महाराष्ट्र की इस खूबसूरत फ्लावर वैली में असंख्य पवन चक्कियां देखकर होश उड़ जायेंगे!

Tripoto
Photo of महाराष्ट्र की इस खूबसूरत फ्लावर वैली में असंख्य पवन चक्कियां देखकर होश उड़ जायेंगे! by WE and IHANA

महाराष्ट्र में खास तौर पर मानसून के समय दिखने वाले खूबसूरत पश्चिमी घाटों की अद्भुत सुंदरता के किस्से तो आपने सुने ही होंगे और साथ ही आप में से बहुत से लोगों ने ये नज़ारा अपनी आँखों से भी देखा होगा। अगर नहीं देखा है तो इन शानदार नज़ारों का अनुभव आप जितना जल्दी कर लें उतना ही अच्छा रहेगा। लेकिन इन घनी हरियाली से भरे ऊँचे-ऊँचे पहाड़ों के ऊपर जरा सोचिये एक बेहद विशाल सपाट मैदान हो जो दूर-दूर तक अनेक प्रकार के असंख्य फूलों से सजा हो और इस अद्भुत नज़ारे के साथ ही चलते हुए सैंकड़ों विशाल पंखे किसी रोमांटिक मूवी के एक परफेक्ट सेट-अप सा नज़ारा बना रहे हों, तो बताइये जाना चाहेंगे आप ऐसी जगह? अगर हाँ तो चलिए बताते हैं आपको इस शानदार जगह के बारे में...

चालकेवाड़ी विंडमिल फार्म्स

महाराष्ट्र का सतारा जिला महाबलेश्वर जैसे खूबसूरत और लोकप्रिय हिल स्टेशन के लिए जाना जाता है। सतारा जिले में ही स्थित सतारा सिटी से करीब 30 किलोमीटर दूर एशिया के सबसे बड़े पवन चक्कियों के पार्क में से एक है जहाँ करीब 1500 से अधिक पवन चक्कियां (विंड-मिल) लगी हुई हैं जिनकी ऊंचाई करीब 15 मंजिला ईमारत जितनी होगी। यह विंडमिल फार्म करीब 5 किलोमीटर क्षेत्र में एक पठार पर मौजूद है जहाँ से चारों ओर का नज़ारा भी बेहद खूबसूरत दिखाई देता है। इसके साथ ही इस पठार पर आपको असंख्य अनेक प्रकार के और अलग-अलग रंगों के फूल भी दिखाई देंगे जिनके साथ यह दृश्य वाकई किसी फ़िल्मी सीन जैसा दिखने वाला है। हरी-भरी पहाड़ियों, रंग बिरंगे फूलों, घाटियों और लाल मिट्टी के बीच ये पवन चक्कियाँ एक सुंदर दृश्य पेश करती हैं जिसे देखने आपको जरूर जाना चाहिए।

कैसे पहुंचे?

अगर आप महाराष्ट्र के सतारा जिले में मौजूद लोकप्रिय झरने ठोसेघर वॉटरफॉल जा रहे हैं या फिर इसके बारे में जानते हैं तो वहां से चालकेवाड़ी पठार सिर्फ 6 किलोमीटर दूर है जहाँ आप ठोसेघर-चालकेवाड़ी रोड पर चलते हुए आसानी से पहुँच जायेंगे। इसके अलावा अगर आप पुणे या फिर किसी अन्य शहर से आना चाहते हैं तो पहले आप सतारा पहुँच सकते हैं जिसके लिए आप ट्रैन या बस वगैरह से भी आ सकते हैं या फिर खुद के वाहन या टैक्सी वगैरह से भी। फिर सतारा पहुंचकर आप ठोसेघर रोड से पहले ठोसेघर होते हुए चालकेवाड़ी विंडमिल तक आसानी से किसी टैक्सी वगैरह से पहुँच सकते हैं। अगर आपके पास समय है तो ठोसेघर झरने को देखना बिलकुल भी मिस ना करें।

सतारा शहर से चालकेवाड़ी

Photo of महाराष्ट्र की इस खूबसूरत फ्लावर वैली में असंख्य पवन चक्कियां देखकर होश उड़ जायेंगे! by WE and IHANA

टिकट और प्रवेश समय और अन्य सावधानियां

आपको बता दें कि चालकेवाड़ी पवनचक्की फार्म में प्रवेश के लिए आपको किसी टिकट वगैरह कि जरुरत नहीं पड़ेगी और साथ ही यहाँ आप किसी भी समय बिना किसी परेशानी के जा सकते हैं। हालाँकि ठोसेघर वॉटरफॉल से विंडमिल तक सड़क कि स्थिति कहीं-कहीं पर बेहद खराब मिल सकती है इसलिए आते जाते समय अँधेरा ना हो इसका आप ध्यान जरूर रखें। साथ ही आपको बता दें कि यहाँ आस-पास आपको कुछ खाने पीने कि दुकाने वगैरह नहीं मिलेगी तो अपने साथ जलपान कि व्यवस्था जरूर रखें।

जाने के लिए बेस्ट समय

अगर आपको घनी हरियाली और अनगिनत सुन्दर फूलों के बीच इन पवन चक्कियों को देखना है तो मानसून से बेहतर समय कुछ नहीं जब इस मौसम में यहाँ पड़ने वाली धुंध भी चालकेवाड़ी पवनचक्की फार्म को एक बहुत ही मनोरम स्थान बनाने में अपना बखूबी योगदान देती है। साथ ही इस समय ठोसेघर वॉटरफॉल का नज़ारा भी बेहद अद्भुत नज़र आएगा। इसके अलावा वैसे तो आप साल में किसी भी समय इस स्थान का दौरा कर ही सकते हैं।

तो अगर आप महाराष्ट्र के सतारा जिले में महाबलेश्वर और कास पठार जैसे लोकप्रिय पर्यटन स्थलों पर घूमने जा रहे हैं तो इस छिपी हुए खूबसूरत जगह जाना बिलकुल भी मिस मत कर देना। इसके लिए जितनी भी जानकारी हमारे पास थी उसे हमने आपसे साझा करने की इस लेख में कोशिश की है। अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया तो प्लीज इसे लाइक करें और ऐसी ही और जानकारियों के लिए आप हमें फॉलो भी कर सकते हैं।

और ऐसी बहुत सी अन्य जगहों के वीडियो देखने के लिए आप हमें यूट्यूब और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। जिसके लिए आप हमारे यूट्यूब चैनल WE and IHANA पर या फिर हमारे इंस्टाग्राम अकाउंट @weandihana पर जा सकते हैं।

क्या आपने हाल में कोई की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।