वाराणसी के सर्वश्रेष्ठ स्ट्रीट फूड जॉइंट जो गूगल पर आपको नहीं मिलेंगे

Tripoto
Photo of वाराणसी के सर्वश्रेष्ठ स्ट्रीट फूड जॉइंट जो गूगल पर आपको नहीं मिलेंगे by Adete Dahiya

स्थानीय भोजन शायद पहला फ़िल्टर है जिसका इस्तेमाल मैं किसी स्थान का पता लगाने के लिए करती हूँ। आपको बता दूँ कि मैं खाने के मामले में पागल हूँ। जब भी मैं एक यात्रा की योजना बना रही होती हूँ, कैफे, रेस्तरां और स्ट्रीटफूड पहली चीजें हैं जिनके बारे में पता लगाती हूँ। और मेरा ट्रैवेल प्रोग्राम इन स्थानों के चारों ओर घूमता है।

स्वाभाविक रूप से, मैंने अपनी वाराणसी की यात्रा के लिए यही किया था। और चूंकि मैं स्ट्रीटफूड की दीवानी हूँ मैंने उसे ढूँढना शुरू कर दिया। लेकिन ऑनलाइन घंटों खर्च करने के बावजूद मैं बहुत कम स्ट्रीट फ़ूड ओप्तिओंस ही ढूंढ पायी। मुझे लगा कि मुझे इंटरनेट की दुनिया से बाहर निकल कर ख़ुद से ही चीज़ें तलाशनी चाहिए।

मेरी फ़ूड जर्नी पहले दिन से ही शुरू हुई और मैंने 24 घंटों के भीतर कई कैफे खोज लिए। दूसरे दिन की सुबह से मैंने पैदल ही शहर के छुपे ज़ायके की खोजबीन चालू की।

स्थानीय खाने की तलाश करते समय, मैंने कुछ चीजें देखीं जो हमें बेस्ट (पर अनदेखे) फ़ूड जॉइंट्स ढूँढ़ने में मदद करती हैं। ये आमतौर पर इंटरनेट पर नहीं दिखाई देते क्योंकि इंटरनेट और इंस्टाग्राम का इस्तेमाल करने वाले कम ही लोग यहाँ जाते हैं।

मैं अपने सुझावों को आपके साथ बाँटूँगी और फिर उन स्थानों के बारे में भी बात करुँगी जिन पर हमने खाया था। इनमें से अधिकतर के नाम भी नहीं हैं क्योंकि वे सड़क पर के ठेले थे। लेकिन मैं उनकी जगह के बारे में बताऊँगी ताकि आप उन्हें आसानी से ढूँढ सकें अगर आप वाराणसी में हैं।

यहाँ इंटरनेट के बिना सर्वश्रेष्ठ फ़ूड जॉइंट्स (कहीं भी) कैसे ढूँढें

1. स्थानीय लोगों से बात करें: सड़कों पर रिक्शा-पुलर, होटल के कर्मचारियों, छोटे-दुकान मालिकों और यहां तक कि स्थानीय लोगों के साथ बात करें। वाराणसी में हर एक बढ़िया जगह हमने इसी तरह से ढूँढी। अगर आप दूसरे पर्यटकों और टूर गाइड से पूछेंगे तो वे आपसे अधिकतर पर्यटक स्थानों की सिफारिश करेंगे जहाँ पे आपको उस जगह का असली स्वाद नहीं मिल पायेगा क्योंकि ये स्थान खाने को डिमांड के अनुसार ऐसा बनाते हैं की वो ज़्यादा लोगों को पसंद आये और इसलिए आपको पूरी तरह से देसी स्वाद नहीं का पता नहीं लगेगा।

2. जहाँ स्थानीय लोग खाते हैं: स्थानीय लोगों के खाने के बारे में पता लगाने के बाद इनको तौलने के लिए ऐसी जगहों पर खाएँ जहाँ आपको स्थानीय लोगों की सबसे बड़ी भीड़ मिलती है। आप जिस भी स्थान पर जाते हैं आपको आसानी से वहाँ टूरिस्ट्स के लिए क्या है और बिना टूरिस्ट्स से प्रभावित हुए क्या है यह पता लग जाएगा। जो स्थान टूरिस्ट्स से बिना प्रभावित हुए पारम्परिक तरीकों से खाना बना रहे होंगे वहाँ पर आपको असल स्वाद मिलेगा। और यदि आमतौर पर ऐसी जगह में बड़ी भीड़ होती है तो इसका मतलब है कि भोजन ताज़ा है और लगातार तैयार होता है जिससे बीमार होने की संभावना कम हो जाती है।

3. चारों ओर चलो: यदि आप अपनी कार या सार्वजनिक परिवहन के किसी रूप में किसी स्थान की खोज करना समाप्त कर देते हैं, तो आप कभी भी लेन और बाय-लेन में नहीं आते हैं जो आमतौर पर स्थानीय भोजनालयों के लिए हॉटस्पॉट होते हैं। चलने से आप एक जगह को और अधिक पूरी तरह से खोज सकते हैं। हमने एक ऐसे छोटे गली में हमारे पसंदीदा नाश्ते की जगह खोज ली और यह आश्चर्यजनक था।

4. अपनी आँखें और नाक खुली रखें: अब यह एक बहुत ही स्पष्ट बिंदु की तरह लगता है, लेकिन कभी-कभी एक चीज को आजमाने के लिए, आप आस-पास के कई अन्य अनुभवों को याद कर सकते हैं। वाराणसी में सही नाश्ते की तलाश में हम इस छोटी सी स्टॉल पर तले हुए इडली खा रहे थे जब हमने मिट्टी के बर्तनों में चाय बेचने वाली एक और स्टॉल को सड़क पर देखा। कई स्थानीय लोग चाय के लिए लाइन में इंतजार कर रहे थे। हम तुरंत समझ गए कि यह वह जगह है जहाँ हपर हमें सुबह की चाय पीनी चाहिए और यह एक अच्छा निर्णय था।

मेरे अनुसार वाराणसी में सबसे अच्छा खाना

1. पुरी, सब्जी और जलेबी: गोडोवाली-लक्सा रोड (अवनी जनरल स्टोर के विपरीत) में एक मोड़ पर स्थित एक छोटी सी हाथ-गाड़ी थी जहाँ हमें दिन का पहला भोजन मिला। जब हम पहुँचे तो यह स्थानीय लोगों से भरा हुआ था जो वाराणसी के सुबह के नाश्ते का जयका ले रहे थे।ज़ोस्टेल के अच्छे मैनेजर, राज द्वारा सुझाए गए इस जगह पर हमें खुशी है कि हम आए थे।

Photo of Ramapura Luxa Road, Ramapura Luxa, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya
Photo of Ramapura Luxa Road, Ramapura Luxa, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya

2. फ्राइड इडली: हमारी सूची में अगला आइटम फ्राइड इडली था। वाराणसी में दक्षिण-भारतीय नाश्ते (डोसा, इडली और वड़ा) की एक बहुत लोकप्रिय संस्कृति है। अधिकांश स्टॉल एक ही तरह के व्यंजन परोसते हैं लेकिन चूंकि प्रत्येक स्टाल अलग लोगों द्वारा व्यक्तिगत रूप से चलाया जाता है इसलिए स्वाद बदलता रहता है। हम सोनारपुरा क्रॉसिंग, शिवला में एक छोटी रिक्शा-स्टॉल पर गए जहाँ एक वृद्ध कपल यादव चाय प्वाइंट के बगल में इस छोटी, अनजान स्टॉल को संचालित करता है (जहाँ हमें हमारी सुबह की चाई मिलती है)।

Photo of Sonarpura Crossing ( Four Way ), Pitambarpura Road, Sonarpura, Bhelupur, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya
Photo of Sonarpura Crossing ( Four Way ), Pitambarpura Road, Sonarpura, Bhelupur, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya

3. कचौरी भाजी: वाराणसी में एक और बेहद लोकप्रिय नाश्ते का सामानकचौरी-भाजी, पुरी-भाजी (जिसे कभी-कभी कचौरी भी कहा जाता है) से अलग है। एक बार फिर, हमें यह स्थान बांसफाटक रोड पर जयपुरिया भवन के बगल में एक उप-लेन में स्थानीय लोगों द्वारा बताया गया। यदि आप गोदोलिया चौक से आ रहे हैं तो यह बाईं ओर पहला कट है। कचौरी भाजी के ताजा स्टॉक के साथ एक छोटा हाथ-रिक्शा स्टॉल हर सुबह यहाँ बेचता है। आपको समय पर यहां पहुंचने की ज़रूरत है क्योंकि ये फटाफट बिक जाता है।

Photo of Hotel Jaipuria, Awadhpuri, Shivala, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya
Photo of Hotel Jaipuria, Awadhpuri, Shivala, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya

4. चाट: चाट शायद बनारस में सबसे प्रसिद्ध स्ट्रीट फ़ूड है। और जबकि मैं दीना चाट भंडार के पलक चाट से प्यार करती हूँ, अगर आप घाट पर बैठे समय के लिए एक शानदार विकल्प की तलाश में हैं तो भोकल चाट आपकी इच्छा पूरी कर सकता है।अस्सी घाट पर स्थित यह छोटा स्टॉल आपकी नाक को यह बता देता कि किस दिशा में चलना है। मुझे वास्तव में यहाँ की आलू टिक्की बहुत पसंद आई।

Photo of Bhokal Chat, Shivala, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya
Photo of Bhokal Chat, Shivala, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya

5. भांग लस्सी: वाराणसी में हर कोने पर एक लस्सी की दुकान है और गूगल तुरंत सबसे लोकप्रिय जगहों (पर्यटक संस्करण) की सूची देगी। हालांकि, वे सभी अच्छे नहीं हैं और वे भांग के अलावा अन्य कारणों से लोकप्रिय हैं। कुछ विकल्पों को ट्राई करने के बाद मैंने पाया कि ग्रीन लस्सी में भांग ठंढाई सबसे अच्छा और सबसे प्रभावी था। अगर आप फ्लेवर्ड लस्सी की तलाश नहीं कर रहे हैं तो ब्लू लस्सी पर न जाएँ, यह अनावश्यक महँगा है।

Photo of Green Lassi, Anandbagh, Bhelupur, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya

6. पान: वाराणसी की सभी पान दुकानों में से अस्सी चौक वाला मेरा पसंदीदा था। यहाँ सबसे स्वादिष्ट पान था और आप इसे अपने स्वाद के अनुसार बनवा सकते हैं। मैंने मीठा पान खाया जबकि मेरे दोस्त ने सादा पान खाया। हमें होटल लाने के लिए पैक किया गया एक जोड़ा भी मिला। यह वाराणसी में मेरा पहला पान था और मुझे उस क्वालिटी का पान किसी और स्टॉल पर नहीं मिला। यह स्पॉट गुलाबी रंग में चिह्नित है, लेकिन इसका कोई नाम नहीं है।

Photo of Assi ghat, Shivala, Varanasi, Uttar Pradesh, India by Adete Dahiya
Be the first one to comment