सितंबर घूमने के लिए बेस्ट है! इन 10 जगहों पर जरूर जाएं

Tripoto
Photo of सितंबर घूमने के लिए बेस्ट है! इन 10 जगहों पर जरूर जाएं by Rishabh Dev

घूमने का शौक हर किसी को होता है। बस एक वजह चाहिए होती है एक नये सफर पर निकलने की। सितंबर में घूमने की वजह हम दे देते हैं। सितंबर वो महीना है जब मानसून पूरे भारत में पहुंच चुका होता है। इस समय न ज्यादा गर्मी होती है और न ही ज्यादा उमस। बहुत सारे लोगों को ये गलतफहमी है कि सितंबर में घूमने नहीं जाना चाहिए क्योंकि इस समय बारिश खलल पैदा कर सकती है। यही वजह है सितंबर में टूरिस्ट प्लेस पर बहुत कम लोग मिलेंगे। इन लोगों को पता नहीं है कि देश में कुछ जगहें ऐसी हैं जो इस मौसम में देखने लायक हैं।

1. जीरो

अरुणाचल प्रदेश का जीरो एक वल्र्ड हेरीटेज साइट है। जो शांति और सुकून में कुछ दिन बिताना चाहते हैं तो ये जगह उनके लिए परफेक्ट है। सिंतबर के इस खुशनुमे मौसम में जीरो का मिजाज तो कुछ अलग ही सुहावना हो जाता है। ये जगह हर किसी के लिए जन्नत से कम नहीं है। यहां पहाड़ हैं, हरियाली है, मन मोहने वाले नजारे हैं। इसके अलावा यहां की संस्कृति को जानने और समझने का मौका मिलता है। आप यहां इस महीने में होने वाले फेस्टिवल को देख सकते हैं। धान के खेतों के आकर्षण में खो सकते हैं। आप यहां पर आएं तो आसपास की जगहों पर भी जरूर जाएं। यहां पास में ही टैली घाटी फाॅरेस्ट वाइल्ड लाइफ है, मेघना गुफा मंदिर और सिद्धेश्वर नाथ मंदिर है। इसके अलावा आप यहां के फेमस व्यू प्वाइंट से पूरे जीरो का शानदार और खूबसूरत नजारे को देख सकते हैं।

2. लाचेन

लाचेन सिक्किम का एक छोटा-सा खूबसूरत कस्बा है। अगर आप रोमांचक डेस्टिनेशन पर आना चाहते हैं तो लाचेन जरूर आना चाहिए। यहां की सैर आपको पूरी तरह से रोमांचित कर देगी। लाचेन एक शानदार जगह है, जो चारों तरफ से बर्फीली पहाड़ी घाटियों से घिरा हुआ है। सितंबर में लाचेन बहुत सारे लोग आते हैं लेकिन अभी भी बहुत लोगों को इस जगह के बारे में नहीं पता है। सितंबर में कुछ नया अनुभव करने के लिए ये जगह सही रहेगी। यहां आने का प्लान आप अपने दोस्तों या परिवार के साथ बना सकते हैं। यहां की प्राकृतिक खूबसूरती टूरिस्टों को आकर्षित करती है। यहां जब आप सैर करेंगे तब आप अनुभव कर पाएंगे कि ये जगह कितनी खूबसूरत और शांति से भरी हुई है। आप लाचेन में थांगु घाटी, चोपता घाटी, लाचेन मठ और गुरुडोंगमर लेक को जरूर देखें।

3. डूवर्स

सितंबर में जिस जगह पर आपको जाना चाहिए उसमें एक है पश्चिम बंगाल का डूवर्स। डूवर्स शब्द की उत्पत्ति डोर से हुई है। जिसका हिंदी में मतलब है, दरवाजा। डूवर्स, एक खूबसूरत और अनछुई जगह है। जिसे पूर्वोत्तर भारत का प्रवेशद्वार भी कहा जाता है। ये जगह अपनी समृद्ध बायोडायवर्सिटी और जंगलों के लिए भी फेमस है। आपको दूर-दूर तक जंगल ही जंगल नजर आएंगे। इसी वजह से यहां हरियाली बहुत है। यहां आप अपने वीकेंड को आराम से गुजार सकते हैं। ये जगह प्रकृति प्रेमियों से लेकर एडवेंचर के शौकीनों के लिए खास माना जाता है। गोरुमारा नेशनल पार्क, बक्सा टाइगर रिजर्व, जलदापाड़ा वाइल्ड लाइफ यहां के खास टूरिस्ट आकर्षणों में गिने जाते हैं।

4. लोनावाला

दो बेहतरीन जगहें लोनावाला और खंडाला मुंबई वालों के लिए जानी-मानी जगहें हैं। उन्हें ही ये पता है कि सितंबर में लोनावाला कितना खूबसूरत हो जाता है। मुंबई वाले तो अपना वीकेंड मनाने वहीं जाते हैं। इस समय जो मौसम होता है उससे यहां के पहाड़ हरे-भरे लगने लगते हैं। टूरिस्ट इस नजारे को एंजाय करने के लिए मुुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर रोड ट्रिप करते हैं। यहां के मनमोहक वातावरण, पहाड़ों के नजारे और हरियाली के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। ड्यूक्स नोज पहाड़ की चोटी से खंडाला और भोर घाट के सुन्दर नजारों का आनन्द लिया जा सकता है। आप यहां ट्रेकिंग और कैंपिंग जैसे एडवेंचर का भी मजा ले सकते हैं।

5. नीमराणा

अपनी भव्यता और सुंदरता के लिए राजस्थान जाना जाता है। राजस्थान का नीमराणा भी अपने में वैसी ही भव्यता को बनाये हुए है। सितंबर और अक्टूबर में ज्यादातर टूरिस्ट राजस्थान जाते हैं। लोग दिल्ली से जोधपुर, जयपुर और उदयपुर जाते हैं लेकिन दिल्ली के बगल पर खूबसूरत नीमराणा पर कम ध्यान देते हैं। राजस्थान के नीमराणा में आपको उतनी ही भव्यता देखने को मिलेगी जितने कि राजस्थान के बाकी शहरों में। नीमराणा, राजस्थान के चुनिंदा सबसे खास टूरिस्टों में आता है, जहां भारी संख्या में विदेशी पर्यटक भी आते हैं। वीकेंड पर आप दिल्ली से यहां बड़े आराम से आ सकते हैं। आप यहां नीमराणा फोर्ट, बावड़ी, केसरोली फोर्ट, पांडुपोल, विराटनगर जैसे जगहों को देख सकते हैं।

6. कुन्नूर

कुन्नूर, तमिलनाडु के सबसे हरे-भरे पहाड़ों के लिए फेमस है। जो नीलगिरी जिले में स्थित है। यहां की हरियाली और मनमोहक जगह हर किसी को बरबस ही खींच लाते है। ये जगह हरी-भरी है जो आपका मन मोह लेगी। ये जगह यहां के जंगली फूलों और पक्षियों की विविधताओं के लिए भी जानी जाती है। यहां शानदार नजारों के अलावा आप ट्रैकिंग भी कर सकते हैं। इन सबसे ज्यादा मजा यहां हरियाली के बीच सैर का है। चलते-चलते आप कुन्नूर को अच्छे से देख पाएंगे। सितंबर में कुन्नून और भी खूबसूरत होता है तब आपको यहां की खूबसूरती देखने जरूर आना चाहिए।

7. शिलांग

मेघालय का शिलांग सितंबर में जाने के लिए बहुत अच्छी जगह है। शिलांग वो जगह है जहां रोड़ ट्रिप की जानी चाहिए। मेघालय का सबसे खूबसूरत जगहांें में से एक है शिलांग। चारों तरफ पहाड़ ही पहाड़ हैं। शिलांग ऐसी जगह है जहां ज्यादा पैदल नहीं चलना होता। शिलांग की बेहतरीन सुविधाएं, मनोरम दृश्य, खुशहाल लोग, चारों तरफ तैरते बादल और लंबे पाइन के पेड़, घाटियां सब कुछ इस जगह को शानदार बनाता है। इस जगह पर आने के बाद आप हर जगह को भूल जाएंगे। अगर आप सितंबर का प्लान बना रहे हैं तो शिलांग का ही बना लीजिए।

8. अमृतसर

अमृतसर पंजाब का सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र शहर। पवित्र इसलिए माना जाता है क्योंकि सिक्खों का सबसे बड़ा गुरूद्वारा स्वर्ण मंदिर अमृतसर में ही है। ताजमहल के बाद सबसे ज्यादा लोग अमृतसर के गोल्डन टेंपल को ही देखने जाते हैं। अमृतसर भी खूबसूरत शहर है इस जगह पर भी आप अपने सितंबर को खुशनुमा बना सकते हैं। यहां आप गोल्डन टेंपल के अलावा जालियांवाला बाग और बाघा बाॅर्डर जा सकते हैं। सबसे बड़ी बात अमृतसर के स्ट्रीट फूड के आगे सब फीके हैं। आप इस शहर को सुबह और शाम में अलग-अलग पाएंगे। यही तो खूबसूूरती है इस शहर की। इसलिए आपको भी इस शहर को करीब से देख ही लेना चाहिए।

9. नैनीताल

वैसे तो उत्तराखंड की कोई जगह नहीं है जो देखने लायक न हो, जो खूबसूरत न हो। लेकिन जब सितंबर की बात आती है तो नैनीताल के अलावा और कोई नाम हो ही नहीं सकता। इस समय नैनीताल अपनी फिजाओं में होता है, रूहानी इसकर आबोहवा में आ जाती है। आज भी नैनीताल में सबसे अधिक ताल हैं। इसे भारत का लेक डिस्ट्रिक्ट कहा जाता है क्योंकि ये पूरी जगह झीलों से घिरी हुई है। ‘नैनी’ शब्द का अर्थ है, आंखें और ‘ताल’ का अर्थ है झील। झीलों का शहर नैनीताल उत्तराखंड के सबसे फेमस जगहों में से एक है। टूरिस्ट यहां गर्मियों में खूब आते हैं लेकिन यहां आने का बेस्ट समय सितंबर ही है।

10. स्पीति

स्पीति, पहाड़ों से घिरी एक प्यारी और खूबसूरत घाटी है। जो कई रहस्यों से भरी हुई है। ये जगह देश के सबसे कम आबादी वाले क्षेत्रों में से एक है। इस जगह पर अभी ज्यादा लोग नहीं आते हैं, इस वजह से यहां की वास्तिवकता अभी बनी हुई है। उत्तर भारत में सितंबर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है, स्पीति। फिरोजा-ग्रे स्पीति नदी, घाटी के ईंट-मिट्टी के घरों, हरे-भरे खेतों और घाटी के चारों ओर बिखरे हुए मठ नये लोगों के लिए एक आकर्षण है। इसलिए इस जगह पर आपको जरूर आना चाहिए।

Be the first one to comment

Further Reads