पश्चिम बंगाल की बेहद खूबसूरत और कमाल की जगह, जानिए क्या है ख़ास

Tripoto
Photo of पश्चिम बंगाल की बेहद खूबसूरत और कमाल की जगह, जानिए क्या है ख़ास by Musafir Rishabh

पश्चिम बंगाल अपनी अनोखी संस्कृति और कला के लिए जाना चाहता है। इसी पश्चिम बंगाल में कई जगहें ऐसी हैं जो कुदरत का अनमोल नगीना है। वैसे तो पश्चिम बंगाल की ऐसी कई खूबसूरत जगहें हैं जो बहुत फेमस हैं। कुछ जगहें ऐसी भी हैं जो सुंदरता में कम नहीं हैं लेकिन कम ही लोगों को उस बारे में पता है। पश्चिम बंगाल की ऐसी ही जगह है, मुकुटमणिपुर।

Photo of पश्चिम बंगाल की बेहद खूबसूरत और कमाल की जगह, जानिए क्या है ख़ास by Musafir Rishabh

मुकुटमणिपुर पश्चिम बंगाल की एक शानदार जगह है। इसे अपने बांध के लिए भी जाना जाता है। ये डैम बाकुंडा से 55 किमी. की दूरी पर कुमारी और कंगसाबती नदी के संगम पर स्थित है। पहाड़ और हरे-भरे जंगलों से घिरा मुकुटमणिपुर बेहद खूबसूरत जगह है। बांध पर बना जलाशय देखने लायक है। वीकेंड पर अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ वक्त बिताने के लिए परफेक्ट जगह है।

क्यों जाएं मुकुटमणिपुर?

अगर आप शहर की व्यस्त जिंदगी से तंग आ गए हैं तो सुकून के कुछ पल बिताने के लिए यहाँ आ सकते हैं। प्रकृति प्रेमियों और फोटोग्राफी का शौक रखने वालों के लिए मुकुटमणिपुर एक शानदार जगह है। मुकुटमणिपुर में जलाशय के अलावा जैन तीर्थ स्थल, अंबिकानगर, कंगसाबती बांध और बोटिंग का भी मजा उठा सकते हैं।

क्या देखें?

1- मुकुटमणिपुर जलाशय

कुमारी और सांगती नदी पर बना मुकुटमणिपुर बांध वाकई में देखने लायक है। बांध की वजह से दूर-दूर तक आपको पानी ही पानी दिखाई देगा। पहाड़ और हरे-भरे जंगलों से घिरे इस जलाशय का नजारा बेहद सुंदर दिखाई देता है। सूर्यास्त के समय ये जगह और भी खूबसूरत लगती है। शांति और सुकून में वक्त बिताने के लिए मुकुटमणिपुर जलाशय अच्छी जगह है।

2- झिलीमिली जंगल

मुकुटमणिपुर अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है। मुकुटमणिपुर से 35 किमी. की दूरी पर झिलीमिली जंगल है। जब आप इस रास्ते से गुजरेंगे तो सड़क के दोनों तरफ आपको खूबसूरत और जंगल दिखाई देगा। सर्दियों और मानसून के समय ये जगह और भी खूबसूरत हो जाती है। इस जंगल में आपको हाथी देखने को मिल सकते हैं। प्रकृति प्रेमियों के लिए ये जगह किसी जन्नत से कम नहीं है।

3- तलबेरिया लेक

कहा जाता है कि जिस जगह पर नदी या झील होती है वो जगह बेहद खूबसूरत होती है। मुकुटमणिपुर में नदी भी है और लेक भी है। आप मुकुटमणिपुर में तलबेरिया लेक को देख सकते हैं। ये खूबसूरत झील आपका मन मोह लेगी। जंगल से घिरी होने की वजह से लेक और भी सुंदर लगती है। आप यहाँ घंटों झील और जंगलों के नजारों को देख सकते हैं।

4- अंबिकानगर मंदिर

Photo of पश्चिम बंगाल की बेहद खूबसूरत और कमाल की जगह, जानिए क्या है ख़ास by Musafir Rishabh

मुकुटमणिपुर के पास में ही एक छोटा-सा गाँव है, अंबिकानगर। इस गाँव में 700 साल पुराना मंदिर है। इस मंदिर को अंबिकानगर मंदिर के नाम से जाना जाता है। मंदिर में मां दुर्गा की मूर्ति स्थापित है। स्थानीय लोगों के लिए अंबिकानगर मंदिर बेहद पवित्र जगह है। कहा जाता है कि 1 व्यक्ति के सपने में मां अंबिका आईं और मंदिर बनाने का आदेश दिया। जिसके बाद अंबिकानगर गाँव में मंदिर बनाया गया। आप भी इस मंदिर को देख सकते हैं।

5- सूर्योदय और सूर्यास्त

मुकुटमणिपुर में आपको सबसे खूबूसरत नजारा सूर्योदय और सूर्यास्त के समय देखने को मिलेगा। शाम के समय जब सनसेट होता है तो पानी पूरा लाल दिखाई देना लगता है और आसमान में लालिमा छा जाती है। ऐसा शानदार नजारा आपको कहीं और नहीं मिलेगा। सनसेट की तरह सनराइज भी बेहद खूबसूरत होता है जिसे देखा जाना चाहिए।

कब जाएं?

गर्मियों के दौरान मुकुटमणिपुर में झुलसा देने वाली गर्मी पड़ती है। अगर आप मुकुटमणिपुर आना चाहते हैं तो मानसून और सर्दियों मे प्लान बनाएं। सर्दियों में मुकुटमणिपुर जाने का सबसे बेस्ट टाइम दिसंबर से मार्च तक का माना जाता है। उस दौरान मुकुटमणिपुर का मौसम भी सुहाना होगा और घूमते हुए अच्छा लगेगा।

कैसे पहुँचे?

अगर आप हवाई मार्ग से मुकुटमणिपुर जाने का सोच रहे हैं तो सबसे निकटतम हवाई अड्डा कोलकाता का दमदम एयरपोर्ट है। कोलकाता एयरपोर्ट से मुकुटमणिपुर 265 किमी. की दूरी पर है। आप बस या टैक्सी से अपने गंतव्य तक पहुँच सकते हैं।

रेल मार्ग से जाने के लिए सबसे नजदीक में बाकुंडा रेलवे स्टेशन है। बाकुंडा से मुकुटमणिपुर 55 किमी. की दूरी पर है। आप सड़क मार्ग से भी आराम से मुकुटमणिपुर पहुँच सकते हैं। पश्चिम बंगाल का मुकुटमणिपुर घूमने वालों के लिए किसी नगीने से कम नहीं है।

क्या आपने पश्चिम बंगाल के मुकुटमणिपुर की यात्रा की है? अपने अनुभव को शेयर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

बांग्ला और गुजराती में सफ़रनामे पढ़ने और साझा करने के लिए Tripoto বাংলা और Tripoto ગુજરાતી फॉलो करें।

रोज़ाना Telegram पर यात्रा की प्रेरणा के लिए यहाँ क्लिक करें।