से भी जाना जाता है और इस टनल में आने जाने वाले वहां एक ही सुरंग में चलते हैं जिससे आपको सावधानी पूर्वक चलना चाहिए। आपको गति सीमा का ध्यान रखना होता है जो 50 किलोमीटर प्रति घंटे की है।

इस सुरंग की सहायता से जम्मू से श्रीनगर का रास्ता करीब 40 किलोमीटर कम रहता है और साथ ही आपके सफर का 1 घंटे का समय भी ये टनल बचाती है।

इस टनल से बाहर निकलने के कुछ देर हमें कुछ ढाबे मिले जहां आपको शुद्ध शाकाहारी खाना वाजिब दाम में मिल जाता है जहां आप ब्रेकफास्ट या लंच करके आगे का सफर कर सकते हैं।

रामबन से बनिहाल

कुछ देर बाद हम रामबन पहुंचे जहां से इस सफर में जो भूस्खलन वाले इलाके हैं वो शुरू होते हैं। हमें यहां लैंडस्केप में काफी बदलाव दिखा और अचानक से कच्चे और सुखे पहाड़ दिखने लगे।

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls
Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

एक तरफ बहती सुंदर नदी इस सफर को खूबसूरत बना रही थी और एक तरफ पहाड़ों से गिरते छोटे मोटे पत्थर सफर को एडवेंचरस बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे थे

अगर आपने जम्मू श्रीनगर हाईवे पर लैंडस्लाइड या फिर जाम के बारे में सुना है तो वो ज्यादातर रामबन से बनिहाल के बीच ही होता है। हम लकी थे कि हमें एक दो जगह कुछ छोटे जाम ही मिले जिसमें हमारे 30 मिनट करीब खराब हुए।

बनिहाल-काजीकुंड टनल

फिर हम करीब 2-2:30 घंटों के सफर के बाद बनिहाल पहुंच गए। यहां से जो लैंडस्लाइड वाले पहाड़ थे वो दिखने बंद हो गए थे और सुखे पहाड़ों की जगह हरे भरे पहाड़ों को हम देख पा रहे थे। कुछ देर बाद एक और टोल आया और टोल क्रॉस करने के बाद हमें इस सफर की दूसरी बड़ी टनल मिली। जिसकी लम्बाई करीब 8.5 किलोमीटर है।

ये सुरंग बनिहाल को काजीकुंड से जोड़ती है जिसे बनिहाल-काजीकुंड टनल के नाम से जाना जाता है। टनल से पहले हमें करीब 15-20 मिनट का जाम मिला और फिर हम सुरंग में एंटर हुए।

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

इस टनल में दो सुरंग हैं जैसे एक तरफ जाने वाले वाहन एक सुरंग में चलते हैं और दूसरी तरफ वाले वाहन दुसरी सुरंग में। इस टनल की वजह से जम्मू से श्रीनगर जाने का समय करीब 1.5 घंटे कम हो जाता है।

इस टनल से निकलने के बाद हम कश्मीर घाटी में प्रवेश करते हैं और जो पहला नजारा हमें दिखता है वो सच में बेहद अदभुत था और हम ये देखकर दंग रह गए।

हमने देखा की हाईवे अब एकदम सपाट था जैसे कि हमें दिल्ली के पास देखने को मिलता है। बिल्कुल नहीं सोचा था कि कश्मीर में हमें ऐसे एकदम सपाट हाईवे मिलेंगे। हाईवे पर दूर खूबसूरत पहाड़ दिखायी दे रहे और सड़क के दोनो तरफ हरे भरे खेत बस मानो हम अपने सपनों की लॉन्ग ड्राइव पर हों।

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls
Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

ये सब शब्दों में तो क्या फोटोज में भी देखकर आप वो महसूस नहीं कर पाएंगे जो हमें वहां महसूस हो रहा था। कश्मीर कितना खूबसूरत होगा इसका आइडिया हमें कुछ हद तक लग चुका था। सड़क की हालत भी काफी अच्छी थी और हमें रास्ते में हमारी सेना के जवानों के बहुत से वाहन आते जाते दिखते हैं। जिसको आपको यहां सुरक्षा की बिल्कुल चिंता नहीं होती।

कुछ देर बाद हम श्रीनगर की अदभुत डल झील पहुंच गए जिसे देख इस सफर की थकान एकदम से दूर हो गई। इस सफर में सारे जाम मिलाकार हमें करीबी 6:30 से 7 घंटे का समय लगा।

Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls
Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls
Photo of Srinagar, Jammu and Kashmir by We The Wanderfuls

अगर आपको हमारा आर्टिकल अच्छा लगा तो कृपया इसे लाइक करें और इस अद्भुत सफर का वीडियो देखने के लिए आप हमारा कटरा से श्रीनगर के सफर का व्लॉग भी देख सकते हैं और कश्मीर और वैष्णो देवी के हमारे अन्य व्लॉग देखने के लिए आप हमारे YouTube चैनल WE and IHANA पर भी नीचे दिए गए लिंक के द्वारा जा सकते हैं।

YouTube चैनल लिंक:

https://youtube.com/c/WEandIHANA

साथ ही हमारी कश्मीर यात्रा के अन्य लेखों के लिए हमसे Tripoto पर जुड़े रहें।

क्या आपने हाल में कोई की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

More By This Author

Further Reads